India
YouTube

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

भारत सरकार में रेल मंत्री, Ashwini Vaishnaw ने जम्मू-कश्मीर में बडगाम और बारामूला सेक्शन के बीच पहली इलेक्ट्रिक ट्रेन के सफल परीक्षण की घोषणा की है। इस बात की जानकारी उन्होंने ट्विटर पर एक पोस्ट के जरिए दी है। बताया जा रहा है कि भारतीय रेलवे ने कश्मीर रेल लाइन का विद्युतीकरण शुरू कर दिया है।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

इस इलेक्ट्रिक रेलवे ट्रैक की लंबाई 136 किलोमीटर रखी गई है और इस इलेक्ट्रिक ट्रेन का ट्रायल घाटी में रेलवे के विद्युतीकरण की दिशा में एक बड़ा कदम है। अधिकारियों के अनुसार पहले चरण में बडगाम और बारामूला स्टेशनों के बीच कुल 1,271 बिजली के पोल लगाए जाएंगे।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

अधिकारियों का कहना है कि इनमें से सबसे ज्यादा 305 पोल सोपोर और बारामूला के बीच लगाए जाएंगे। इसके अलावा इस इलेक्ट्रिक ट्रेन के ट्रैक पर बडगाम से मझोम, मझोम से पट्टन, पट्टन से हमरे और हमरे से सोपोर के बीच पोल लगाए जाएंगे।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

इस मामले में कुछ रिपोर्ट्स में कहा गया है कि ओवरहेड विद्युतीकरण, जिसके लिए जून 2019 में कुछ काम शुरू किया गया था, जून 2021 तक दो साल की निर्धारित अवधि है। जानकारी के अनुसार इस इलेक्ट्रिक ट्रेन को जल्द ही सर्विस के लिए उपलब्ध कराई जाएगी।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

Ashwini Vaishnaw ने ट्वीट कर कहा कि "जम्मू-कश्मीर में बडगाम-बारामूला सेक्शन के बीच इलेक्ट्रिक ट्रेन का सफल परीक्षण हुआ। मिशन इलेक्ट्रिकफिकेशन।" परियोजना के लिए तीन साल पहले टेंडर्स जारी किए गए थे, लेकिन पूर्ण रूप से काम पिछले साल ही शुरू हुआ था।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

एक अधिकारी ने कहा कि "काजीगुंड, बडगाम और बारामूला के तीन मुख्य सबस्टेशनों के साथ विद्युतीकरण के लिए कुल मार्ग की लंबाई 137.73 किलोमीटर है, जहां से रेल लाइन के ओवरहेड उपकरणों को बिजली की आपूर्ति की जाएगी। उन्होंने कहा कि बनिहाल-बारामूला खंड में दस बिजली स्विचिंग स्टेशन होंगे।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

अधिकारी ने कहा कि "रेल लाइन के ओवरहेड उपकरण की आपूर्ति 25 KV बिजली आपूर्ति के साथ की जाएगी। इसके अलावा ट्रांसमिशन सब-स्टेशन को जम्मू-कश्मीर में विभिन्न पावर ग्रिड से 132 KV की आपूर्ति द्वारा पोषित किया जाएगा।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

अधिकारी ने कहा कि "पर्यवेक्षी नियंत्रण और डेटा अधिग्रहण प्रणाली (SCADA) "ट्रैक्शन पावर वितरण की निगरानी के लिए" बडगाम स्टेशन पर आधारित होगी।" अधिकारियों के अनुसार रेलवे ने रेल लिंक के इलेक्ट्रिफिकेशन के लिए पावर आपूर्ति के लिए जम्मू-कश्मीर प्रशासन और केंद्र सरकार से संपर्क किया था।

बडगाम से बारामूला तक दौड़ी इलेक्ट्रिक ट्रेन, भारतीय रेलवे ने किया सफल ट्रायल

अधिकारी ने कहा कि "डीजल पर रेलवे चलाने की तुलना में इलेक्ट्रिफिकेशन अधिक किफायती होगा और 40 प्रतिशत कम होगा। हर 400-420 मीटर के बाद बिजली के खंभे खड़े किए जाएंगे और यह ईंधन पर चलने वाली रेलवे की तुलना में अधिक पर्यावरण के अनुकूल होगा।"

Most Read Articles

Hindi
English summary
Indian railways tested electric train between budgam and baramulla details
Story first published: Tuesday, March 29, 2022, 19:22 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X