सामान्य टैक्सी के जितना ही होगा उबर की फ्लाइंग टैक्सी का किराया

Written By:

भारत में ट्रांसपोटिंग सिस्टम की सबसे बड़ी समस्या जाम है और आजकल राजधानी दिल्ली में इसकी चर्चा जोरों पर है। ऐसे में हर कोई आदमी यह सोचता नजर आ रहा है कि अगर उनकी ट्रांसपोटिंग सिस्टम बदल जाए तो बेहतर है।

सामान्य टैक्सी के जितना ही होगा उबर की फ्लाइंग टैक्सी का किराया

खैर। अब खबर पर आते हैं और बताते हैं कि ऐप आधारित टैक्सी सर्विस देने वाली कंपनी उबर ने फ्लाइंग टैक्सियों को विकसित करने के लिए लिए अमेरिका के प्रमुख अंतरिक्ष संगठन नासा से हाथ मिलाया है।

सामान्य टैक्सी के जितना ही होगा उबर की फ्लाइंग टैक्सी का किराया

रिपोर्ट के मुताबिक इसका किराया सामान्य टैक्सी यात्रा के बराबर ही रखा जाएगा। इस टैक्सी सर्विस लिए कोई एक्स्ट्रा चार्ज नहीं देना होगा। कंपनी की घोषित की गई उबर एयर पायलट योजना में लॉस एंजिलिस भी भागीदार होगा।

सामान्य टैक्सी के जितना ही होगा उबर की फ्लाइंग टैक्सी का किराया

बताते चलें कि इससे पहले डलास फोर्ट-वर्थ, टेक्सास और दुबई इसमें शामिल हो चुके हैं। उबर ने एक बयान में कहा, नासा की यूटीएम मानवरहित यातायात प्रबंधन परियोजना में उबर की भागीदारी कंपनी के 2020 तक अमेरिका के कुछ शहरों में उबर एयर की विमान सेवा प्रयोगिक तौर पर शुरू करने के लक्ष्य को पाने में मदद करेगी।

सामान्य टैक्सी के जितना ही होगा उबर की फ्लाइंग टैक्सी का किराया

उबर नासा के साथ अन्य तरह की संभावनाओं को भी तलाश रहा है। शहरी हवाई यातायात के नए बाजार को लेकर उसका खुला रुख है। प्रवक्ता मैथ्यू विंग के अनुसार प्रारंभिक उड़ानों के दौरान टैक्सी में एक पायलट होगा, लेकिन भविष्य में यह ऑटोमेटिक हो सकती है।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

यहां इस लेख में सबसे महत्वपूर्ण बात तब होती जब उबर ने इसमें कहीं भारत का जिक्र किया होता लेकिन अगर चर्चा चल रही है तो मानकर चलना चाहिए कि यह भारत भी आएगी क्योंकि उबर के लिए भारत दुनिया के सबसे बड़े बाजारों में से एक है।

English summary
Uber, an app based taxi service, has joined hands with NASA's premier space organization to develop flying taxis.
Story first published: Friday, November 10, 2017, 14:19 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos