विदेशी बाइकर को जब पुलिस ने पकड़ा, तो कुछ ऐसा हुआ जिसपर आप यकिन नहीं कर पाएंगे

वैसे तो पुलिस वाले रिश्वत लेने और बुरे व्यवहार के लिए बदनाम है। लेकिन हाल ही में मुंबई-पुणे एक्स्प्रेसवे से एक ऐसा विडियो आया है जिस पर आपको यकिन नहीं होगा और आप सोचने पर मजबूर हो जाएंगे।

विदेशी बाइकर को जब पुलिस ने पकड़ा, तो कुछ ऐसा हुआ जिसपर आप यकिन नहीं कर पाएंगे

दरअसल विदेशी बाइकर कार्ल रॉक रॉयल एनफील्ड हिमालयन पर सवार होकर वड़ोदरा से पुणे जा रहे थे। इस दौरान उनका एक दोस्त भी उनके साथ था। राइड के दौरान जब वे मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे के पास पहुंचे तो वो एक साइन बोर्ड मिस कर गए जिसमें लिखा होता है कि एक्स्प्रेसवे पर टू-व्हीलर बाइक चलाने की इजाजत नहीं है।

MOST READ: टाटा हैरियर रिव्यू और टेस्ट ड्राइव - कंपनी के लिए हो सकता गेम चेंजर!

विदेशी बाइकर को जब पुलिस ने पकड़ा, तो कुछ ऐसा हुआ जिसपर आप यकिन नहीं कर पाएंगे

कार्ल रॉक और उनके दोस्त गलती से मुंबई-पुणे एक्सप्रेसवे पर चले जाते हैं और आगे जाकर टोल प्लाज़ा पर पलिस द्वारा धर लिये जाते हैं। पुलिस वाले को ठीक से इंगलीश नहीं आती थी और कार्ल रॉक को हिन्दी। इसलिए दोनों को एक-दुसरे से बात करने में परेशानी भी हो रही थी। इस दौरान कार्ल रॉक के साथ जो उनका दोस्त राइड कर रहा था वो उनसे कुछ पीछे था जब पुलिस ने कार्ल रॉक को पकड़ा।

MOST READ: इस देश की पुलिस के पास है दुनिया की सबसे आश्चर्यजनक कारें

विदेशी बाइकर को जब पुलिस ने पकड़ा, तो कुछ ऐसा हुआ जिसपर आप यकिन नहीं कर पाएंगे

कार्ल रॉक को पकड़ने के बाद पुलिस वाला उन्हें साइड में ले गया। बाद में एक और ट्रैफिक पुलिस वाला वहां पर आया और वो भी कार्ल से कुछ बातें करते हुए सुना जा सकता है। जब कार्ल ने पुलिस वालों को बताया कि उसे इस नियम के बारे में नहीं पता था, उसने साइन बोर्ड भी नहीं देखा और गलती से वो उस एक्सप्रेसवे पर आ पहुंचा है। इसके बाद पुलिस वालों नें उससे कोई फाइन नहीं लिया और उससे कहा की आप हमारे मेहमान है और हम आपकी सेवा में हैं। पुलिस वालों ने कार्ल को सही रास्ते का पता बताया और जाने को कहा।

MOST READ: निसान किक्स रिव्यू और टेस्ट ड्राइव: क्या साबित होगी हुंडई क्रेटा की सबसे तगड़ी प्रतिद्वंदी?

विदेशी बाइकर को जब पुलिस ने पकड़ा, तो कुछ ऐसा हुआ जिसपर आप यकिन नहीं कर पाएंगे

हालांकि कार्ल रॉक के भारतीय दोस्त, जो कि उनके कुछ पीछे ही चल रहा था उससे 200 रुपए का जुर्माना लिया गया और फिर छोड़ा गया। विडियो के अंत में दोनों कहते हुए सुने जा सकते हैं कि यहां के पुलिस का व्यवहार बहुत ही दोस्ताना और अच्छा है।

MOST READ: गूगल पर सर्च (ट्रेंडिंग) होने वाली 2018 की टॉप 10 कारें

विदेशी बाइकर को जब पुलिस ने पकड़ा, तो कुछ ऐसा हुआ जिसपर आप यकिन नहीं कर पाएंगे

पुलिस के इस व्यवहार से न सिर्फ पुलिस विभाग का नाम ऊपर हुआ है बल्कि विदेशों में भारत का नाम भी ऊंचा होता। वैसे तो अधिकतर भारतीय 'मेहमान भगवान है' इस फिलॉसफी को फॉलो करते हैं लेकिन कुछ लोग होते हैं जो अपनी हरकतों से पुरे देश का नाम खराब करते हैं।

MOST READ: कार मेंटेनेंस से जुड़ी वो गलत बातें जिन पर आज भी आप करते हैं भरोसा

विदेशी बाइकर को जब पुलिस ने पकड़ा, तो कुछ ऐसा हुआ जिसपर आप यकिन नहीं कर पाएंगे

फिर लौंटे कार्ल रॉक वाले घटना पर, तो आपको जानकारी के लिए बता दें कि मुंबई-पुणे एक्स्प्रेसवे पर टू-व्हीलर बाइक चलाना बैन है। इसके साथ-साथ वहां थ्री-व्हीलर भी चलाना गैरकानूनी है। इसका मुख्य कारण है कि भारत में बहुत सी बाइक 125 या 100 सीसी के आस-पास होती है। अक्सर हाइवेस की निम्नतम स्पीड लीमिट 80 किलोमीटर प्रतिघंटे की होती है, जबकि इन बाइक्स की अधिकतम स्पीड लिमिट ही 80 होती है। ऐसे में यदि इन बाइक्स को नेशनल हाइवे या एक्स्प्रेसवे पर चलना हो तो अपनी अधिकतम स्पीड पर चलना होगा जो कि खतरनाक हो सकता है।

MOST READ: ईंधन (फ्यूल) से जुड़े इन मिथकों को क्या आप भी सच मानते हैं?

वैसे कार्ल रॉक रॉयल एनफील्ड हिमालयन से चल रहे थे और ऐसी बाइक तो 80 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार तो बड़े आसानी से बना के रख सकती है। लेकिन ट्रैफिक नियमों में कम सीसी या ज्यादा सीसी वाली बाइक में कोई फर्क नहीं किया गया है या ऐसा कोई नियम नहीं है। इसलिए सभी तरह के टू-व्हीलर को एक्सप्रेसवे पर चलाना गैरकानूनी है।

MOST READ: जल्दी करें: इस महीने इन ऑटोमेटिक कारों पर मिल रही है भारी छूट

Most Read Articles

Hindi
English summary
Foreign biker on Royal Enfield Caught By Indian cops [Video]. Read in Hindi.
Story first published: Monday, December 31, 2018, 14:00 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X