Top 10 Most Exported Cars 2020: फोर्ड इकोस्पोर्ट ने सभी कारों को पछाड़ा, जानें कितनी हुई निर्यात

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।

हालांकि निर्यात के मामले में हम ऐसा नहीं कह सकते हैं और खास कर इस वित्तीय वर्ष में निर्यात काफी कम रहा है। अप्रैल से अक्टूबर 2020 के बीच कार निर्माता कंपनियों ने कुल 1,95,296 पैसेंजर कारों को निर्यात किया है। बता दें कि इस निर्यात में 52.9 प्रतिशत की कमी आई है।

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।

जानकारी के अनुसार इस वित्तीय वर्ष में हुंडई कारों के सबसे बड़े निर्यातक के रूप में उभरा है। हालांकि नंबर-1 एक्सपोर्टेड कार की बात करें तो पहले स्थान फोर्ड की कॉम्पैक्ट एसयूवी फोर्ड इकोस्पोर्ट का है, जिसकी मांग लगातार बढ़ रही है। दूसरे स्थान पर जनरल मोटर्स की बीट हैचबैक रही है।

MOST READ: बेस्ट सेलिंग थ्री व्हीलर: बजाज आरई ने मारी बाजी

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।

इस कार की कुल 21,705 यूनिट निर्यात की गई हैं, जबकि पहले इसकी 45,644 यूनिट निर्यात की गई थी और इसके निर्यात में कुल 52 प्रतिशत की गिरावट आई है। अप्रैल से अक्टूबर 2020 के बीच फोर्ड ने इकोस्पोर्ट की कुल 23,190 यूनिट निर्यात की हैं और 47 प्रतिशत की गिरावट आई है।

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।
Rank Exported Cars (YoY) Apr-Oct 2020 Apr-Oct 2019 Growth (%)
1 Ford EcoSport 23,190 43,769 -47
2 GM Beat 21,705 45,644 -52
3 Kia Seltos 20,293 2,321 774
4 Volkswagen Vento 17,286 31,758 -46
5 Hyundai Verna 15,789 39,005 -60
6 Maruti S-Presso 11,713 195 5907
7 Maruti Baleno 9,811 22,828 -57
8 Hyundai Creta 7,437 25,206 -70
9 Hyundai Grand i10 6,436 21,591 -70
10 Hyundai Aura 6,047 - -

MOST READ: एमजी मोटर की एसयूवी पर पहली बार मिल रहा डिस्काउंट

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।

किया मोटर्स की बात करें तो किया ने कुल 20,819 यूनिट कारों को निर्यात किया है। इनमें से 20,293 यूनिट केवल किया सेल्टॉस के ही हैं। फॉक्सवैगन ने इस दौरान अपनी कॉम्पैक्ट सेडान वेंटो की 17,287 यूनिट को निर्यात किया है, जबकि पिछले साल इस दौरान 31,758 यूनिट निर्यात किए थे।

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।

फॉक्सवैगन की इस कार के निर्यात में 46 प्रतिशत की गिरावट देखने को मिली है। इस कार की प्रमुख प्रतिद्वंद्वियों में से एक हुंडई वरना के निर्यात में भी 60 प्रतिशत की गिरावट आई है और इसके कुल 15,789 यूनिट निर्यात किए गए हैं, जबकि बीते साल इसी दौरान 39,000 से ज्यादा यूनिट निर्यात हुई थीं।

MOST READ: यामाहा ने एफजेड 25एस के मार्वेल एडिशन को किया लाॅन्च

ऑटोमोबाइल इंडस्ट्री पिछले कुछ महीनों से मुश्किल दौर से गुजर रही है। हालांकि अब हालात पहले से काफी सुधर गए हैं और वाहन निर्माता कंपनियों ने त्योहारी सीजन में घरेलू बाजार में अच्छी बिक्री की है। वाहन निर्माता कंपनियों ने आकर्षक ऑफर्स और स्पेशल एडिशन पेश कर बिक्री को काफी बेहतर किया।

मारुति सुजुकी की एस-प्रेसो और बलेनो क्रमशः पांचवीं और छठे स्थान पर रहीं हैं। जहां मारुति एस-प्रेसो के निर्यात में भारी बढ़ोत्तरी हुई है। इस कार की कुल 11,713 यूनिट्स को निर्यात किया गया है। वहीं बलेनो की 9,811 यूनिट, हुंडई क्रेटा की 7,437 यूनिट, हुंडई ग्रैंड आई10 की 6,436 यूनिट निर्यात की गई हैं।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Top 10 Most Exported Cars of 2020 Ford EcoSport, GM Beat And More Details, Read in Hindi.
Story first published: Wednesday, November 25, 2020, 10:22 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X