कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

देश में कोरोना के दूसरे लहर के चलते एम्बुलेंस की भारी कमी हुई है और ऐसे में कई लोग अब वाहन को कोविड-19 मरीजों के लिए इस्तेमाल कर रहे हैं। देश की राजधानी दिल्ली का भी कोविड की वजह से बुरा हाल था ऐसे में दिल्ली के रहने वाले व्यक्ति ने अपने फोर्ड ईकोस्पोर्ट को इमरजेंसी वाहन बना दिया है, जिसमें सभी जरुरी मेडिकल उपकरण दिया गया है।

Car Turned Emergency Vehicle: कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

इस इमरजेंसी वाहन में ऑक्सीजन सिलेंडर, मेडिसिन, ऑक्सीमीटर, खाना, पानी व ऑक्सीजन कैन दिया गया है। बताते चले कि कर्मचारी नॉएडा स्थित एक आईटी कंपनी का कर्मचारी पिछले एक महीने से कोविड-19 मरीजों की मदद कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि यह अप्रैल में शुरू हुआ था जब मेरे पड़ोसियों को ऑक्सीजन की जरूरत पड़ी थी।

Car Turned Emergency Vehicle: कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

उस समय बाजार में ऑक्सीजन सिलेंडर मौजूद नहीं था और उसके बाद उन्होंने राजौरी गार्डन स्थिति गुरुद्वारा सिलेंडर का जुगाड़ हुआ था। उसके बाद अब यह व्यक्ति कई लोगो की मदद कर चुके हैं। उन्होंने आगे बताया कि मैं लगातार जरूरतमंदों की मदद कर रहा हूं। मैंने अपने कार को एम्बुलेंस बना लिया है।

MOST READ: Gurugram में इस हफ्ते के अंत में खुले 3 ड्राइव-इन वैक्सीनेशन सेंटर, जानें किन जगहों पर खुलेगा

Car Turned Emergency Vehicle: कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

अभी तक वह अपनी कार से 23 मरीजों को अस्पताल पहुंचा चुके हैं। दिल्ली में ऑक्सीजन सिलेंडर सहित कई उपकरणों की कमी के कारण उन्हें कार में ही मेडिकल उपकरण लगाने का उपाय आया। देश में एम्बुलेंस की कमी को ऐसे वाहन लगातार पूरा कर रहे हैं। नागिया इसका पूरा खर्च अपनी जेब से लेते हैं।

Car Turned Emergency Vehicle: कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

हाल ही में दिल्ली में पहला ड्राइव इन वैक्सीनेशन सेंटर 26 मई को खुला है। लोग अपनी गाड़ी में ही रहेंगे और हेल्थ वर्कर्स उनको वैक्सीन लगा देंगे। पूरी प्रक्रिया के दौरान लोगों को अपनी गाड़ी से बाहर आने की जरूरत नहीं पड़ेगी। गुरुग्राम और नोएडा में वैक्सीनेशन का यह तरीका काफी पसंद किया गया है।

MOST READ: नेशनल हाईवे पर टोल कलेक्शन 25-30 फीसदी होगा कम, महाराष्ट्र और राजस्थान को सबसे ज्यादा नुकसान

Car Turned Emergency Vehicle: कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

साउथ-वेस्ट जिले के डीएम नवीन अग्रवाल ने बताया कि इस कार्यक्रम की सफलता के बाद आगे भी इस तरह के प्रयास किए जाएंगे। इस प्रक्रिया में लोगों को भीड़ के बीच जाने की जरूरत नहीं पड़ेगी। सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखते हुए वे वैक्सीन ले सकते हैं। यह वैक्सीन दिव्यांगों के अलावा कई ऐसे लोगों के लिए बेहद उपयुक्त है जो कई वजहों से वैक्सीनेशन सेंटर आने में हिचक रहे हैं।

Car Turned Emergency Vehicle: कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

कोरोना ड्राइव इन वैक्सीनेशन सेंटर टीकारकरण केंद्र हैं जहां लोग अपने कार के अंदर बैठे ही कोरोना का टीका लगवा सकते हैं। ड्राइव इन वैक्सीनेशन सेंटर बुजुर्गों और दिव्यांगजनों के लिए सुविधाजनक है जो टीका लगवाने के लिए लंबी कतारों में खड़े नहीं रह सकते।

MOST READ: प्रधानमंत्री मोदी की विदेशी कारों का यह है देसी विकल्प, देखें

Car Turned Emergency Vehicle: कोविड-19 मरीजों के लिए दिल्ली के इस व्यक्ति ने ईकोस्पोर्ट को बनाया इमरजेंसी वाहन

फिलहाल 45 साल से ज्यादा आयु के लोग ही इस सुविधा का लाभ उठा सकते हैं। ड्राइव इन वैक्सीनेशन सेंटर में कार के अंदर वैक्सीन लगाया जाता है इसलिए यहां सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना भी आसान होता है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Ford Ecosport Turned Into Emergency Vehicle. Read in Hindi.
Story first published: Monday, May 31, 2021, 16:31 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X