रॉयल एनफील्ड सवारों की आई शामत, पुलिस इस तरह नष्ट कर रही एक्जास्ट

Written By:

अगर आप रॉयल एनफील्ड सवारी करते हैं और अगर यह भी सोच रहे हैं कि तेज आवाज वाले एग्जॉस्ट को बजाते हुए निकल सकते हैं तो किसी भ्रम में मत रहिए क्योंकि हो सकता है कि पुलिस अब आपकी बाइक जब्त कर ले। लिहाजा अगर अपनी रॉयल एनफील्ड में साइलेंसर न लगवाएं तो ही बेहतर है।

रॉयल एनफिल्ड सवारों की आई शामत, पुलिस इस तरह नष्ट कर रही एक्जास्ट

जैसा कि सभी जानते हैं कि रॉयल एनफिल्ड में खासकर लगने वाला तेज आवाज के साथ साइलेंसर कर्कश होता है। लेकिन पिछले कुछ महीने से बंगलूरू ट्रेफिक पुलिस खासकर रॉयल एनफील्ड में पाए जाने वाले तेज आवाज करने वाले एग्जॉस्ट (साइलेंसर) के खिलाफ मुहिम चला रही है।

रॉयल एनफिल्ड सवारों की आई शामत, पुलिस इस तरह नष्ट कर रही एक्जास्ट

बंगलूरू ट्रेफिक पुलिस अब इस मुहिम को एक अलग लेवल तक ले गए हैं। एक तस्वीर सोशल मीडिया पर काफी चर्चाओं में है, जिसमें एक पुलिसवाला ढेर सारे साइलेंसर्स पर रोड रोलर चढ़वा रहा है। इस तस्वीर को बेंगलुरू ट्राफिक पुलिस ने अपने फेसबुक पेज पर पोस्ट किया है, जिसकी बड़ी संख्या में यूजर्स ने आलोचना की है।

रॉयल एनफिल्ड सवारों की आई शामत, पुलिस इस तरह नष्ट कर रही एक्जास्ट

इसके लिए बेंगलूरू ट्राफिक पुलिस को ट्रोल भी किया गया। अब ट्राफिक पुलिस ने कड़ा संदेश देने के लिए यह कदम उठाया है। कुछ फेसबुक यूजर्स ने पुलिस वालों से शहर की गड्डाग्रस्त सड़कों को और खराब ना करने को कहा।

हालांकि दूसरी ओर अन्य लोगों ने ट्राफिक जाम को बढ़ावा ना देने की बात कही। वहीं, एक फेसबुक यूजर ने सवाल किया कि इस तरह के एग्जॉस्ट बाजार में बेचे ही क्यों जा रहे हैं। बता दें कि पिछले कुछ हफ्तों से शहर की ट्रेफिक पुलिस रॉयल एनफील्ड के उन चालकों को रोक रही थी जिन्होंने तेज आवाज वाला एग्जॉस्ट लगवाया हुआ था।

रॉयल एनफिल्ड सवारों की आई शामत, पुलिस इस तरह नष्ट कर रही एक्जास्ट

इस एग्जॉस्ट को मौके पर ही निकलवाया जा रहा था। इस तरह के चालकों पर ना सिर्फ जुर्माना ठोंका गया था, बल्कि कुछ की तो बाइक भी सीज कर ली गई। यह खबर इस वक्त तेजी से सोशल साइट पर वायरल हो रही है।

Drivepark की राय

Drivepark की राय

ध्वनि प्रदूषण मनुष्य और जानवरों को नुकसान पहुंचा सकता है। हाई डेसीबल मानव में हृदय और व्यवहार संबंधी प्रभाव पैदा कर सकता है। इससे उच्च रक्तचाप, उच्च तनाव के स्तर, शोर प्रेरित श्रवण हानि, नींद की गड़बड़ी, दूसरों के बीच हो सकता है।

रॉयल एनफिल्ड सवारों की आई शामत, पुलिस इस तरह नष्ट कर रही एक्जास्ट

मनुष्य और जानवरों पर हानिकारक प्रभावों के साथ-साथ यह मोटरसाइकिल और पर्यावरण को भी प्रभावित करता है निर्माता उत्सर्जन नियंत्रण की आवश्यकताओं को समझते हैं, साथ ही साथ ध्वनि प्रदूषण भी करते हैं और वे प्रदर्शन पर समझौता किए बिना निकास विकसित करते हैं। इसलिए वास्तव में अगर आप इसे अवाइड करें तो बेहतर है।

English summary
Traffic police in Pune, Mysore, Bangalore and some parts of Kerala have started to crack down on illegally modified silencers. Any Royal Enfield fitted with a modified exhaust and not with the manufacturer's specification were removed and the owner subsequently fined under Section 190 (2) of MVA.
Story first published: Tuesday, December 12, 2017, 17:22 [IST]
 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more