India
YouTube

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

देश में पिछले कुछ सालों में SUVs का चलन काफी ज्यादा बढ़ा है, फिर वो चाहे कॉम्पैक्ट SUV हो, माइक्रो SUV हो, सब-कॉम्पैक्ट SUV हो या फुल साइज SUV हो। ऐसे में देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी Maruti Suzuki India ने मध्यम वर्ग के ग्राहकों को आकर्षित करने के लिए Maruti Suzuki S-Presso को एक माइक्रो SUV के तौर पर पेश किया था।

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

हालांकि यह बिक हैचबैक सेगमेंट में रही है, लेकिन फिर भी इसकी लुक अपील एक माइक्रो SUV जैसी लगती है। लेकिन सुरक्षा के नजरिए से Maruti Suzuki की यह कार काफी पीछे दिखाई देती थी। पुराने Global NCAP क्रैश टेस्ट में इस कार ने बहुत अच्छा प्रदर्शन नहीं किया था।

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

लेकिन इस बार तस्वीर कुछ अलग है और मेड इन इंडिया Maruti Suzuki S-Presso ने Global NCAP क्रैश टेस्ट में पहले से बेहतर प्रदर्शन किया है। बता दें कि इस कार को Global NCAP ने अपने सेफ कार्स फॉर अफ्रीका प्रोग्राम के तहत क्रैश टेस्ट किया है।

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

Suzuki S-Presso को भारत से अफ्रीकी बाजारों में निर्यात किया जाता है और इसका परीक्षण किया जाता है। जानकारी के अनुसार Suzuki S-Presso को एडल्ट ऑक्यूपेंट की सेफ्टी के लिए तीन स्टार और चाइल्ड ऑक्यूपेंट की सेफ्टी के लिए दो स्टार दिए गए हैं।

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Maruti Suzuki S-Presso को पहले Global NCAP द्वारा नवंबर 2020 में क्रैश टेस्ट किया गया था। वह भी एक मेड-इन-इंडिया कार थी - लेकिन वो सिर्फ भारत में बिक्री के लिए थी। उस समय कार ने एडल्ट ऑक्यूपेंट प्रोटेक्शन के लिए 0 स्टार और चाइल्ड सेफ्टी के लिए भी 0 स्कोर किया था।

Maruti Suzuki S-Presso को उस समय केवल ड्राइवर-साइड एयरबैग की भारतीय कानूनी आवश्यकताओं के साथ बेचा जा रहा था। बुनियादी पैसिव सुरक्षा उपकरणों की कमी के साथ-साथ एक अस्थिर संरचना ने इसके खराब प्रदर्शन को जन्म दिया था।

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

Global NCAP का कहना है कि "उसने कार का फिर से परीक्षण करने का फैसला किया (भले ही यह भारतीय निर्मित भी है), क्योंकि उसने रिपोर्ट देखी थी कि दक्षिण अफ्रीका में बेचे जाने वाले संस्करण में 2020 में उनके द्वारा पहले परीक्षण की गई कार की तुलना में अधिक सुरक्षा साख थी।"

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

Global NCAP ने आगे कहा कि "हालांकि, हम पुष्टि कर सकते हैं कि मोटर वाहन सुरक्षा के लिए भारत की विधायिका में बाद में संशोधन किया गया था, साथ ही Maruti Suzuki India द्वारा किए गए कार पर एक अपडेट के परिणामस्वरूप 2020 से Maruti Suzuki S-Presso में बदलाव हुए हैं।"

Maruti Suzuki S-Presso जीरो से बन गई हीरो, Global NCAP के क्रैश टेस्ट में हासिल किए 3 सेफ्टी स्टार

संस्था ने आगे कहा कि "Maruti Suzuki ने पुष्टि की है कि दक्षिण अफ्रीका में बेचे जाने वाले Maruti Suzuki S-Presso के वर्जन भारत में घरेलू बाजार के लिए निर्मित संस्करण के समान है और इसलिए यह स्कोर यहां बेची जाने वाली कारों पर भी लागू होता है - जिसमें इसका बेस या एंट्री वैरिएंट भी शामिल है।"

Most Read Articles

Hindi
English summary
Maruti suzuki s presso gets 3 safety star in global ncap crash test details
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X