अब टोल बूथों पर इंतजार की झंझट से मिलने जा रही है मुक्ति, जानिए कब और कैसे?

Written By:

आपको याद होगा कि भारत सरकार ने साल 2016 नवंबर में सभी वाहन निर्माताओं को नये वाहनों पर एक डिजिटल पहचान टैग प्रदान करने के लिए कहा था। दरअसल यह ऐसा यंत्र है जो कि टोल प्लाजा पर इलेक्ट्रॉनिक भुगतान सक्षम होगा।

अब टोल बूथों पर इंतजार की झंझट से मिलने जा रही है मुक्ति, जानिए कब और कैसे?

हालांकि, अपर्याप्त बुनियादी ढांचे के साथ, ज्यादातर वाहनों के लिए यह अनावश्यक कदम ही है क्योंकि इस तरह से पहले से स्थापित हुए 73 लाख से अधिक वाहनों का उपयोग बिल्कुल भी नहीं किया गया है।

अब टोल बूथों पर इंतजार की झंझट से मिलने जा रही है मुक्ति, जानिए कब और कैसे?

अंग्रेजी अखबार टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार सरकार ने सभी नये वाहनों को FasTags के साथ पूर्ववर्ती होने के लिए कहा है। यानि अब अगस्त 2017 से जो भी वाहन शोरूम से बाहर आएंगे , वे इससे लैस होंगे।

अब टोल बूथों पर इंतजार की झंझट से मिलने जा रही है मुक्ति, जानिए कब और कैसे?

वहीं दूसरी ओर अपने पुराने डिजिटल पहचान टैग के साथ लगाए गए 73 लाख वाहनों को अब या तो अपडेट करना होगा या उसे बदलना होगा। अब तक, बैंक FasTags प्रदान कर रहे हैं, लेकिन अब कार डीलरों FasTags की पेशकश कर सकते हैं।

अब टोल बूथों पर इंतजार की झंझट से मिलने जा रही है मुक्ति, जानिए कब और कैसे?

आपको बता दें कि फासटैग को 100 रुपये की लागत होती है और सभी भुगतान इलेक्ट्रॉनिक रूप से भुगतान किए जा सकते हैं। पुराने वाहनों के मालिक FasTags को स्थापित कर सकते हैं, और कहा जाता है कि लगाना एक बहुत उबाउ प्रक्रिया नहीं है।

अब टोल बूथों पर इंतजार की झंझट से मिलने जा रही है मुक्ति, जानिए कब और कैसे?

नए मानदंडों के तहत, इन FasTags बेचने वाले बैंक ऑटोमोबाइल डीलरों तक पहुंचेंगे, जो खरीदारों को विभिन्न बैंकों द्वारा प्रदान किए गए टैग प्राप्त करने के लिए एक विकल्प देगा।

English summary
Begining August 2017, all new vehicles leaving the showrooms will be fitted with FasTags by car dealers for new car buyers.
Story first published: Friday, May 5, 2017, 12:16 [IST]

Latest Photos

 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more