केंद्र सरकार की उत्पादन प्रोत्साहन योजना से वाहन उद्योग को मिलेगी 57,042 करोड़ रुपये की सहायता

केंद्र सरकार ने गुरुवार को कैबिनेट की एक बैठक में 10 प्रमुख क्षेत्रों के लिए 1.46 लाख करोड़ रुपये की उत्पादन प्रोत्साहन योजना (पीएलआई) को स्वीकृति दी है। इस योजना के तहत भारतीय ऑटोमोबाइल उद्योग और उपकरण निर्माता सबसे अधिक लाभान्वित होंगे। केंद्र सरकार की इस प्रोत्साहन योजना का भारतीय ऑटोमोबाइल संघ (FADA) ने समर्थन किया है।

केंद्र सरकार की उत्पादन प्रोत्साहन योजना से वाहन उद्योग को मिलेगी 57,042 करोड़ रुपये की सहायता

फाडा ने प्रोत्साहन योजना का स्वागत करते हुए कहा है कि भारतीय ऑटोमोबाइल उद्योग को इस स्कीम का सबसे अधिक फायदा पहुंचेगा। फाडा ने बताया कि अगले पांच सालों में ऑटोमोबाइल उद्योग को 57,042 करोड़ रुपये की सहायता दी जाएगी। इस योजना को भारतीय उद्योगों के निर्माण क्षमताओं को बढ़ाने और उत्पादों में वैश्विक स्तर पर सुधार लाने के मकसद से लाया गया है।

केंद्र सरकार की उत्पादन प्रोत्साहन योजना से वाहन उद्योग को मिलेगी 57,042 करोड़ रुपये की सहायता

यह योजना भारतीय निर्माताओं को विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी बनाएगी, निवेश आकर्षित करेगी और निर्यात बढ़ाने में सहायता करेगी। कैबिनेट की बैठक में इस योजना की घोषणा केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावेदकर ने की है।

MOST READ: मारुति ने स्पेशल एडिशन अल्टो, सेलेरियो और वैगनआर को किया लाॅन्च

केंद्र सरकार की उत्पादन प्रोत्साहन योजना से वाहन उद्योग को मिलेगी 57,042 करोड़ रुपये की सहायता

बता दें कि पिछले कुछ सालों में ऑटोमोबाइल सेक्टर में बिक्री के आभाव में मंदी जैसी स्थिति से गुजर रहा है। इस समस्या को पिछले कुछ महीनो चले लॉक डाउन ने और गहरा बना दिया।

केंद्र सरकार की उत्पादन प्रोत्साहन योजना से वाहन उद्योग को मिलेगी 57,042 करोड़ रुपये की सहायता

मार्च के बाद लगातार तीन महोनों तक ऑटोमोबाइल कंपनियों की बिक्री न के बराबर हो गई थी। हालांकि, लॉकडाउन के बाद ऑटोमोबाइल शोरूम के खुल जाने से बिक्री सामान्य स्तर पर पहुँचने लगी है।

MOST READ: टाटा ने टौरियो, एपिक, स्पाईक जैसे नाम किये रजिस्टर, जानें कौन से होंगे

केंद्र सरकार की उत्पादन प्रोत्साहन योजना से वाहन उद्योग को मिलेगी 57,042 करोड़ रुपये की सहायता

इसक सबसे बड़ा उदहारण सितंबर और अक्टूबर महीने में वाहनों की बढ़ती बिक्री है। ऑटोमोबाइल उद्योग से जुड़ी लगभग सभी कंपनियों ने पिछले साल अक्टूबर के महीने इस साल अक्टूबर महीने से अधिक बिक्री की है।

केंद्र सरकार की उत्पादन प्रोत्साहन योजना से वाहन उद्योग को मिलेगी 57,042 करोड़ रुपये की सहायता

लॉकडाउन के बाद निर्माण संयंत्रों के दोबारा शुरू होने से निर्माण क्षेत्र पुनर्जीवित हो गया है और मांग के अनुसार उत्पादन में भी वृद्धि होने लगी है। हालांकि, 120 दिन चली तालाबंदी से देश की अर्थव्यवस्था चरमरा गई है। उद्योगों पर केंद्रित सरकार की इस प्रोत्साहन योजना से ऑटोमोबाइल और उपकरण निर्माताओं को काफी लाभ मिलेगा।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Central government approves schemes worth Rs 57,042 crore for automobile sector. Read in Hindi.
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X