PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

गुजरात का Statue of Unity का इलाका भारत का पहला Electric Vehicle-Only Zone बनने के लिए तैयार है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा इस कदम की घोषणा के एक दिन बाद स्टैच्यू ऑफ यूनिटी एरिया डेवलपमेंट एंड टूरिज्म गवर्नेंस अथॉरिटी (SOUADTGA) ने इस बात की जानकारी दी है।

PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

SOUADTGA ने कहा है कि यह गुजरात के केवड़िया में स्थित इस इलाके को वाहनों के प्रदूषण से मुक्त क्षेत्र में विकसित किया जाएगा। प्राधिकरण ने एक बयान जारी कर कहा कि "केवड़िया में 182 मीटर ऊंचे Statue of Unity के आसपास के क्षेत्र को चरणबद्ध तरीके से Electric Vehicle-Only Zone में तब्दील किया जाएगा।"

PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

प्राधिकरण ने कहा कि "प्राधिकरण के अधीन क्षेत्र में केवल Electric Vehicles को चलने की अनुमति होगी, पर्यटकों के लिए उपलब्ध कराई गई बसें भी डीजल के बजाय बैटरी पावर पर चल रही हैं।" आपको बता दें कि शनिवार को पीएम मोदी ने इस बारे में जानकारी दी थी।

MOST READ: महिंद्रा ने एक्सड्रेनो नाम कराया भारत में रजिस्टर, जानें होगी कौन सी मॉडल

PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

उन्होंने कहा था कि "भविष्य में केवड़िया में केवल बैटरी आधारित बसें, दोपहिया और चार पहिया वाहन चलाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं।" हालांकि, इस घोषणा से पहले ही प्रधानमंत्री मोदी ने 2019 में केवल केवड़िया में Electric Vehicles को प्राथमिकता देने का फैसला किया था।

PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

योजना के तहत सरदार वल्लभ भाई पटेल की प्रतिमा के आसपास रहने वाले स्थानीय निवासियों को इलेक्ट्रिक तिपहिया वाहन खरीदने में सहायता मिलेगी। SOUADTGA ने कहा कि वह Electric Vehicle खरीदने के लिए सब्सिडी भी देगी।

MOST READ: नई Hyundai Aura वेबसाइट पर हुई लिस्ट, जानें क्या हैं नए फीचर्स और अपडेट

PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

SOUADTGA ने कहा कि "लाभार्थी अधिकारियों/कर्मचारियों को सब्सिडी के अलावा अन्य राशि का भुगतान करना होगा और उनके वेतन से ऋण की राशि को आसान किश्तों में काटने की सुविधा प्रदान की जाएगी। लाभार्थियों को यह गारंटी देनी होगी कि वे क्षेत्र में पेट्रोल-डीजल वाहन नहीं चलाएंगे।"

PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

एजेंसी के अनुसार शुरुआत में प्राधिकरण के तहत क्षेत्र में कम से कम 50 e-Rickshaw चलाने की अनुमति होगी। इन e-Rickshaw के चालक के रूप में महिलाओं को वरीयता मिलेगी। केवड़िया स्थित कौशल विकास केंद्र में महिला चालकों को नि:शुल्क प्रशिक्षण दिया जाएगा।

MOST READ: Honda ने अपनी नई CBR650R के लिए पेश की आधिकारिक एक्सेसरीज, जानें क्या है कीमत

PM मोदी ने किया ऐलान, गुजरात के Statue Of Unity इलाके में चलेंगे सिर्फ Electric Vehicles

क्षेत्र में अलग से वर्कशॉप और चार्जिंग स्टेशन भी स्थापित किया जाएगा। एजेंसी ने क्षेत्र में ई-रिक्शा चलाने वाली कंपनी को एक स्मार्ट मोबाइल ऐप विकसित करने के लिए भी कहा है, जिसमें इन e-Vehicles के किराए के अलावा पर्यटकों के आकर्षण के बारे में अन्य जानकारी का उल्लेख होगा।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Statue Of Unity Area Is Going To Be India’s First Only Electric Vehicle Zone Details, Read in Hindi.
Story first published: Monday, June 7, 2021, 15:10 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X