Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

इन दिनों बाजार में कई नई कारों को लॉन्च किया गया है। इन कारों को बेहतरीन फीचर्स और स्पेसिफिकेशन के साथ बाजार में उतारा गया है। लेकिन इनमें एक और आकर्षक चीज होती है, जिसकी वजह से लोग इसकी ओर आकर्षित होते हैं और वो है इसका इंटीरियर। जहां कुछ कारों में डार्क थीम का इंटीरियर होता है, तो वहीं कुछ कारों में लाइट कलर का इंटीरियर होता है। लेकिन ध्यान देने वाली बात है कि इनके क्या फायदे और नुकसान होते हैं।

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

लाइट कलर इंटीरियर - फायदे

1. लाइट कलर का इंटीरियर, डार्क कलर के इंटीरियर के मुकाबले ज्यादा एयरी और बड़ा महसूस होता है। अगर इंटीरियर में जगह कम है, तो क्लास्ट्रोफोबिया की समस्या नहीं होती है। इसके अलावा डार्क कलर के इंटीरियर के मुकाबले हल्के कलर का इंटीरियर ज्यादा शानदार दिखाई देता है।

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

2. इसके अलावा अगर आपकी कार ज्यादा समय तक खुले में पार्क रहती है और काफी समय तक सूर्य की रोशनी का सामना करती है, तो ऐसे में लाइट कलर इंटीरियर काफी फायदेमंद होता है। यह गर्मी को कम सोखता है और गहरे रंग के मुकाबले कम फेड होता है।

MOST READ: पियाजियो भारत में 2022 तक खोलेगी 450 नए डीलरशिप, जानें

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

लाइट कलर इंटीरियर - नुकसान

1. लाइट कलर के इंटीरियर में दाग लगने का डर ज्यादा रहता है। कार के डैशबोर्ड, दरवाजे और सीटें अगर लाइट कलर में होती हैं तो उन पर लगे दाग आसानी से दिखते हैं। लाइट कलर इंटीरियर में दिए जाने वाले कुछ कलर शेड काफी एक्ट्रोसियस होते हैं और लोगों को पसंद नहीं आते हैं।

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

2. इसके अलावा आज भी कार निर्माता कंपनियां लाइट कलर इंटीरियर के लिए ऐसे कलर शेड्स का इस्तेमाल कर रही हैं, जिन्हें काफी ओल्ड फैशन माना जाता है। इनमें से ही एक कलर है बेज। यह कलर पुराने लोगों के लिए माना जाता है।

MOST READ: प्लान बना रहे हैं सब-4-मीटर एसयूवी खरीदने का, जानें कौन सी है बेहतर

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

डार्क इंटीरियर - फायदे

1. डार्क इंटीरियर, हल्के कलर के इंटीरियर की तुलना में काफी कम गंदा होता है। खास जिस देश में हम रहते हैं, जहां धूल और गंदगी ज्यादा है, यह काफी फायदेमंद रहता है। इसके अलावा डार्क इंटीरियर लाइट कलर के मुकाबले ज्यादा स्पोर्टी लगता है, इसी के चलते ज्यादातर कारों में डार्क इंटीरियर इस्तेमाल किया जाता है।

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

2. जब अपनी कार को बेचने की बात आती है, तो याद रखें कि एक डार्क कलर का इंटीरियर एक हल्के शेड की तुलना में दिखने में कहीं अधिक तटस्थ लगता है। एक अच्छी तरह से रखे गए डार्क कलर इंटीरियर की कार को चलाने में कम परेशानी होती है।

MOST READ: फोर्ड भारत में लाएगी रेंजर रैप्टर पिकअप, जानें

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

डार्क इंटीरियर - नुकसान

1. ज्यादातर, गहरे रंग के इंटीरियर में पेश किया जाने वाला शेड काला होता है। कुछ सिल्वर या क्रोम एलीमेंट्स के अलावा कोई दूसरा कलर नहीं होता है। यह देखने में बहुत उबाऊ हो सकता है। इसके अलावा डार्क एक्सटीरियर की तरह ही डार्क इंटीरियर में एक खरोंच भी साफ दिखाई देती है।

Dark Color Vs Light Color Interior: डार्क कलर इंटीरियर या लाइट कलर इंटीरियर, जानें फायदे व नुकसान

2. हल्के कलर के इंटीरियर स्क्रेचेज और निशानों को अच्छी तरह छिपा लेते हैं। इसके अलावा अगर किसी कार के इंटीरियर में जगह की कमी है तो ऐसे में डार्क कलर का इंटीरियर काफी छोटा महसूस कराता है। इससे कार चलाने में कुछ लोगों को परेशानी हो सकती है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Dark Color Vs Light Color Interior Pros And Cons Details, Read in Hindi.
Story first published: Wednesday, December 9, 2020, 12:50 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X