India Tops In Scooter Sharing Services: स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर, जानें

एक रिसर्च में सामने आया है कि स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर है। एक रिपोर्ट में बताया गया है कि दुनिया भर में 1,04,000 स्कूटरों को शेयरिंग में चलाया जाता है। 2019 में इनकी संख्या महज 66,000 हजार थी। कोरोना महामारी के बावजूद शेयरिंग स्कूटर सेक्टर में उपयोगकर्ताओं में लगभग 3.50 लाख की बढ़ोतरी हुई है।

India Tops In Scooter Sharing Services: स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर, जानें

रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत 25,000 शेयरिंग स्कूटरों के साथ पहले स्थान पर है। वहीं, देश में बेंगलुरु और हैदराबाद स्कूटर शेयरिंग सेवाओं के उपयोग में सबसे आगे है। इस रिसर्च में शामिल किये गए 122 शहरों में बार्सिलोना में सबसे अधिक 10 राइड शेयरिंग कंपनियां उपलब्ध हैं।

India Tops In Scooter Sharing Services: स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर, जानें

वहीं, 22,000 स्कूटरों के साथ भारत में बेंगलुरु शहर दुनिया में सबसे अधिक शेयरिंग स्कूटरों के साथ पहले स्थान पर है। शेयरिंग स्कूटरों की संख्या में भारत के बाद 23,050 स्कूटरों के साथ स्पेन दूसरे स्थान पर है। ताइवान में 15,350, इटली में 8,800, जर्मनी में 7,000, अमेरिका में 6,100 और फ्रांस में 5,750 शेयरिंग स्कूटर इस्तेमाल किये जा रहे हैं।

MOST READ: टीवीएस की बिक्री में बीते माह आई 25% की बढ़ोत्तरी, जानें आंकड़े

India Tops In Scooter Sharing Services: स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर, जानें

भारत की बात करें तो, यहां बेंगलुरु 22,000 स्कूटरों के साथ पहले स्थान पर है। ताइपे शहर 10,650 स्कूरों के उपयोग के साथ दूसरे और बार्सिलोना 8900 स्कूटरों के साथ तीसरे स्थान पर जगह बनाई है।

India Tops In Scooter Sharing Services: स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर, जानें

रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि भारत इलेक्ट्रिक मोपेड का इस्तेमाल करने में भी आगे है। भारत इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए इंफ्रास्ट्रक्चर तैयार करने में भी आगे है, साथ ही इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए परियोजनाओं को तैयार करने में भी आगे है, साथ ही यहां इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए अलग नीति भी बनाई गई है।

MOST READ: यामाहा एफजेडएस-एफआई विंटेज एडिशन में हुई लाॅन्च, जानें

India Tops In Scooter Sharing Services: स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर, जानें

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने देश भर के 69,000 पेट्रोल पंप पर इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग स्टेशन बनाने के लिए चिन्हित किया है। देश में चल रहे विभिन्न तेल कंपनियों के फ्रेंचाइजी को एक पेट्रोल पंप पर कम से कम एक चार्जिंग स्टेशन बनाने का निर्देश दिया जा सकता है।

India Tops In Scooter Sharing Services: स्कूटर शेयरिंग सेक्टर में भारत पहले स्थान पर, जानें

नए नियम के अनुसार अब नए पेट्रोल पंप के निर्माण के साथ एक इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन बनाना अनिवार्य होगा। हालांकि, बड़े स्तर पर बदलाव तभी आएगा जब पहले से चल रहे पेट्रोल पंपों पर भी चार्जिंग स्टेशनों का निर्माण कर लिया जाए।

Most Read Articles

Hindi
English summary
India tops in using scooter service details. Read in Hindi.
Story first published: Tuesday, December 1, 2020, 17:52 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X