अगर आप भी चलाते है ऐसी बाइक तो हो जाए सावधान, पुलिस कर रही है कार्यवाही

आये दिन पुलिस वाले सड़क सुरक्षा सहित अन्य चीजों को ध्यान में रखते हुयें नये नियम निकालते रहते है और इस वजह से अक्सर बाइक सवारों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। कई बार बेवजह बाइक वालों को कई तरह की समस्याओं का सामान करना पड़ता है।

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

चाहे अचानक से हेलमट चेकिंग की बात हो या प्रदूषण स्टिकर की चेकिंग, देश की पुलिस किसी भी मौके को भुनाने से नहीं छोड़ती है। इसका अंत यही होता है कि बाइक वाले अक्सर फाइन भरते नजर आते है। लेकिन इससे चीजों में कोई सुधार नहीं होता है।

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

चाहे अचानक से हेलमट चेकिंग की बात हो या प्रदूषण स्टिकर की चेकिंग, देश की पुलिस किसी भी मौके को भुनाने से नहीं छोड़ती है। इसका अंत यही होता है कि बाइक वाले अक्सर फाइन भरते नजर आते है। लेकिन इससे चीजों में कोई सुधार नहीं होता है।

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

पुलिस वाले फाइन तो ले लेते है लेकिन उस नियम के पालन करने वाले लोग बढ़ते ही नहीं है। इस रवैये तथा तौर तरीकों को बदलने की जरुरत है और एक ऐसा ही मिसाल हाल ही में सामने आया है जिसमें पुलिस वाले फाइन लेने की जगह कार्यवाही करते नजर आये है।

Most Read: इस इंजीनियर ने बनाया पानी से चलने वाला इंजन, जापान में करेंगे पेश

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

अक्सर कई बाइक के शौकीन लोग बाइक को अलग अलग तरह से मॉडिफाई करवाते है और इस चक्कर में कई बार नियम को भी ताक में रख देते है। लेकिन इसका खामियाजा उन्हें बाद में भुगतना पड़ता है।

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

हाल ही में रामागुंडम में पुलिस ने उन सभी बाइक वालों को रोका जिन्होंने मोटरसाइकिल के साइलेंसर को मॉडिफाई करवा रखा था तथा जरूरत से अधिक आवाज कर रहे थे। अक्सर हैदराबाद पुलिस ऐसे लोगों पर फाइन लगाती है लेकिन यहां की पुलिस ने ऐसा नहीं किया।

Most Read: यह सरदारजी अमेरिका में ट्रक चलाकर कमाते है 1.6 करोड़ रुपयें, जानिये क्या है इनकी कमाई का राज

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

रामागुंडम पुलिस सभी बाइकवालों को थाने ले गयी तथा वहां पर मेकैनिक बुलवाकर सभी बाइक के मॉडिफाई साइलेंसर को निकलवा दिया गया। हैदराबाद की पुलिस का कहना है कि पुलिस को इस बात की इजाजत नहीं है।

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

उनका कहना है कि पुलिस इस तरह की कार्यवाही नहीं कर सकती है, अगर वे चाहे तो फाइन लगाकर केस को रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी के पास भेज सकती है। लेकिन इस तरह की सीधी कार्यवाही किसी पर भी नहीं किया जा सकता है।

Most Read: 1 जून से हो जाये सावधान, हेलमेट नहीं पहनने पर अब नहीं मिलेगा पेट्रोल

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

रामागुंडम ट्रैफिक सर्कल के इंस्पेक्टर रमेश बाबू ने कहा कि "हम ध्वनि प्रदुषण बढ़ाने वाले किसी भी हरकत को सहन नहीं कर सकते और इसके खिलाफ एक्शन लेंगे। दूसरे बाइक वालों व आम जनता को होने वाली परेशानी को ध्यान में रखते हुए हमने यह स्पेशल ड्राइव आयोजित किया था।"

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

ट्रैफिक पुलिस इसके लिए जागरूकता अभियान भी चला चुकी है। हालांकि हैदराबाद ट्रैफिक पुलिस का बयान इसके सीधे उल्टा है। उनका कहना है कि "पुलिस के पास साइलेंसर हटाने के अधिकार नहीं है। हम हैदराबाद में ध्वनि प्रदूषण बढ़ाने वालों पर 1000 रुपयें का फाइन लगा रहे है।"

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

"नियम को तोड़ने के केस में हम बाइक को वाहन चेक रिपोर्ट के लिए भेज सकते है। इसके लिए पहले से नियम बनाये जा चुके है। कई बार देखा गया है कि मैन्युफैक्चरिंग के समय ही वह नियम के विरुद्ध बनाये जाते है।"

Most Read: यह है दुनिया की सबसे तेज ऑटो रिक्शा, 119 की स्पीड छूकर बनाया गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड

पुलिस कार्यवाही बाइक से साइलेंसर हटाया

इन दोनों बयानों और इस केस से यह तो पता चलता ही है कि नियम को तोड़ने पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो सकती है। लेकिन साथ ही यह भी पता चलता है कि इन सब में आम बाइक वालों तथा सामान्य लोगों को समस्याओं का सामना करना पड़ता है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Cops remove modified silencers from bikes to curb sound pollution. Read in Hindi.
Story first published: Saturday, May 18, 2019, 19:30 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X