बिना हेलमेट बाइक चलाना इस पुलिस ऑफिसर को पड़ा महंगा

By Abhishek Dubey

आजकल ई-गवर्नेंस का दौर है और केंद्र से लेकर राज्य सरकारें इसी दिशा में आगे बढ़ रही है। सरकार की लगभग हर एजेंसियां अब सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर उपलब्ध है। इसमें से ही एक विभाग है पुलिस, जिसने ट्विटर का बखूबि से इस्तेमाल करना सिख लिया है। मुंबई, बैंगलोर और दिल्ली जैसे बड़े शहर की पुलिस तो ट्विटर पर आए कंप्लेन पर एक्टिव थी, लेकिन दिल्ली से ही सटे गुरुग्राम पुलिस ने एक नई मिसाल पेश की है। ट्विटर पर से आए एक कंप्लेन पर उसने अपने ही एक अधिकारी का चालान काट दिया।

बिना हेलमेट बाइक चलाना इस पुलिस ऑफिसर को पड़ा महंगा

दरअसल जब हरमीत नाम के एक शख्स ने देखा कि पुलिस वाला बिना हेलमेट के बाइक पर जा रहा है तो उसने उसकी फोटो खिंचकर गुरुग्राम पुलिस को टैग करते हुए शिकायत कर दी। हरमीत ने ट्विटर पर लिखा कि "अब किससे और क्या शिकायत करें? गुरुग्राम ट्रैफिक पुलिस पेट्रोलिंग पर है और वो भी बिना हेलमेट। "

गुरुग्राम पुलिस ने भी हरमीत को रिप्लाई किया कि हमने आपकी शिकायत का संज्ञान लेते हुए चालान अथॉरिटी को कारवाई के लिए कह दिया है। गुरुग्राम पुलिस ने हरमीत को ट्विटर रिप्लाई में लिखा "सर आपके इनपुट के लिए धन्यवाद। आपकी शिकायत को आगे की कार्रवाई के लिए हमारी चालान शाखा में भेज दिया गया है "।

बिना हेलमेट बाइक चलाना इस पुलिस ऑफिसर को पड़ा महंगा

जब गुरुग्राम पुलिस ने हरमीत को रिप्लाई करके दोषी पुलिस ऑफिसर के चालान की बात कही तो हरमीत ने वापस ट्विट किया और चालान का स्टेटस पुछा। इसपर रिप्लाई करते हुए गुरुग्राम पुसिस ने 200 रुपए चालान की तस्वीर ट्विटर पर पोस्ट की।

बिना हेलमेट बाइक चलाना इस पुलिस ऑफिसर को पड़ा महंगा

ऊपर की घटना से साफ हो जाता है कि टेक्नोलॉजी, सोशल मीडिया ईत्यादि को किस तरह से बेहतर गवर्नेंस के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। इससे जनता का समय भी बचता है और उनके लिए अथॉरिटी तक पहुंचना आसान रहता है। वहीं दुसरी तरह अथॉरिटी और सरकार को रियल टाइम में सही जानकारी मिल जाती है जिससे उसे भी एक्शन लेने में आसानी रहती है।

बिना हेलमेट बाइक चलाना इस पुलिस ऑफिसर को पड़ा महंगा

इसे भी पढ़ें...

Image Courtesy: Twitter / Harmeet Batra

Hindi
English summary
Gurugram Police Sends e-Challan to Police Officer Riding Motorcycle Without Helmet After Twitter Complaint. Read in Hindi.
Story first published: Monday, August 13, 2018, 11:40 [IST]
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more