बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

Written By: Shashikant

कोचीन का हमारा एडवेंचर अभी तक हमें याद है, लेकिन अब हम एक और एडवेंचर पर निकल रहे हैं। इस बार हम उस शहर की गलियों में जा रहे हैं, जिसे हम बहुत अच्छी तरह से जानते हैं। आपका स्वागत है बेंगलुरु में, जो देश का तकनीकी हब है और पब की राजधानी है। यहां खाने-पीने के ठिकानों की कोई कमी नहीं है और ड्राइवस्पार्क का भी घर है ये।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

तो, नए साल के लिए बेंगलुरु के पास क्या-क्या है? हम बेंगलुरु की सड़कों पर अपनी वीगो के साथ रात का सफर करेंगे और पता करेंगे।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

बेंगलुरु शहर की खोज 15वीं शताब्दी में केम्पे गौड़ा-1 ने की थी, जो विजयनगर सम्राज्य का एक जागीरदार था। केम्पे गौड़ा-1 ने 1537 में मिट्टी की ईंटों से किला बनाया जो आज के समय में बेंगलुरु का आकर्षण है।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

इसके अलावा कुछ और किले और टीपू सुल्तान का समर पैलेस इस शहर का इतिहास बताते हैं। अगर खुद केम्पे गौड़ा-1 या टीपू सुल्तान भी अब शहर में आएं तो वो यह देखकर चौंक जाएंगे कि आखिर शहर कितना बदल गया।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

पुराने बेंगलुरु का एक और काफी जाना माना हिस्सा बेंगलुरु पैलेस है, जिसने खुद को दोबारा से गढ़ा है और अब शहर के आधुनिक जीवन का एक खास हिस्सा बन गया है। यह मध्यकालीन सा दिखता है, लेकिन 1944 में बनकर पूरा हुआ था। इसी पैलेस में भारत का अब तक का सबसे महंगा कॉन्सर्ट हुआ था, जब इरोन मैडेन (Iron Maiden) ने 2007 में यहां अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया था।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

आज के समय का मेट्रो शहर बंगलुरू एक शानदार शहर है, जहां पर लोग अपनी गाड़ियों से सड़कों से होते हुए काम पर जाते हैं और फिर काम खत्म होने पर अपने घर वापस जाते हैं।

हालांकि, शहर में लगने वाला जाम टीवीएस वीगो के सामने कुछ नहीं है, जो ट्रैफिक से बचते हुए आसानी से निकल जाती है। इसके आसानी से पावर ले लेने वाले शानदार इंजन को धन्यवाद।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

नए साल से सिर्फ एक दिन पहले ड्राइवस्पार्क टीम ने यह फैसला किया कि अब शहर के अंदर चला जाए और पता किया जाए कि वहां पर कौन-कौन सी शानदार जगहें हैं, जहां पर हम 2016 की अपनी आखिरी रात बिताएंगे।

हम सबसे पहले जेपी नगर के बेंगलुरु सेंट्रल मॉल गए। यह मॉल युवाओं के लिए सबसे पसंदीदा जगहों में से एक है। मॉल में घुसते ही टीवीएस वीगो को बहुत से लोग देखने लगे। धन्यवाद, इसके शानदार डिजाइन को।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

वीगो की ब्रेक भी शानदार है, जिसकी मदद से हम कॉमर्शियल स्ट्रीट से आसानी से बाहर निकल सके। टीवीएस वीगो कई किलोमीटर तक शहर की झटकों वाली सड़क पर चलती रही, क्योंकि हम एक मॉल से दूसरे मॉल जाते रहे।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

टीवीएस वीगो की बॉडी बैलेंस तनकनीक और नाइट्रोजन चार्ज रीयर मोनो शॉक ने एक मॉल से दूसरे मॉल तक जाने के झटकों और गड्ढों भरे उस सफर को भी काफी आरामदायक बना दिया।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

आखिरकार हम शहर की सबसे अधिक चहल-पहल वाली जगह पर जा पहुंचे, जिसका नाम है ब्रिगेड रोड, जहां पर हर तरफ रोशनी ही रोशनी दिख रही थी, क्योंकि शहर नए साल का जश्न मना रहा था।

ऐसा लग रहा था जैसे पूरा शहर ही ब्रिगेड रोड पर आ गया हो। यहां पर मौजूद बहुत सी दुकानों, रोस्टोरेंट और पब को धन्यवाद, जो हर थोड़ी दूरी पर मौजूद थे।

बेंगलुरु शहर की सड़कों पर अपनी टीवीएस वीगो के साथ एक रात

हमने बहुत सारी शॉपिंग कर ली। इसके बाद टीम ने फैसला किया कि अब वापस चला जाए और कल इस साल के आखिरी दिन का जश्न मनाने के लिए दोबारा एक साथ इकट्ठा हुआ जा सके।

Read more on #tvs #टीवीएस
English summary
Exploring the charms and delights of Bangalore as the year comes to an end on a TVS Wego. Here #Wego exploring Bangalore on New Year's Eve.
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos