बिना पैसे दिये भराईये पेट्रोल-डीजल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने शुरू की स्कीम

Posted By: Ashwani Tiwari

आज के समय में देश भर में सबसे ज्यादा चर्चा का ​विषय यदि कोई मुद्दा बना हुआ है तो वो पेट्रोल और डीजल की उंची होती कीमत। हर आदमी के माथे पर र्इंंधन की ही चिंता की लकीरें देखी जा रही है। कोई सरकार को कोस रहा है तो कोई बढ़ती महंगाई को। वहीं देश की प्रमुख पेट्रोलियम कंपनी हिंदुस्तान पेट्रोलियम एक नई ​स्कीम लेकर आई है जिसके चलते आपको पेट्रोल पंप पर पैसे देने की भी जरूरत नहीं होगी। जानिए क्या है पूरा मामला -

बिना पैसे दिये भराईये पेट्रोल-डीजल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने शुरू की स्कीम

दरअसल हिंदुस्तान पेट्रोलियम बहुत जल्द ही एक ऐसी योजना की शुरूआत करने जा रही है जिसमें फ्यूल के लिए पेमेंट करने की व्यवस्था ही बदल जायेगी। कंपनी द्वारा प्राप्त जानकारी के अनुसार इस योजना को फॉस्टलेन नाम दिया गया है। आप इस मुगालते में न रहें कि, आपको फ्यूल मुफ्त में मिलेगा या फिर आपको पैसे देने की जरूरत नहीं होगी, भईया सरकार इतनी मेहरबान कभी नहीं हो सकती है।

बिना पैसे दिये भराईये पेट्रोल-डीजल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने शुरू की स्कीम

ये पूरी योजना पेमेंट मैथेड को बदलने का नाम मात्र है। हिंदुस्तान पेट्रोलियम जल्द ही एक नई स्वचालित भुगतान प्रणाली, फास्टलेन पेश करने जा रहा है। इकोनॉमिक टाइम्स के अनुसार, यह नई प्रणाली ग्राहकों को एक संपर्क रहित ईंधन प्रबंधन प्रणाली प्रदान करेगी। इसके लिए हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने एजीएस ट्रांजैक्ट टेक्नोलॉजीज का सहयोग लिया है।

बिना पैसे दिये भराईये पेट्रोल-डीजल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने शुरू की स्कीम

कैसे काम करेगी ये प्रणाली:

दरअसल, फास्टलेन सिस्टम के लिए ईंधन टैंक के इनलेट के पास एक आरएफआईडी (रेडियो फ्रीक्वेंसी पहचान) चिप लगाया जायेगा। इसके अलावा फ्यूल पंप के नोजल में भी एक चिप रीडर लगाया जायेगा। इसके साथ ही आपके स्मार्ट फोन में एक एप के इंस्टॉल किया जायेगा जिसकी सहायता से आपक ईंधन की मात्रा ईंधन के प्रकार यानी की डीजल या फिर पेट्रोल और साथ में ही उसके भुगतान की राशि पहले से ही तय कर सकेंगे। ये सारी प्रक्रिया आपके मोबाइल फोन में इंस्टॉल एप के द्वारा की जायेगी।

बिना पैसे दिये भराईये पेट्रोल-डीजल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने शुरू की स्कीम

पंप पर तेल भराईये और आगे ​बढ़िये:

ज्यादातर देखा जाता है कि, फ्यूल स्टेशन पर पैसे की लेन देन को लेकर खासी मशक्कत करनी होती है जिससे लोगों को देरी का भी सामना करना पड़ता है। लेकिन इस सिस्टम के माध्यम से आप अब फ्यूल स्टेशन पर जायेंगे और ईंधन भरवाने के बाद आप वहां से निकल सकते हैं। फ्यूल भरवाने के दौरान ईंधन टैंक के पास आरएफआईडी चिप स्वचालित रूप से प्री-सेट मात्रा और ईंधन प्रकार को पहचान लेगा। एक बार ईंधन की निर्धारित मात्रा भरने के बाद, चिप पर प्रीपेड राशि के हिसाब से पैसा काट लिया जायेगा। इसके लिए आपको अपने बटुए तक को हाथ लगाने की जरूरत नहीं होगी।

बिना पैसे दिये भराईये पेट्रोल-डीजल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने शुरू की स्कीम

इस प्रणाली से क्या-क्या फायदे होंगे:

हिंदुस्तान पेट्रोलियम द्वारा शुरू किये जाने वाली इस योजना से कई तरह के लाभ हैं। तो आइये बताते हैं कि, आपको किसी प्रकार से लाभ होंगे-

  • ये प्रणाली बिलिंग में धोखाधड़ी आदि के किसी भी तर​ह के मौके को कम कर देता है।
  • किसी भी तरह के ईंधन मिश्रण की संभावना से बचाता है।
  • ग्राहक स्मार्टफोन के ऐप में ईंधन के प्रकार पहले से ही सुनिश्चित कर सकते हैं।
  • इस ऐप की मदद से ग्राहक ईंधन के खर्चों और समय की ट्रैकिंग कर सकते हैं।
बिना पैसे दिये भराईये पेट्रोल-डीजल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम ने शुरू की स्कीम

आपको बता दें कि, एचपीसीएल ने पहले से ही फास्टलेन सिस्टम को मुंबई में 18 आउटलेट में शुरू कर दिया है। वहीं कंपनी को शुरूआत में 35 आउटलेट में इस सुविधा को शुरू करने की उम्मीद है। इसके लिए पेट्रोल पंप में आरएफआईडी रीडर स्टेशन के लिए एक मामूली निवेश करना होगा। कंपनी मुंबई में हर ईंधन स्टेशन में इसे पेश करना चाहता है, फिर देश की राजधानी, नई दिल्ली में भी कंपनी इस सिस्टम के लिए विस्तार करेगी।

English summary
Hindustan Petroleum will soon be introducing a new automated payment system, the Fastlane. this new system will offer a contactless fuel management system to customers. The Oil Corporation, Hindustan Petroleum has collaborated with AGS Transact Technologies to introduce the new system in the country.
Story first published: Monday, June 18, 2018, 12:00 [IST]
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more