Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

स्कूटर रेंटल कंपनी बाउंस अगले महीने अपनी पहली इलेक्ट्रिक स्कूटर लॉन्च करने वाली है। कंपनी की इलेक्ट्रिक स्कूटरों में बैटरी को निकाल कर चार्ज करने की सुविधा दी जाएगी। बैटरी स्वैपिंग की सुविधा और पार्किंग के लिए बाउंस ने Park+ से साझेदारी की है जो बाउंस की इलेक्ट्रिक स्कूटरों को 10 से भी ज्यादा शहरों में 3,500 इलाकों में चार्जिंग और बैटरी स्वैपिंग की सुविधा मुहैया कराएगी।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

यह बैटरी स्वैपिंग स्टेशन शॉपिंग कॉम्प्लेक्स, मॉल और कॉर्पोरेट दफ्तरों के साथ-साथ मेट्रो स्टेशन, पार्किंग जोन और कई महत्वपूर्ण जगहों में उपलब्ध किये जाएंगे। इन स्टेशनों की जानकारी बाउंस ऐप या Park+ के ऐप पर देखी जा सकती है। इन स्टेशनों पर खाली बैटरी को केवल एक मिनट के भीतर बदलकर पूरी तरह चार्ज बैटरी ली जा सकती है।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

बता दें कि बाउंस की पहली इलेक्ट्रिक स्कूटर बाउंस इन्फिनिटी (Bounce Infinity) 2 दिसंबर, 2021 को लॉन्च की जाएगी, और बुकिंग उसी दिन 499 रुपये के टोकन राशि में शुरू होगी। बाउंस ने यह भी बताया है कि नए इन्फिनिटी इलेक्ट्रिक स्कूटर की डिलीवरी अगले साल से शुरू की जाएगी।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

भारतीय बाजार में बाउंस की इलेक्ट्रिक स्कूटर का मुकाबला Ather 450 रेंज, Ola S1, Bajaj Chetak, TVS iQube और Simple One से होगा। कंपनी अपने इलेक्ट्रिक स्कूटर को बिना बैटरी के खरीदने का भी विकल्प उपलब्ध कर रही है। इस विकल्प के तहत ग्राहक बिना बैटरी के स्कूटर खरीद सकेंगे, जिससे यह बेहद किफायती हो जाएगी।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

बाउंस इंफिनिटी की बैटरी को सब्सक्रिप्शन के आधार पर बैटरी स्वैपिंग नेटवर्क पर उपलब्ध किया जाएगा, जहां ग्राहक डिस्चार्ज बैटरी को बदलकर पूरी तरह चार्ज बैटरी ले सकेंगे और इसके लिए उन्हें केवल बैटरी स्वैप करने के शुल्क का भुगतान करना होगा। इस विकल्प से स्कूटर की कीमत लगभग 40% तक कम हो जाएगी।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

बाउंस ने हाल ही में 7 मिलियन डॉलर (लगभग 52 करोड़ रूपए) मूल्य के सौदे में 22Motors में 100% हिस्सेदारी का अधिग्रहण किया है। इस सौदे के एक हिस्से के रूप में, बाउंस ने राजस्थान के भिवाड़ी में 22 मोटर्स के विनिर्माण संयंत्र के साथ-साथ सभी इंटेलेक्चुअल प्राॅपर्टी राइट्स का अधिग्रहण कर लिया है।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

भिवंडी संयंत्र में सालाना लगभग 1,80,000 स्कूटर बनाने की क्षमता है। बाउंस भारत के दक्षिणी हिस्से में एक और प्लांट लगाने की भी योजना बना रहा है। कंपनी अगले एक साल में अपने इलेक्ट्रिक वाहन निर्माण व्यवसाय में 25 मिलियन डॉलर का निवेश करेगी।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

बता दें कि बाउंस ने 2022 तक अपने फ्लीट में शामिल सभी स्कूटरों को इलेक्ट्रिक में बदलने का लक्ष्य रखा है। मौजूदा समय में बाउंस बेंगलुरु और हैदराबाद में अपनी सेवाएं दे रही है। बेंगलुरु में 22,000 और हैदराबाद में 5,000 स्कूटरों के साथ कंपनी राइड बुकिंग सेवाएं प्रदान कर रही है। भविष्य में कंपनी की योजना अन्य बड़े शहरों में सेवाएं शुरू करने की है।

Park+ के चार्जिंग स्टेशन में बदल सकेंगे Bounce स्कूटर की बैटरी, कंपनियों ने की साझेदारी

बाउंस स्कूटर रेंटल प्लेटफॉर्म पर तीन प्रकार के राइड- शार्ट टर्म रेंटल, लॉन्ग टर्म रेंटल और राइड शेयर प्रदान करती है। शार्ट टर्म रेंटल में स्कूटरों को 2-12 घंटों की अवधि के लिए बुक किया जा सकता है। वहीं लॉन्ग टर्म रेंटल में 15-45 दिनों की बुकिंग की जा सकती है। इलेक्ट्रिक स्कूटर के निर्माण में उतरने के बाद बाउंस का सीधा मुकाबला ओला इलेक्ट्रिक, एथर एनर्जी और सिंपल इलेक्ट्रिक स्कूटर्स से होगा।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Bounce partners with park plus for battery swapping and parking details
Story first published: Sunday, November 28, 2021, 7:00 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X