कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

Written By:

मंगलवार को रक्षाबंधन का त्योहार था, लेकिन इस उत्साह की बैंड तब बज गई जब दिल्ली वालों को दिल्ली ने रूला के रख दिया। कहने का अर्थ है कि रक्षाबंधन के मौके पर दिल्ली का ट्रैफिक इतना बुरी तरह बिगड़ गया था कि वाहन रेंगते नजर आए और लोग सड़कों पर रूआंसे हो गए। इस राखी ने दिल्ली की सारी ट्रैफिक व्यवस्था और दावों की पोल खोलकर रख दी।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

आपको बता दें कि मंगलवार को राजधानी के ज्यादातर हिस्सों में भारी जाम के कारण रक्षाबंधन का उत्साह फीका रहा। रात तक कई सड़कों पर ट्रैफिक नार्मल नहीं हो पाया और यहां के लगभग हर रास्ते पर लोग बुरी तरह से फंसते नजर आए। बाद में आई बारिश ने तो स्थिति की और भयानक बना दिया।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

मंगलवार को यही हाल लगभग पूरे दिल्ली-एनसीआर का रहा। फिर चाहे नोएडा हो, फरीदाबाद हो, गुरूग्राम हो या फिर गाजियाबाद । मंगलवार को इन शहरों ने जो भी देखा उसकी कल्पना करना भी किसी के लिए बेमानी है।

Recommended Video - Watch Now!
Jeep Compass Launched In India | In Hindi - DriveSpark हिंदी
कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक लुटियंस जोन को छोड़कर, नॉर्थ, ईस्ट, वेस्ट, साउथ सभी इलाकों में ट्रैफिक रुक-रुककर रेंगता रहा। ट्रैफिक पुलिस अधिकतर जगहों पर नदारद रही। ट्रैफिक सिग्नल भी ठीक तरह काम नहीं कर रहे थे। लोगों की बेसब्री से हालत और बिगड़ गई।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

रक्षाबंधन का त्योहार होने की वजह से सड़कों पर रोज के मुकाबले दोगुनी तादाद में वाहन नजर आ रहे थे। शहर की सीमाओं से गुजरने वाले वाहन चालकों को भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। गजटेड हॉलिडे न होने के कारण अपने कामकाज के लिए निकले लोगों को भी जाम से 2-4 होना पड़ा।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

इस दौरान सुबह से ही सड़कों पर भीड़ थी, लेकिन 10 बजते-बजते हालात बिगड़ने लगे। ईस्ट दिल्ली में आईटीओ ब्रिज से लेकर शकरपुर, लक्ष्मी नगर, प्रीत विहार, कड़कड़डूमा, शाहदरा और आनंद विहार बसअड्डे तक तगड़ा जाम लग गया। विकास मार्ग पर सुबह 11 बजे से जो जाम लगना शुरू हुआ, वह तीसरे पहर तक कम नहीं हुआ।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

उधर जी.टी. करनाल रोड पर भी बुरी हालत थी। रिंग रोड का ज्यादातर हिस्सा जाम की चपेट में रहा। वजीराबाद पुल, आईएसबीटी पुल, आजादपुर चौराहा, धौलाकुआं, नारायणा, मायापुरी, विकासपुरी, पीरागढ़ी, बदरपुर बॉर्डर, नजफगढ़, लाजवंती चौक, साउथ एक्सटेंशन, करोलबाग जैसे इलाकों से गुजरनेवालों को अपने गंतव्य तक पहुंचने के लिए घंटों इंतजार करना पड़ा।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

बताया जा रहा है कि ट्रैफिक पुलिस जहां तैनात थी, वहां वह बेबस नजर आई। जाम में फंसने के बाद लोगों का धैर्य भी जैसे जवाब दे गया और रॉन्ग साइड से आकर उन्होंने स्थिति को और भी बिगाड़ दिया। आजादपुर चौक, विकास मार्ग, आईएसबीटी यमुना पुल पर इसी कारण जाम की स्थिति ज्यादा विकट हुई।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

जबकि दूसरी ओर दिल्ली पुलिस के जॉइंट कमिश्नर कमर अहमद यह मानने के लिए तैयार नहीं हैं कि मंगलवार को जाम की स्थिति रही। उनका कहना है कि त्योहार के कारण सड़कों पर वाहन बहुत ज्यादा संख्या में निकल आते हैं, जिससे स्पीड कम हो जाती है। लेकिन इसे जाम नहीं कहा जा सकता।

कमबख्त! इस दिल्ली ने तो रूला के छोड़ा...

अहमद ने कहा कि ट्रैफिक पुलिस ने इसके लिए पहले ही पूरी तैयारी कर ली थी। रक्षाबंधन के साथ-साथ शबे-बारात भी मंगलवार को ही थी और सभी टीआई आधी रात के बाद तक ड्यूटी पर रहे। हालांकि यहां अहमद के दावे चाहे जो भी हों, लेकिन हालात क्या रहे यह तो लोग खुद बता रहे हैं।

Drivespark की राय

Drivespark की राय

दिल्ली में ऐसे खास मौको पर ट्रैफिक का फेल हो जाना कोई नई बात नहीं है और ऐसी सिचुएशन रोज भी देखने को मिल जाया करती है लेकिन अभी इस पर उस तरह का कार्य नहीं किया गया जिस तरह की आवश्यकता है।

लोग भी मंगलवार को बहुत लापहरवाही से वाहन चलाते देखें गए और बहुतेरे ट्रैफिक के कारण तो ये स्वंय बने रहे। कहने का आशय है कि अगर सभी अपनी जिम्मेदारी ठीक से निभाएं तो इस समस्या से बहुत हद तक निजात पाया जा सकता है।

नोट- आर्टिकल में लगाई गई सारी तस्वीरें हमारे सहयोगी संस्थान हिंदी वनइंडिया से ली गई है।

English summary
On Tuesday, on the occasion of Rakshabandhan, the traffic arrangement of Delhi was seen to be cremated. Thereby, people had to face difficulties with each other.

Latest Photos

 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more