चीन ने Tesla को दिया बड़ा झटका, इन जगहों पर कारों की एंट्री कर दी बैन

चीन में टेस्ला (Tesla) की मुश्किलें दिनों दिन बढ़ती जा रही हैं। कुछ दिनों पहले चीनी सरकार ने टेस्ला की कारों पर जासूसी का आरोप लगाया था। जिसके जवाब में टेस्ला ने कहा था कि उसकी कारों में ऐसे कोई उपकरण फिट नहीं किए गए हैं और उनका चीनी सरकार का जासूसी करने का कोई इरादा नहीं हैं। लेकिन इसके बावजूद भी लगता है चीनी सरकार कंपनी को माफ करने के मूड में नहीं है।

चीन ने दिया Tesla को बड़ा झटका, इन जगहों पर कारों की एंट्री कर दी बैन

अब एक बार फिर चीन की सरकार ने टेस्ला पर बड़ा एक्शन लेते हुए कंपनी की गाड़ियों को सरकारी ऑफिस के परिसर में एंट्री पर रोक लगाया दिया है। सूत्रों के मुताबिक चीनी अथॉरिटीज ने आरोप लगाया है कि टेस्ला की गाड़ियों में ऐसे कैमरे फिट किये गए हैं जिससे जासूसी की जा सकती है। सुरक्षा एजेंसियों के अनुसार ये फैसला चीन की सिक्योरिटी और गोपनीयता को देखते हुए लिया गया है।

MOST READ: Lamborghini Urus ने बर्फीली Baikal झील पर बनाया सबसे तेज रफ्तार का रिकॉर्ड, जानें कितनी थी स्पीड

चीन ने दिया Tesla को बड़ा झटका, इन जगहों पर कारों की एंट्री कर दी बैन

टेस्ला पहले भी हो चुकी है बैन

चीन ने इससे पहले कहा था कि, टेस्ला की गाडियां हाई सिक्योरिटी जोन जैसे मिलिट्री कॉम्प्लेक्स में पार्क होती हैं और फिर इन गाड़ियों का इस्तेमाल जासूसी और डेटा चुराने के लिए किया जा सकता है क्योंकि इन गाड़ियों में कैमरे फिट होते हैं। स्टेट काउंसिल इंफॉर्मेशन ऑफिस (SCIO), जो चीन की सरकार के लिए मीडिया अनुरोधों को संभालता है, उसके अधिकारियों ने अब तक इस मुद्दे पर कोई बयान नहीं दिया है।

चीन ने दिया Tesla को बड़ा झटका, इन जगहों पर कारों की एंट्री कर दी बैन

टेस्ला में लगे होते हैं कैमरे

टेस्ला कारों में इसलिए कैमरे लगे होते हैं ताकि पार्क असिस्ट, ऑटोपायलट और सेल्फ-ड्राइविंग जैसी उन्नत ड्राइव सुविधाओं में मदद मिल सके। टेस्ला की कुछ कारों में केबिन के अंदर भी एक कैमरा होता है, जो ड्राइवर के ध्यान की अवधि पर नजर रखता है।

MOST READ: Mahindra Thar की ऑस्ट्रेलिया में नहीं होगी बिक्री, जानें कंपनी ने क्या कहा

चीन ने दिया Tesla को बड़ा झटका, इन जगहों पर कारों की एंट्री कर दी बैन

इससे पहले, टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने इस बात से इनकार किया था कि उनकी कंपनी चीन के लिए कोई खतरा है। सैन्य परिसरों में टेस्ला कारों पर मार्च के प्रतिबंध के कुछ दिनों बाद, मस्क ने चीन से कहा कि अगर उनकी कंपनी चीन या कहीं भी जासूसी करने के लिए कारों का इस्तेमाल करती है, तो इसे बंद कर दिया जाएगा।

चीन ने दिया Tesla को बड़ा झटका, इन जगहों पर कारों की एंट्री कर दी बैन

टेस्ला दे चुकी है सफाई

अधिकारियों को शांत करने के प्रयास में, टेस्ला ने यह भी स्पष्ट किया था कि उसकी इलेक्ट्रिक कारों पर कैमरे उत्तरी अमेरिका के बाहर कहीं भी सक्रिय नहीं हैं और ग्राहकों के पास भी इन कैमरों को चालू या बंद करने का विकल्प मौजूद है।

चीन ने दिया Tesla को बड़ा झटका, इन जगहों पर कारों की एंट्री कर दी बैन

बता दें कि अमेरिका के बाहर, चीन टेस्ला का दूसरा सबसे बड़ा बाजार है। टेस्ला की वैश्विक बिक्री का लगभग 30 प्रतिशत चीन से आता है, जो ऑटो उद्योग के लिए दुनिया का सबसे बड़ा बाजार है। चीन के शंघाई शहर में टेस्ला ने गीगाफैक्ट्री स्थापित किया है, जहां मॉडल 3 सेडान और मॉडल वाई एसयूवी का उत्पादन किया जाता है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
China bans Tesla cars inside government office premises alleged for spying data. Read in Hindi.
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X