Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

हाल ही में परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने जानकारी दी है कि मंत्रालय फ्लेक्सिबल इंजन पर काम कर रही है, और ग्राहक को फ्यूल का विकल्प चुनने मिलेगा। नितिन गडकरी ने बताया कि पेट्रोल व एथेनाल के बीच फ्यूल का विकल्प चुनने का मिल सकता है।

Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

गडकरी ने जानकारी दी है कि ग्राहकों को वाहन इंजन के लिए 100 प्रतिशत पेट्रोल व एथेनाल का विकल्प चुनने को मिलेगा। वर्तमान में एथेनाल को अनाज से बनाने पर जोर दिया जा रहा है, वर्तमान में कई विकल्प पर विचार किया जा रहा है।

Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

देश भर में बढ़ते प्रदूषण को देखतें हुए वैकल्पिक फ्यूल की तलाश की जा रही है, वर्तमान में इलेक्ट्रिक को बढ़ावा दिया जा रहा है लेकिन इन्फ्रास्ट्रक्चर की कमी को देखतें हुए बहुत से लोग इसे अपनाने से कतरा रहे हैं। इस वजह से नए विकल्प लाने की कोशिश की जा रही है।

MOST READ: 2020 ऑटो स्टोरीज: नई कारों में कनेक्टेड तकनीक, फायदे व नुकसान

Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

एथेनाल गैस स्टेशन से गन्ना किसानों को भी लाभ पहुंचेगा। भारत में एथेनाल गैस स्टेशन से अर्थव्यवस्था में लगभग 2 करोड़ तक की बढ़ोत्तरी का अनुमान है। एथेनाल का इस्तेमाल रॉकेट के ईंधने के रूप में किया जाता रहा है। वर्तमान में यह रेसिंग विमान के लिए भी इस्तेमाल में लाया जाता है। यह पेट्रोल से काफी सस्ता भी है।

Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

एथेनाल एक तरह का अल्कोहल है जिसे पेट्रोल में मिलाकर गाड़ियों में फ्यूल की तरह इस्तेमाल किया जा सकता है। एथेनालका उत्पादन यूं तो मुख्य रूप से गन्ने की फसल से होता है लेकिन शर्करा वाली कई अन्य फसलों से भी इसे तैयार किया जा सकता है। इससे खेती और पर्यावरण दोनों को फायदा होता है।

MOST READ: सर्दियों में कम पैसे खर्च कर कैसे रखें अपनी कार का ख्याल?

Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

भारतीय परिपेक्ष्य में देखा जाए तो एथेनाल ऊर्जा का अक्षय स्रोत है क्योंकि भारत में गन्ने की फसल की कमी कभी नहीं हो सकती। एथेनाल के इस्तेमाल से 35 फीसदी कम कार्बन मोनोऑक्साइड का उत्सर्जन होता है। इतना ही नहीं यह कार्बन मोनोऑक्साइड उत्सर्जन और सल्फर डाइऑक्साइड को भी कम करता है।

Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

इसके अलावा एथेनाल हाइड्रोकार्बन के उत्सर्जन को भी कम करता है। एथेनाल में 35 फीसदी फीसद ऑक्सीजन होता है। एथेनाल फ्यूल को इस्तेमाल करने से नाइट्रोजन ऑक्साइड उत्सर्जन में कमी आती है। एथेनाल इको-फ्रैंडली फ्यूल है और पर्यावरण को जीवाश्म ईंधन से होने वाले खतरों से सुरक्षित रखता है।

MOST READ: 2020 ऑटो स्टोरीज: इस साल इलेक्ट्रिक वाहनों का बढ़ा ट्रेंड, बढ़ी बिक्री

Cars With Flexible Engine: अब कारों में मिलेंगे फ्लेक्सिबल इंजन, नितिन गडकरी ने कही यह बात

इस फ्यूल को गन्ने से तैयार किया जाता है। कम लागत पर अधिक ऑक्टेन नंबर देता है और MTBE जैसे खतरनाक फ्यूल के लिए ऑप्शन के रूप में काम करता है।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Nitin Gadkari says soon cars will have flexible engines. Read in Hindi.
Story first published: Friday, December 11, 2020, 20:59 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X