पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

Written By: Abhishek Dubey

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर आग लगी है। दीन-ब-दिन शहर-दर-शहर पेट्रोल की कीमतें आसमान छूती जा रहीं हैं। शुक्रवार को मुंबई में पेट्रोल की कीमत 81.93 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 69.54 रुपये प्रति लीटर पर पहुंच गई। 2013 के बाद से यह अब तक की सबसे ज्यादा कीमत है।

जानें अपने शहर में पेट्रोल-डीजल की लेटेस्ट कीमतें

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

अन्य मुख्य शहरों कि बात करें तो शुक्रवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 74.08 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 65.31 रुपये प्रति लीटर पहुंच गई। वहीं कोलकाता में पेट्रोल 76.85 रुपये प्रति लीटर और डीजल की कीमत 68.01 रुपये प्रति लीटर पर है।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

गौरतलब हो कि सरकारी तेल कंपनियां पिछले साल जून से रोजाना तेल के दामों को निर्धारित करती है।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

पेट्रोल-डीजल की इन बढ़ती कीमतों के लिए अंतराष्ट्रिय बाजार में कच्चे तेल की बढ़ती कीमतों को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। लेकिन इसके पीछे और भी कई कारण है। जैसे केंद्र सरकार और राज्य सरकारों द्वारा लगाए जाने वाले एक्साइज ड्यूटी और वैट।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

केंद्र सरकार ने पीछले साल सेंट्रल एक्साइज ड्यूटी को 9.48 रुपए प्रतिलीटर से बढ़ाकर 21.48 रुपए प्रति लीटर कर दिया है। सरकार इसमें समय-समय पर इजाफा और कटौती करती रहती है। अक्टूबर 2017 में इसमें दो रुपए प्रति-लीटर की कटौती कर दी गई थी। वहीं डीजल में ड्यूटी में 4 बार से ज्यादा बार इजाफा किया गया और यह 3.56 रुपए प्रति लीटर के स्तर से बढ़कर 17.33 रुपए प्रति लीटर के स्तर पर पहुंच गया। वहीं अक्टूबर 2017 में इसमें भी 2 रुपए प्रति लीटर की कटौती हुई और इसी के साथ यह 15.33 रुपए प्रति लीटर की दर पर आ गया।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

पेट्रोल की कीमत में वैट भी शामिल होता है, जो कि अलग अलग राज्यों में अलग अलग हो सकता है। देश के करीब 26 राज्यों में यह दर 25 फीसद की है। राज्य के रेवेन्यू में इस पेट्रोल वैट का बहुत बड़ा हिस्सा होता है।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

बता दें कि डीजल की रिटेल सेलिंग प्राइज में 44.6 फीसद हिस्सा टैक्स का होता है। वहीं पेट्रोल की रिटेल सेलिंग प्राइज में 51.6 फीसद हिस्सा टैक्स का होता है। यही कारण है कि तमाम राज्य और केंद्र सरकारें पेट्रोल-डीजल की कीमतों को जीएसटी के दायरे में लाए जाने का विरोध कर रहीं हैं।

पेट्रोल-डीजल की कीमतों में एक बार फिर लगी आग - 2013 के बाद अपने रिकॉर्ड स्तर पर

यदि पेट्रोल-डीजल की कीमतों को जीएसटी के दायरे में लाया जाता है तो इनकी कीमतें धड़ाम से नीचें गीर जाएंगी। उदाहरण के लिए अगर अभी सरकार पेट्रोल की कीमत को जीएसटी के सबसे ऊंचे दर वाले स्लैब (18 फीसदी) में भी रखती है तो इसकी कीमत करीब 50 रुपये लीटर हो जाएगी।

Read more on #auto news #petrol #diesel
English summary
Petrol Price In Mumbai Hits A New High Since 2013 — Selling At Rs 81.93 Per Litre. Read in Hindi.
Story first published: Friday, April 20, 2018, 15:31 [IST]

Latest Photos

 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark