ट्रैफिक पुलिस ने वीडियो बनाने वाले को किए पैसे ऑफर - देखिए फिर क्या हुआ

Written By: Abhishek Dubey

19 साल के वी-लॉगर लक्ष्य आनंद ने मुंबई-गोवा हाइवे पर ट्रैफिक पुलिस का वीडियो बना लिया जिसमें ट्रैफिक वाला एक व्यक्ति से रिश्वत लेते दिख रहा है। मजेदार बात ये है कि लक्ष्य ने जब उस ट्रैफिक पुलिस को बताया कि उसने रिश्वत लेते हुए उसका वीडियो बना लिया है तो ट्रैफिक वाले ने ये वीडियो ऑनलाइन रिलीज ना करने के लिए लक्ष्य को ही पैसे ऑफर करने लगा।

ट्रैफिक पुलिस ने वीडियो बनाने वाले को किए पैसे ऑफर - आगे देखिए फिर क्या हुआ

लक्ष्य एक वीडियो लॉगर है जो अपने रोड ट्रिप्स के वीडियो बनाकर सोशल मीडिया ईत्यादि प्लैटफॉर्म पर डालते हैं। अपनी ऐसी ही यात्रा के लिए वे मुंबई से गोवा के रुट पर ट्रैवल कर रहे थे। जैसा कि वीडियो में वह कहते दिख रहे हैं कि गुगल-मैप की सहायता से राइड करने के कारण वे गलती से मुंबई-पूना एक्सप्रेसवे पर पहुंच गए जहां टू और थ्री व्हीलर्स अलाउड नहीं है।

ट्रैफिक पुलिस ने वीडियो बनाने वाले को किए पैसे ऑफर - आगे देखिए फिर क्या हुआ

लेकिन ओल्ड हाइवे से ट्रैवल करने के दौरान अक्सर लोनावला / खंडाला घाट के आस-पास कई राइडर्स को कंन्फ्यूजन हो जाता है। ऐसे में जो एग्जीट का रास्ता जानता है वो आसानी से निकल जाता है और जो नहीं जानता है वो आगे जाकर सीधे टोल प्लाजा के पास निकलता है जहां बहुत सारे पुलिस और ट्रैफिक पुलिस उनका इंतजार कर रहे होते हैं।

ट्रैफिक पुलिस ने वीडियो बनाने वाले को किए पैसे ऑफर - आगे देखिए फिर क्या हुआ

ऐसा ही कुछ लक्ष्य के साथ भी हुआ, वो सीधे टोल प्लाजा के पास पहुंचे जहां महाराष्ट्र पुलीस कॉन्सटेबल ने उन्हें रोक लिया। नियमों के अनुसार उनके सारे कागज जैसे की ड्राइविंग लाइसेंस, आरसीबूक और इंश्योरेंस पेपर चेक किए गए। सारे पेपर्स सही थे। उसके बाद लक्ष्य द्वारा ये बताए जाने कि वो गलती से एक्सप्रेसवे पर आ गया है, लेकिन रुल तोडने के लिए लक्ष्य को चलान भरने को कहा गया। लक्ष्य ने फाइन भर दिया।

लेकिन उसी समय एक और बाइक वाला वहां आया जिससे ट्रैफिक वाले ने पैसे लिए लेकिन चलान नहीं किया अर्थात रिश्वत ली। लक्ष्य ने जब ऑन ड्यूटी ऑफिसर को इसकी जानकारी दी कि उसने रिश्वत लेने की घटना का रिकॉर्डिंग कर लिया है। वहां सबके सब परेशान रह गए। कुछ देर बाद वही रिश्वत लेनेवाला पुलिस लक्ष्य के पास आया और उसे वीडियो ऑनलाइन रिलीज ना करने के लिए 500 रुपए देने लगा। लेकिन लक्ष्य ने वो पैसे नहीं लिए और वहां से आगे बढ़ गए। आप ऊपर दिए गए वीडियो में देख सकते हैं।

ट्रैफिक पुलिस ने वीडियो बनाने वाले को किए पैसे ऑफर - आगे देखिए फिर क्या हुआ

बादमें ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया और इंस्टाग्राम पर महाराष्ट्र पुलिस के नाम पर चल रहे एक अकाउंट ने इस वीडियो के लिए लक्ष्य आनंद को सार्वजनिक थैंक्यू नोट भी शेयर किया। ऊपर उनका मैसेज दिया गया है जो कि मराठी में है।

Read more on #off beat
English summary
Ttraffic Cop Offers Bribe To Youtube Blogger Got Recorded. Read in Hindi.
Story first published: Friday, April 20, 2018, 19:19 [IST]

Latest Photos

 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark