अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

ट्रेनों में खाद्य विक्रेताओं द्वारा ओवरचार्जिंग की प्रथा को खत्म करने के लिए, भारतीय रेलवे खानपान और पर्यटन निगम (IRCTC) ने ट्रेनों में QR कोड भुगतान को स्वीकार करने की अनुमति दे रही है। लेकिन ध्यान देने वाली बात यह है कि फिलहाल यह सुविधा चुनिंदा रूटों पर ही उपलब्ध है, लेकिन आईआरसीटीसी जल्द ही अन्य ट्रेनों में भी इसका विस्तार करेगी।

अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

शताब्दी, तेजस, दुरंतो और राजधानी जैसी प्रीमियम ट्रेनों में टिकट के किराए में खानपान की सुविधा प्रदान की जाती है, लेकिन पैंट्री कार वाली अन्य ट्रेनों में यात्रियों को यात्रा के दौरान अपने भोजन के लिए भुगतान करना पड़ता है। बिना पेंट्री कारों वाली ट्रेनों में IRCTC विक्रेता अपने बेस किचन से भोजन की आपूर्ति करते हैं।

अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

रेलवे को इनमें से कई विक्रेताओं द्वारा ट्रेनों में खाने के सामान के लिए यात्रियों से अधिक कीमत वसूलने की शिकायतें मिल रही थीं। जबकि कार्ड स्वाइप भुगतान की सुविधा पहले से ही ट्रेनों में उपलब्ध थी, यात्री इस विचार के प्रति अनुत्तरदायी बने रहे और लेनदेन के तरीके के रूप में केवल नकद के विकल्प को दिया गया था।

अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

अब QR कोड भुगतान की शुरुआत के साथ, रेलवे के लिए खाद्य पदार्थों पर किसी भी तरह के ओवरचार्जिंग की जांच करना आसान हो जाएगा। बताया जा रहा है कि आईआरसीटीसी क्यूआर कोड आईआरसीटीसी वेंडर्स के मेन्यू कार्ड और आईडी कार्ड पर प्रिंट होगा।

अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

पैसेंजर्स आसानी से यूपीआई सक्षम ऐप के साथ क्यूआर कोड को स्कैन कर सकते हैं और अपने फोन से अपने खाने की कीमत का भुगतान कर सकते हैं। रेलवे के अधिकारियों की माने तो यह क्यूआर कोड भुगतान मौजूदा समय में संपूर्ण क्रांति एक्सप्रेस ट्रेनों में उपलब्ध है।

अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

इसके अलावा आईआरसीटीसी ने पिछले महीने इस्कॉन मंदिर दिल्ली द्वारा संचालित गोविंदा के रेस्तरां के साथ ट्रेनों में सात्विक भोजन उपलब्ध कराने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किए थे। योजना का रोलआउट दिल्ली के हजरत निजामुद्दीन स्टेशन से शुरू हुआ और जल्द ही इसे अन्य स्टेशनों तक भी बढ़ाया जाएगा।

अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

ट्रेन के इस मेन्यू में सात्विक व्यंजन जैसे डीलक्स थाली, महाराजा थाली, वेजिटेबल बिरयानी, वेजिटेबल डिम सम, पनीर डिम सम, वोक टॉस नूडल्स, दाल मखनी आदि स्वादिष्ट व्यंजन शामिल किए गए हैं। इसके अलावा यात्री वैध पीएनआर के साथ निर्धारित यात्रा समय से कम से कम दो घंटे पहले भी अपना ऑर्डर दे सकते हैं।

अब ट्रेन में भी अपने खाने के लिए कर सकेंगे QR कोड से ऑनलाइन भुगतान, जानें क्या होगा फायदा

इतना ही नहीं वे या तो ऑर्डर देते समय भोजन के लिए ऑनलाइन भुगतान कर सकते हैं या फिर भोजन की डिलीवरी के समय भुगतान कर सकते हैं।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Now qr code based payment for food is available in indian railways details
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X