अब ग्रीन स्टील से बनाई जाएंगी कारें, फैक्ट्रियों में CO2 उत्सर्जन होगा समाप्त

आज दुनिया भर की कई कार कंपनियां अपने उत्पाद को पर्यावरण के अनुकूल बनाने के लिए अपने उत्पाद में लगातार सुधार कर रही है। कार को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए उसे इलेक्ट्रिक में बदल दिया गया लेकिन अभी भी फैक्ट्री में एक कार को बनाने में काफी बड़ी मात्रा में कार्बन डाइऑक्साइड (CO2) का उत्सर्जन होता है। आपको बता दें कि कार के ढांचे को तैयार करने के लिए स्टील के साथ कार्बन को मिलाया जाता है। इससे भारी मात्रा में CO2 का उत्सर्जन होता है।

मर्सिडीज-बेंज कार बनाने में करेगी ग्रीन स्टील का इस्तेमाल, फैक्ट्रियों में CO2 उत्सर्जन होगा समाप्त

कार निर्माण में कार्बन उत्सर्जन को कम करने के लिए मर्सिडीज-बेंज ग्रीन स्टील प्रोजेक्ट पर काम कर रही है। मौजूदा समय में मर्सिडीज-बेंज की एक कार को बनाने के लिए स्टील और कार्बन का इस्तेमाल 50 प्रतिशत के अनुपात में होता है। स्टील में कार्बन को मिलाने के दौरान भारी मात्रा में CO2 गैस का उत्सर्जन होता है जो पर्यावरण को नुकसान पहुंचाता है।

MOST READ: MG Motor ने मई में बेची 1,016 कारें, लॉकडाउन के चलते कम हुई बिक्री

मर्सिडीज-बेंज कार बनाने में करेगी ग्रीन स्टील का इस्तेमाल, फैक्ट्रियों में CO2 उत्सर्जन होगा समाप्त

CO2 की इतनी मात्रा कार को बनाने में होने वाले कार्बन उत्सर्जन का 30 फीसदी होता है। मर्सिडीज-बेंज एक योजना के तहत कार्बन न्यूट्रल इंडस्ट्रियल स्टील को तैयार करने पर काम कर रही है जिसे तैयार करने में कार्बन उत्सर्जन को भारी मात्रा में कम किया जा सके।

मर्सिडीज-बेंज कार बनाने में करेगी ग्रीन स्टील का इस्तेमाल, फैक्ट्रियों में CO2 उत्सर्जन होगा समाप्त

कंपनी ने इस स्टील को ग्रीन स्टील नाम दिया है और इसके बड़े स्तर पर उत्पादन के लिए 8 करोड़ रुपये के एक प्रोजेट पर काम कर रही है। मर्सिडीज-बेंज का कहना है कि वह 2025 से कारों के निर्माण में ग्रीन स्टील का निर्माण शुरू करेगी। वहीं 2039 तक कंपनी कार्बन न्यूट्रल होने के लक्ष्य को हासिल कर लेगी।

MOST READ: कार कंपनियां सेल्स बढ़ाने के लिए अपना रही हैं डिजिटल तरीका, सोशल मीडिया बना नया मंच

मर्सिडीज-बेंज कार बनाने में करेगी ग्रीन स्टील का इस्तेमाल, फैक्ट्रियों में CO2 उत्सर्जन होगा समाप्त

फिलहाल, कंपनी जिन EQ इलेक्ट्रिक कारों का निर्माण कर रही है, वह भी पूरी तरह कार्बन न्यूट्रल नहीं हैं। कंपनी को उम्मीद है कि ग्रीन स्टील के इस्तेमाल से कार कंपनियां पर्यावरण में कार्बन उत्सर्जन को कम करने में मदद कर सकती हैं।

मर्सिडीज-बेंज कार बनाने में करेगी ग्रीन स्टील का इस्तेमाल, फैक्ट्रियों में CO2 उत्सर्जन होगा समाप्त

मर्सिडीज-बेंज बेंज के अलावा लग्जरी वाहन निर्माता वोल्वो भी कार्बन न्यूट्रल होने की तरफ बढ़ रही है। वोल्वो ने अपनी नई कारों में रीसायकल होने वाले कलपुर्जों का इस्तेमाल शुरू कर दिया है।

मर्सिडीज-बेंज कार बनाने में करेगी ग्रीन स्टील का इस्तेमाल, फैक्ट्रियों में CO2 उत्सर्जन होगा समाप्त

बताया जाता है कि कारों में H2 ग्रीन स्टील का इस्तेमाल किया जाएगा। इस स्टील को तैयार करने में जीवाश्म ईंधन का इस्तेमाल नहीं किया जाता है, जिससे CO2 उत्सर्जन को पूरी तरह रोक दिया जाता है। आने वाले दशकों में इन स्टील्स का वाहन उत्पादन में जोरदार इस्तेमाल होने की संभावना है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Mercedes Benz to use green steel in car manufacturing from 2025 details. Read in Hindi.
Story first published: Tuesday, June 1, 2021, 18:05 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X