कार सर्विसिंग के दौरान आपका बिल न आए ज्‍़यादा, इसलिए अाज़माएं ये ज़रूरी टिप्‍स

Posted By:

कार खरीदने के बाद ज्यादातर लोग कार की सर्विस को लेकर चिंता में पड़ जाते हैं। खरीदार सर्विस कराते समय हैरान रह जाते हैं कि कार का बिल इतना ज्यादा कैसे बन गया। आज हम आपको कार की सर्विसिंग से जुड़ी जानकारी दे रहे है, ताकि रिपेयर करते समय आपका किसी भी तरह का नुकसान ना हो। TOP 10 : ये हैं मई 2016 में सबसे ज्यादा बिकने वाली भारत की टॉप-10 कारें

कंपनी द्वारा शुरू की गई सेवा -

अभी हाल ही में फोर्ड का नया विज्ञापन आया है। इसमें दिखाते हैं कि गाड़ी सर्विसिंग कराने के लिए गई लड़की आराम से सोफे पर बैठी है और उधर गाड़ी की सर्विसिंग हो रही है। विज्ञापन में फोर्ड आपसे वादा करती है कि जितना बिल आपके मोबाइल की स्क्रीन पर दिख रहा है, उतने ही पैसे आपसे लिए जाएगें। आपने भी यह विज्ञापन देखा होगा। क्या आपने सोचा कि कंपनी को यह वादा करने के लिए खास विज्ञापन बनाने की क्या जरूरत थी? दरअसल, कंपनी जानती है कि लोग सर्विसिंग के लंबे-चौड़े बिल्स से सताए जा रहे हैं। जिससे लोगों को कई बार कार खरीदने से ज्यादा सर्विसिंग के बिल्स चुकाना मुश्किल लगता है। CAR OVERVIEW : जानिए एंट्री लेवल हैचबैक डैटसन रेड-गो के सभी वैरिएंट के बारे में

सर्विसिंग से जुड़ी इन बातों का रखेंं ध्यान -

1. ऑथोराइज्ड सर्विस सेंटर्स ज्यादातर अपने ग्राहकों के बिल को जानबूझकर बढ़ाने की कोशिश करते हैं। इसके लिए कई तरीके आज़़माए जाते हैं।

2. सर्विसिंग में कई बार ज़़रूरी कहकर कई ऐसी चीजें शामिल कर दी जाती हैं, जिनकी ज़़रूरत नहीं होती। कई बार तो ऐसी चीजों की मरम्मत करने और पार्ट्स बदलने के नाम पर पैसे लिए जाते हैं, जो ना तो बिगड़े होते हैं, ना ही उनकी मरम्मत की जाती है।

ग्राहक को बातोंं में फंसाना -

सर्विसिंग लंबा काम है, इसमें वक्त लगता है, ऐसा कहने पर कई बार लोग सर्विस सेंटर्स पर ही अपनी गाड़ी छोड़कर चले जाते हैं। कई बार लोगों के पास समय ना होने पर सर्विस सेंटर खुद ही आपकी गाड़ी अपने सेंटर पर ले जाने का इंतजाम कर देता है और फिर सर्विसिंग के बाद आपके घर पर गाड़ी पहुंचा दी जाती है। हम यह नहीं कह रहे कि आप इस पर शक करें। जरूरी नहीं कि हर सर्विस सेंटर पर ऐसा ही होता है। जरूरी यह है कि आपको अपनी गाड़ी के बारे में जानकारी कितनी है। Bike Review : जानिए कैसा है टीवीएस अपाचे का नया मॉडल आरटीआर 200 4वी एफआई

इन बातों का रखें ध्यान -

1. आपको पता होना चाहिए कि कार की बैटरी किस हालत में है, एयर कंडीशनर की वर्किंग कैसी है, किन चीजों में गड़बड़ी है और किन्हें मरम्मत की या बदलने की जरूरत है।

2. सर्विस कराते समय सबसे पहले अपनी गाड़ी को जानिए, गाड़ी को समझिए और आपको पता चल जाएगा कि उसे फिलहाल किस तरह की केयर की जरूरत है और किसकी नहीं।

अगली बार जब सर्विसिंग कराने जाएं, तो सबसे पहले वक्त निकालें अपनी और गाड़ी की सुरक्षा से समझौता बिल्कुल ना करें, साथ ही बेमतलब की सेवाओं को भी गाड़ी के लिए लेने की कोई जरूरत नहीं है क्योंकि कई बार यह नुकसानदायक साबित हो सकती हैं।

ड्राइवस्‍पार्क के ट्रेंडिंग आर्टिकल यहां पढ़ें -

Read more on #off beat
English summary
If you look after your car properly, you’ll be far less likely to be hit by hefty repair bills in the future. Find out why your car’s service manual is your best friend, how to locate a good garage and get a fair price.
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos