बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

देश भर में 1 सितंबर से संषोधित मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद पुलिस के द्वारा भारी चालान कटाने के मामले सामने आ रहे हैं। पुलिस यातायात नियम तोड़ने वालों पर भरी जुर्माना लगा रही है।

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

दिल्ली के पास फरीदाबाद से एक ऐसा ही मामला सामने आया है जिसमे पुलिस ने रॉयल एनफील्ड बुलेट के मालिक पर हेलमेट न पहनने और तेज आवाज वाला साइलेंसर लगवाने के कारण बाइक वाले पर 35,000 रुपयें का भारी जुर्माना चस्पा कर दिया। कहा जा रहा है कि उस समय ड्यूटी कर रहे ट्रैफिक पुलिस के कुछ आला अफसरों ने यह जुर्माना लगाया है।

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

उस समय बाइक पर तीन लोग सवार थे और पटाखे की आवाज निकालते हुए बुलेट से तेज रफ्तार में आगे बढ़ रहे थे। लेकिन उन्हें क्या पता था कि रास्ते में ट्रैफिक पुलिस उनका इंतजार कर रही है। पकड़े जाने के बाद पुलिस ने बाइक चालक को कई ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करने के लिए जुर्माना लगाया।

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

चालक बाइक पर ट्रिपल राइडिंग कर रहा था साथ में हेलमेट भी नहीं पहना था जिसके कारण पुलिस ने उसे देखते की पकड़ लिया। जब तफ्तीश की गई तो पता चला कि चालक के पास ड्राइविंग लाइसेंस और बाइक के रजिस्ट्रेशन संबंधी दस्तावेज भी नहीं है।

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

चालक के पास थर्ड पार्टी इंश्योरेंस और नो पॉल्यूशन सर्टिफिकेट भी नहीं था। इसके साथ ही बाइक की साइलेंसर को भी मॉडिफाई किया गया था जिससे पटाखे जैसी तेज आवाज निकल रही थी।

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

मौके पर मौजूद ट्रैफिक पुलिस ने बाइक के मालिक पर कुल मिलाकर 35,000 रुपयें का चालान ठोंक दिया। चालक की बाइक भी पुलिस ने जब्त कर ली और पूरा फाइन भरने के बाद ही छोड़ने की बात कही है।

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

हालांकि पुलिस ने ये भी कहा है कि अगर बाइक मालिक सम्बंधित दस्तावेजों को जमा करेगा तो जुर्माने में कुछ माफी मिल सकती है।

Most Read: महिला सैनिकों ने खड्डे में फंसी महिंद्रा बोलेरो को निकाला बाहर, आनंद महिंद्रा ने ट्वीट कर की तारीफ

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

संषोधित मोटर व्हीकल एक्ट लागू होने के बाद ऐसे कई अन्य मामले सामने आए हैं जहां लोगों पर ट्रैफ़िक उल्लंघन के लिए हजारों रुपये का जुर्माना लगाया गया है।

Most Read: जानें देश की पुलिस द्वारा कौन सी कारें की जातीं है इस्तेमाल

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

बदलाव बहुत तेजी से आया है, जिससे लोगों को नए यातायात नियमों का पालन करने के लिए बहुत कम समय मिला है। नियम केवल वाहन से जुड़े सही दस्तावेज प्राप्त करने के बारे में नहीं है, बल्कि पुरानी आदतों और माइंडसेट को बदलने के बारे में भी है, जिसमें कुछ समय लग सकता है।

Most Read: बीएस-6 उत्सर्जन मानक क्या है? जानिये बीएस-4 के मुकाबले इसके फायदे और नुकसान

बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

ड्राइवस्पार्क के विचार

बेहतर होता कि जुर्माने को धीरे-धीरे बढ़ाया जाता । एक बार में जुर्माना बढ़ाने के बजाय हर साल 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी की जा सकती थी। इससे लोगों को नए नियमों का पालन करने के लिए अधिक समय मिल जाता और भरी-भरकम जुर्माने की समस्या से बचा जा सकता था।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Royal Enfield owner fined Rs 35,000 by Traffic Police. Read in Hindi
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X