एक्सीडेंट में खो दिया था पैर, अब एक पैर से 10 घंटे में पूरा किया 165 किलोमीटर का सफर

दुनिया भर में प्रेरणा के लिए एक से बढ़कर मिसाल सामने आते रहते हैं, हाल ही में तमिलनाडु से भी एक ऐसा ही प्रेरणादायक घटना सामने आई है। जिसमें एक दिव्यांग व्यक्ति ने अपनी साइकिल से 165 किलोमीटर का सफर 10 घंटे में पूरा किया है।

Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg: तामिलनाडु दिव्यांग व्यक्ति एक पैर पर साइकिल से 165 किमी सफर 10 घंटे में

इस व्यक्ति ने एक एक्सीडेंट में अपना एक पैर खो दिया था। वह पब्लिक ट्रांसपोर्ट की कमी की वजह से तमिलनाडु के थन्जौर से मदुरै तक का सफर उन्हें साइकिल में करना पड़ा, वह अपने वकील को कुछ जरुरी डॉक्यूमेंट देने गये थे।

Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg: तामिलनाडु दिव्यांग व्यक्ति एक पैर पर साइकिल से 165 किमी सफर 10 घंटे में

राजा, थन्जौर जिले के पिलियारपट्टी गांव से आते हैं, 14 साल की छोटी उम्र में 1994 में एक एक्सीडेंट में वह अपनी एक टांग गंवा बैठे थे। इसके बाद राजा ने कोर्ट में क्षतिपूर्ति पाने के लिए केस दाखिल किया था जो कि लंबे समय से चला आ रहा है लेकिन अभी तक उन्हें कोई मुआवजा नहीं मिला है।

MOST READ: बोलेरो की जेसीबी से हुई जोरदार टक्कर, जादुई तरीके से बच गया बाइक वाला

Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg: तामिलनाडु दिव्यांग व्यक्ति एक पैर पर साइकिल से 165 किमी सफर 10 घंटे में

राजा अपने केस के सिलसिले में अक्सर थन्जौर से मदुरै जाते रहते हैं। वर्तमान में कोरोना लॉकडाउन की वजह से पब्लिक ट्रांसपोर्ट की कमी है, लेकिन केस अपने अंतिम चरणों में पहुंच चुका है जिस वजह से उनका कोर्ट जाना और डॉक्यूमेंट देना बहुत जरुरी था।

Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg: तामिलनाडु दिव्यांग व्यक्ति एक पैर पर साइकिल से 165 किमी सफर 10 घंटे में

ऐसे में उन्होंने साइकिल चलाते हुए ही मदुरै जाने का फैसला किया और निकल पड़े, 10 घंटे की सफर के बाद वह अपने गंतव्य पहुंच पायें। इस दौरान उन्हें कोई बड़ी मुश्किल का सामना नहीं करना पड़ा, वह मुआवजे के चलते वहां गये थे।

MOST READ: सोनू सूद फिर एक गरीब के लिए बने मसीहा, आंध्रप्रदेश के परिवार को गिफ्ट की ट्रैक्टर

Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg: तामिलनाडु दिव्यांग व्यक्ति एक पैर पर साइकिल से 165 किमी सफर 10 घंटे में

तमिलनाडु में आये दिन कोरोना के मामलें बढ़ रहे थे जिस वजह से पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सेवा शुरू नहीं हो पायी है, इस वजह से कई लोगों को समस्या हो रही है। ऐसे में लोगों को अपने जरुरी काम के लिए खुद की बाइक, कार, साइकिल में जाना पड़ रहा है।

Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg: तामिलनाडु दिव्यांग व्यक्ति एक पैर पर साइकिल से 165 किमी सफर 10 घंटे में

राजा ने बताया कि उन्हें लगा था कि कर्फ्यू 31 जुलाई को खत्म हो जाएगा और बसें चलाने लगेंगी, लेकिन उन्हें शंका भी थी कि लॉकडाउन महीनों तक चल सकते हैं, इस वजह से उन्होंने साइकिल से ही मदुरै जाने का फैसला किया।

MOST READ: बाइक के भारी शोर से हो गयी थी परेशान, जया बच्चन ने पुलिस में की शिकायत

Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg: तामिलनाडु दिव्यांग व्यक्ति एक पैर पर साइकिल से 165 किमी सफर 10 घंटे में

उन्होंने कहा कि उन्हें साइकिल चलाने का अनुभव है, ऐसे में कोई परेशानी नहीं हुई। वह कई जगह साइकिल में सफर करके जा चुके हैं। कर्फ्यू के दौरान तमिलनाडु पुलिस ने घर से 2 किलोमीटर बाहर निकलने वालों को पकड़ना शुरू कर दिया था लेकिन अब इसमें छूट दे दी गयी है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Handicapped Person Cycled 165 KM On One Leg. Read in Hindi.
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X