आम बजट 2016-2017 में अगर ये प्रावधान आ गया तो बड़ी मुसीबत में आ सकते हैं आप

By Praveen

नई दिल्ली। इलेक्ट्रिक वाहन बनाने वाली कंपनियों के संगठन एसएमईवी ने सरकार से 2015-16 के बजट में देश में इलेक्ट्रिक और हाइब्रिड वाहनों को बढ़ावा देने की घोषणा को कार्यरूप देने तथा इन वाहनों के लिए प्रोत्साहन देने की मांग की है।

Electric Vehicles Aam budget

यूरोप में प्रदूषक वाहनों पर है रोक

यूरोप के कई हिस्सों में प्रदूषक वाहनों के प्रवेश पर प्रतिबंध है। भारत में भी प्रदूषण फैलाने वाले वाहनों के लिए ऐसे ही कठोर नियम होने चाहिये। उन्होंने सरकार से अगले 5-10 साल के लिए स्पष्ट रूपरेखा की मांग की। साथ ही कहा कि एक साल में कम से 100 शहरों में सार्वजनिक चार्जिंग स्थल बनाए जाने के लिए आम बजट 2015-2016 में विशेष प्रावधान हो।

इलेक्ट्रिक वाहनों को प्रमोट करने का वक्‍त

एसएमईवी के अध्यक्ष के मुताबिक, सरकार ने इलेक्ट्रिक दुपहिया वाहनों और छोटी कारों को बढ़ावा देकर प्रदूषण तथा कच्चा तेल की खपत घटाने का लक्ष्य रखा था, लेकिन इलेक्ट्रिक वाहनों की बिक्री अभी रफ्तार नहीं पकड़ सकी है। ग्राहकों को अपने पुराने वाहनों को इलेक्ट्रिक वाहनों से बदलने के लिए प्रोत्साहित करने का समय आ गया है।

ड्राइवस्पार्क के ट्रेंडिंग आर्टिकल यहां पढ़े :

Most Read Articles

Hindi
Read more on #off beat
English summary
MSMV asks for promoting electric vehicles in AAM Budget 2016. आम बजट 2015 2016 में इलेक्ट्रिक वाहनो पर जोर देने की सिफारिश की गई है।
Story first published: Sunday, February 28, 2016, 7:05 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X