कल्‍पनाएं होंगी सच, बन सकेंगे हाइपरसोनिक कॅमर्शियल जेट! पढ़ें पूरी खबर

Posted By:

वैज्ञानिकों के हाथ जल्‍द ही बड़ी सफलता लग सकती है। दरअसल, इसके आसार दिखने लगे हैं। हाइपरसोनिक कॅमर्शियल जेट्स की तरफ एक और कदम बढ़ गया है। ये वास्‍तविक स्‍पीड से 5 गुना ज्‍यादा तेजी से उड़ सकती हैं।

TOP 10 : ये हैं अप्रैल 2016 में भारत की टॉप सेलिंग बाइक्स, लिस्ट में बजाज वी15 ने की एंट्री

नासा और ऑस्‍ट्रेलियन डिपार्टमेंट ऑफ डिफेंस की एक टीम ने ऑस्‍ट्रेलिया के वुमेरा टेस्‍ट रेंज में एक सफल टेस्‍ट लॉन्‍च किया। जिस व्‍हीकल पर यह एक्‍सपेरिमेंट किया गया, उसका नाम है हाईफायर 5बी। इसने जमीन से 278 किलोमीटर की ऊंचाई को 9,261 किलोमीटर प्रति घंटे की स्‍पीड से छू लिया।

पढ़ें - BMW R5 के विंटेज लुक के साथ कस्टमाइजेशन का कमाल, देखिए इस फेमस मोटरसाइकिल का नया कॉन्सेप्ट मॉडल

इसे रॉकेट्स की मदद से लॉन्‍च किया गया था। इस हाइपरसोनिक वाहन में विशेष तरह का स्‍क्रैमजेट इंजन लगाया गया है। इस रॉकेट के सफल प्रक्षेपण पर चीफ डिफेंस साइंटिस्‍ट Dr Zelinsky ने कहा कि यह सफलता हाइपरसोनिक उड़ान की कल्‍पनाओं को हकीकत में बदलने की ओर एक कदम है। यह एक गेम चेंजिंग तकनीक है। आने वाले दिनों में यह क्रांतिकारी सफलता के तौर पर याद की जा सकती है।

ड्राइवस्‍पार्क के ट्रेंडिंग आर्टिकल यहां पढ़ें -

Read more on #off beat
English summary
Chief Defence Scientist Dr Alex Zelinsky today congratulated an Australian-United States team on the success of an experimental hypersonic flight at the Woomera Test Range. The experimental rocket reached an apogee of 278 km, achieving the targeted speed of Mach 7.5 (seven and a half times the speed of sound). The experimental flight was undertaken as part of a joint research program, HIFiRE (Hypersonic International Flight Research Experimentation Program) being conducted by the Defence Science and Technology Group and the US Air Force Research Laboratory with Boeing and the University of Queensland providing expert technical design and analysis.
Story first published: Tuesday, May 24, 2016, 13:24 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos