राइडर को पुलिस ने रोक कर मॉडिफाइड एग्जॉस्ट के बारे में गूगल पर किया सर्च, यह निकला नतीजा

केरल एमवीडी और ट्रैफिक पुलिस किसी भी तरह के यातायात उल्लंघन के खिलाफ अभियान चला रहे हैं, जिसके चलते इन दिनों दोनों ही विभाग ज्यादा सतर्क हैं। अधिकारी किसी भी तरह के मॉडिफिकेशन के खिलाफ अतिरिक्त सतर्कता बरत रहे हैं और आफ्टरमार्केट कस्टमाइजेशन पर भी कड़ी नजर रख रहे हैं।

राइडर को पुलिस ने रोक कर मॉडिफाइड एग्जॉस्ट के बारे में गूगल पर किया सर्च, यह निकला नतीजा

हाल ही में इंटरनेट पर एक वीडियो सामने आया है, जिसमें केरल ट्रैफ़िक पुलिस को एक रॉयल एनफील्ड हिमालयन को रोकते हुए दिखाया गया है। इसके बाद पुलिस ने बाइक में लगे एग्जॉस्ट के बारे में गूगल से जानकारी हासिल की कि वह एग्जॉस्ट स्टॉक है या आफ्टरमार्केट।

राइडर को पुलिस ने रोक कर मॉडिफाइड एग्जॉस्ट के बारे में गूगल पर किया सर्च, यह निकला नतीजा

जिस व्यक्ति ने यह वीडियो बनाया है वह अपनी ब्रांड न्यू रॉयल एनफील्ड हिमालयन बीएस6 से जा रहा था और उसके साथ उसका दोस्त एक अन्य बाइक पर सवार था। वीडियो में देखा जा सकता है वह दोनों सड़कों से होते जा रहे हैं और इसी बीच पुलिस उसे रोक लेती है।

MOST READ: होंडा ने इलेक्ट्रिक कांसेप्ट एसयूवी का किया खुलासा, जानें क्या है खास

राइडर को पुलिस ने रोक कर मॉडिफाइड एग्जॉस्ट के बारे में गूगल पर किया सर्च, यह निकला नतीजा

एक पुलिसकर्मी ने तब उसे अपना ड्राइविंग लाइसेंस दिखाने के लिए कहा और वहीं दूसरा पुलिसकर्मी बाइक में लगे एग्जॉस्ट के बारे में गूगल पर जानकारी लेने लगा। जब एक पुलिसकर्मी ड्राइविंग लाइसेंस की जांच कर रहा था, वहीं उसके सहयोगी ने एग्जॉस्ट के बारे में पूछना शुरू कर दिया।

राइडर को पुलिस ने रोक कर मॉडिफाइड एग्जॉस्ट के बारे में गूगल पर किया सर्च, यह निकला नतीजा

बता दें कि रॉयल एनफील्ड ने इस साल की शुरुआत में हिमालयन के बीएस6 वैरिएंट को लॉन्च किया था और इस वैरिएंट में कुछ बदलाव भी किए गए हैं। नए बीएस6 वैरिएंट में सबसे बड़ा बदलाव इसके एग्जॉस्ट में किया गया है और इसमें नया बड़ा केटेलिटिक कनवर्टर लगाया गया है।

MOST READ: होंडा की रेट्रो बाइक हाइनेस को कल किया जाएगा लॉन्च, जानें फीचर्स

रॉयल एनफील्ड हिमालयन के बीएस4 वैरिएंट की तुलना में बीएस6 वैरिएंट का कैटिलिटिक कन्वर्टर असल में काफी बड़ा दिखता है। लाइसेंस विवरण की जांच करने वाले पुलिस को राइडर के खिलाफ कोई लंबित केस नहीं मिला और उसने अपने सहयोगी के साथ मिलकर एग्जॉस्ट की जांच की।

राइडर को पुलिस ने रोक कर मॉडिफाइड एग्जॉस्ट के बारे में गूगल पर किया सर्च, यह निकला नतीजा

दोनों ही पुलिस कर्मियों ने गूगल पर यह देखा कि बाइक में लगा एग्जॉस्ट स्टॉक है या आफ्टरमार्केट है। जब गूगल पर उन्हें बाइक का एग्जॉस्ट स्टॉक लगा तो उन्होंने उस राइडर को जाने दिया। बता दें कि कुछ दिन पहले एक अन्य रॉयल एनफील्ड हिमालयन राइडर का 5000 रुपये का चालान काटा गया था, क्योंकि उसने ऑफ्टरमार्केट हैंडलबार का इस्तेमाल किया था।

Image Courtesy: ANEESH SHAJAN

Most Read Articles

Hindi
English summary
Kerala Cops Used Google To Check About Royal Enfield Himalayan Exhaust Details, Read in Hindi.
Story first published: Tuesday, September 29, 2020, 14:32 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X