तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

दुनिया में जब से वाहन का आविष्कार हुआ है तब से इसे बेहतर बनाने के लिए हजारों प्रयोग हो चुके हैं। कई प्रयोगों ने वाहन को और बेहतर, मजबूत और किफायती बनाया तो कई प्रयोग ऐसे भी हैं जिससे वाहनों को बिलकुल ही अलग स्वरुप दिया जिसकी कल्पना ही नहीं की जा सकती थी।

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

इस बीच, कुछ लोगों ने मजे और उत्सुकता के लिए वाहनों को घरों में परिवर्तित करने का विचार विकसित किया। इस प्रकार मोटरहोम, टूरिस्ट वैन, कारवां और आरवी का चलन शुरू हुआ।

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

समय के साथ ऐसे वाहन विभिन्न आकार और आकारों में विकसित हुए। वास्तव में, वे मजबूत और विश्वसनीय होने के साथ बड़े और बेहतर हो गए।

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

इसी क्रम में, नामक्कल, तमिलनाडु के एक 23 वर्षीय युवा पीआर अरुण प्रभु ने ऑटो रिक्शा पर घर बनाने प्रोजेक्ट का विचार अपने में में लाया।

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

बेंगलुरु स्थित डिजाइन और आर्किटेक्चर स्टार्टअप, बिलबोर्ड में काम करने वाले पीआर अरुण प्रभु ने एक बजाज आरई थ्री-व्हीलर पिक-अप ऑटो को एक घर में बदल दिया।

Most Read: ड्राइवरलेस कार का भारत में आना मुश्किल, नितिन गडकरी ने दिया यह बयान

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

इसे केवल जुगाड़ के रूप में नहीं देखना चाहिए क्योंकि परियोजना में इंजीनियरिंग विशेषज्ञता और पैकेजिंग दक्षता काफी प्रभावशाली है। इस ऑटो को घर का रूप देने में पांच महीने का समय लगा और एक लाख रुपये खर्च हुए।

Most Read: आखिर भारतीय क्यों बजाते हैं इतना हॉर्न, जानिए इसकी वजह

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

एक महत्वाकांक्षी बच्चे के रूप में, अरुण हमेशा जीवन में कुछ हासिल करना चाहते थे। उनके दिमाग में कई नए विचार आए, लेकिन तीन पहियों वाले ऑटोरिक्शा को घर का डिजाइन देना उन्हें सबसे पसंद आया।

Most Read: बिहार सरकार राज्य में शुरू करेगी 30 नई सीएनजी बसें, राज्य को प्रदूषण मुक्त बनाने का लिया लक्ष्य

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

तीन-पहियों वाले ऑटो रिक्शा पर घर बनाने में कई चुनौतियां सामने आ रही थीं जैसे जगह की कमी, स्थिरता, प्रोजेक्ट के लिए फंडिंग, आदि। हालांकि, सभी चुनौतिओं का सामना करते हुए अरुण ने अपनी सोच को साकार करने का ठान लिया और इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू कर दिया।

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

काम की शुरुआत करते हुए अरुण ने एक पुरानी बजाज आरई खरीदी और उसके पिछले भाग को मॉडिफाई करना शुरू कर दिया। अरुण ने इस ऑटो को घर का रूप देने के लिए काफी रिसर्च की और फिर काम को आगे बढ़ाते चले गए।

तमिलनाडु के इस युवा ने ऑटोरिक्शा को बना दिया चलता फिरता घर

इस छोटे से घर में रहने के लिए सभी सुविधाओं का इंतजाम किया गया है। इसमें एक बेडरूम, बाथरूम, रसोई, स्टडी एरिया, वॉटर हीटर और यहां तक ​​की एक शौचालय भी है। इस घर की छत पर एक 250-लीटर का वाटर टैंक भी लगाया गया है, साथ में बिजली के लिए 600 वाट का सोलर पैनल भी है जो बैटरी को चार्ज करता है। इस घर की छत पर लाउंज चेयर लगी है जिसपर बैठकर आप आराम कर सकते हैं।

Image Courtesy: The Billboards Collective/Instagram

Most Read Articles

Hindi
English summary
Bajaj RE auto-rickshaw modified into a home. Read in Hindi.
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X