Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

कुछ ही दिनों बाद हम भारत के 73वें स्वतंत्रता दिवस को मनाने वाले हैं। लेकिन उससे पहले हम यहां आपको कुछ ऐसी कारों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्होंने काफी लंबे समय तक देश की सड़कों पर राज किया है। इनमें से कई कारें हैं जो बहुत ही लोकप्रिय हुई और उन्होंने भारत की ऑटो इंडस्ट्री का चेहरा ही बदल दिया है।

Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

1. मारुति 800

मारुति 800 देश की बहुत ही जानी-मानी बजह कार रह चुकी है और इसके भारत में लाखों लोगों ने इस्तेमाल किया है। इस कार को साल 1993 में भारतीय बाजार में उतारा गया था और यह कार साल 2014 तक कंपनी के प्रोडक्शन में रही थी।

Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

2. हिंदुस्तान एम्बेसडर

हिंदुस्तान एम्बेसडर भारत की एक और आईकॉनिक कार है। साल 1958 में भारतीय बाजार में आने से पहले यह कार ब्रिटेन में मॉरिस ऑक्सफोर्ड नाम से बेची जा रही थी। इस कार का इस्तेमाल आज भी कई राजनैतिक नेताओं द्वारा किया जा रहा है। इस कार कार उत्पादन साल 2014 में बंद कर दिया गया है।

MOST READ: दिल्ली में बिना मास्क पहने ड्राइविंग करने पर होगा जुर्माना

Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

3. टाटा नैनो

टाटा नैनो को भारतीय बाजार में टाटा मोटर्स द्वारा किए गए एक वादे के तौर पर लॉन्च किया गया था। टाटा ने सबसे सस्ती कार बनाने का दावा किया था। टाटा नैनो को साल 2009 में बाजार उतारा गया था। हालांकि इस कार को भारतीयों से कोई ज्यादा अच्छा रिस्पॉन्स नहीं मिला था।

Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

4. हुंडई सेंट्रो

साउथ कोरियन कार निर्माता कंपनी हुंडई की सेंट्रो एक बहुत ही लोकप्रिय हैचबैक टॉलबॉय कार रही है। इस कार की पहली जनरेशन को साल 1997 में भारतीय बाजार में उतारा गया था। यह कार उस दौरान बेहतरीन फीचर्स और किफायती दाम पर उतारी गई थी। इसके बाद साल 2019 में कंपनी ने इसकी नई-जनरेशन को लॉन्च किया था।

MOST READ: टाटा मोटर्स ने एयर फिल्टर और सेनिटाइजेशन किट किया लाॅन्च

Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

5. टाटा इंडिका

टाटा मोटर्स ने टाटा इंडिका की लॉन्च के साथ ही इस बात की घोषणा की थी कि कंपनी अब पैसेंजर व्हीकल सेगमेंट में कदम रखने जा रही है। इतना ही नहीं इंडिका देश की पहली विकसित पैसेंजर कार थी। इस कार को साल 1998 में लॉन्च किया गया था। लॉन्च के बाद से यह का भारतीयों को काफी पसंद आई थी।

Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

6. प्रीमियर पद्मिनी (फिएट 100)

आपको बता दें कि प्रीमियर पद्मिनी, हिंदुस्तान एम्बेसडर की तरह ही एक आइकॉनिक कार रही है। इस कार को साल 1973 से 1998 के बीच बेचा गया था। बिक्री बंद होने के इतने साल बाद भी इस कार को मुंबई की सड़कों पर आज भी देखा जा सकता है।

MOST READ: हुंडई ने जुलाई में बेचीं 38,300 कारें, सबसे ज्यादा बिकी क्रेटा

Independence Day: इन आइकॉनिक कारों ने बदला भारतीय ऑटो जगत का चेहरा, जानें

7. महिंद्रा स्कॉर्पियो

महिंद्रा स्कॉर्पियो को साल 2002 में पहली बार भारतीय बाजार में उतारा गया था। जिसके बाद से ही इस एसयूवी ने भारतीयों का दिल जीत लिया। यह कार महिंद्रा की पहली इन-हाउस डेवलप पैसेंजर कार थी। साल 2014 तक इस कार में कुछ छोटे-मोटे बदलाव किए गए और इसके बाद इस कार को एक नए लुक और डिजाइन के साथ पेश किया गया था।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Most Iconic Cars Of Indian Auto Industry Maruti 800, Hindustan Ambassador Details, Read in Hindi.
Story first published: Sunday, August 9, 2020, 7:00 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X