बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

फरवरी 2021 में टायर निर्माता कंपनी Michelin ने घोषणा की कि वह साल 2030 तक अपने टायर के निर्माण के लिए 40 प्रतिशत टिकाऊ सामग्रियों का उपयोग करेगी और साल 2050 तक इसके प्रतिशत को बढ़ाकर 100 प्रतिशत कर दिया जाएगा।

बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

ऐसे में कंपनी द्वारा निर्धारित उन लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए मिशेलिन ने कार्बोयोस नामक एक फ्रांसीसी जैव रसायन फर्म के साथ भागीदारी की है। अब, कार्बियोस ने एक ऐसी तकनीक विकसित की है जो एक एंजाइमेटिक रीसाइक्लिंग प्रक्रिया के माध्यम से प्लास्टिक को डी-पॉलीमराइज कर सकती है।

बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

खास बात यह है कि यह प्रक्रिया मिशेलिन को Plastic Waste का उपयोग करने में मदद कर सकती है, विशेष रूप से सिंगल-यूज पीईटी (पॉलीइथाइलीन टेरेफ्थेलेट) प्लास्टिक की बोतलें हैं, जिसे टायर बनाने के लिए एक घटक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है।

MOST READ: Hyundai ने Chennai Plant को 6 दिन के मेंटेनेंस के चलते किया बंद

बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

आपको बता दें कि डी-पॉलीमराइजिंग प्रक्रिया का उपयोग 100 प्रतिशत पीईटी कचरे को रीसायकल करने और फिर उन्हें हाई टेंसिटी फाइबर में बदलने के लिए किया जा सकता है जो मिशेलिन टायर बनाने की आवश्यकता को पूरा कर सकते हैं।

बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

यह हाई टेंसिटी पॉलिएस्टर टायर बनाने के लिए उपयुक्त है, क्योंकि यह टूट-फूट के लिए अत्यधिक प्रतिरोधी साबित हुआ है, इसमें अच्छी तापीय स्थिरता है और यह काफी ज्यादा टफ भी है। Michelin में पॉलिमर रिसर्च के निदेशक निकोलस सेबोथ ने इस बारे में जानकारी दी है।

MOST READ: अगले साल Hero Motocorp बाजार में पेश कर सकती है अपनी पहली Electric Scooter, जानें

बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

उन्होंने कहा कि "हम टायर के लिए पुनर्नवीनीकरण तकनीकी फाइबर का उत्पादन और परीक्षण करने वाली पहली कंपनी हैं, जिस पर हमें बहुत गर्व है। इन सुदृढीकरणों को कलर बोतलों से बनाया गया था और कार्बियोस की एंजाइमेटिक तकनीक का उपयोग करके पुनर्नवीनीकरण किया गया था।"

बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

आपको बता दें कि हर साल दुनिया भर में 1.6 बिलियन कार टायर बेचे जाते हैं और इन टायरों के निर्माण में 8,00,000 टन से अधिक पीईटी फाइबर का उपयोग किया जाता है। मिशेलिन का सुझाव है कि यह मैन्युफैक्चरिंग टायर में हाई टेंसिटी के प्लास्टिक फाइबर में लगभग 3 बिलियन प्लास्टिक की बोतलों को रीसायकल कर सकता है।

MOST READ: KTM ने Pro Experience Ride इवेंट को किया स्थगित, participants को घर पर रहने की दी सलाह

बेकार Plastic Bottles से Michelin कंपनी करेगी Tyres का उत्पादन, जानें क्या है प्रोसेस

मौजूदा समय में कार्बियोस पायलट स्तर पर प्रौद्योगिकी का परीक्षण कर रहा है और उनका कहना है कि वह सितंबर 2021 तक अपने मुख्यालय क्लरमोंट-फेरैंड में एक डेमोंस्ट्रेशन प्लांट शुरू करेगा। Clermont-Ferrand मिशेलिन के लिए मुख्यालय के रूप में भी कार्य करता है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Michelin Tyre Company Will Manufacture Tyres From Plastic Waste Details, Read in Hindi.
Story first published: Wednesday, May 12, 2021, 14:15 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X