मारुति बेचती है 70 प्रतिशत बीएस-6 वाले पेट्रोल वाहन

मारुति सुजुकी ने एक रिपोर्ट में कहा है कि कंपनी को अपने ग्राहकों से बीएस-6 श्रेणी के वाहनों के लिए उत्साहजनक प्रतिक्रिया मिली है। वर्तमान में बीएस-6 मॉडल कुल बिकने वाले पेट्रोल वाहनों का लगभग 70 प्रतिशत है।

मारुति के 70 प्रतिशत पेट्रोल कारों में बीएस-6 इंजन, वातावरण को शुद्ध रखने में कर रहे है मदद

अप्रैल 2019 में मारुति सुजुकी ने अपनी पहली बीएस-6 पेट्रोल कार, बलेनो को लॉन्च किया था। इसके बाद ऑल्टो 800, वैगनआर, स्विफ्ट, डिजायर और एर्टिगा के बीएस-6 पेट्रोल वेरिएंट को लॉन्च किया गया था।

मारुति के 70 प्रतिशत पेट्रोल कारों में बीएस-6 इंजन, वातावरण को शुद्ध रखने में कर रहे है मदद

सरकार द्वारा बीएस-6 के आधिकारिक घोषणा करने के बहुत पहले ही कंपनी ने योजना बना ली थी। हाल ही में लॉन्च किया गया एक्सएल 6, मल्टी पर्पस व्हीकल (एमपीवी) भी बीएस-6 इंजन के साथ आ रहे है।

मारुति के 70 प्रतिशत पेट्रोल कारों में बीएस-6 इंजन, वातावरण को शुद्ध रखने में कर रहे है मदद

मारुती सुजुकी ने कहा है कि एक जिम्मेदार और पर्यावरण के प्रति जागरूक ब्रांड होने के नाते, कंपनी ने सरकार के दृष्टिकोण को समझते हुए अप्रैल 2020 से पहले बीएस-6 वाहनों को बाजार में उतार दिया है। हमारे शीर्ष बिकने वाले मॉडल में से सात बीएस 6 अनुपालन की समय सीमा से बहुत पहले ही उपलब्ध हैं।

मारुति के 70 प्रतिशत पेट्रोल कारों में बीएस-6 इंजन, वातावरण को शुद्ध रखने में कर रहे है मदद

कंपनी निर्धारित समयसीमा से पहले ही अपनी सभी रेंज की पेट्रोल कारों को बीएस-6 में बदलने के कोशिश कर रही है। सुजुकी के बीएस-6 वाहन ऐसी तकनीक का उपयोग करते हैं जो उत्सर्जन को कम करने में मदद करता है।

Most Read: बिना हेलमेट डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट कर रहे थे बाइक की सवारी, ट्रैफिक पुलिस ने रोका

मारुति के 70 प्रतिशत पेट्रोल कारों में बीएस-6 इंजन, वातावरण को शुद्ध रखने में कर रहे है मदद

इस प्रकार कंपनी एक स्वच्छ और हरियाली वाला वातावरण बनाने में योगदान दे रही है। कंपनी ने बीएस-6 वाहनों को शुरुआती दौर में अपनाने वाले ग्राहकों के प्रति आभार व्यक्त किया है।

Most Read: बुलेट सवार पर हुआ 35,000 रुपयें का जुर्माना, साइलेंसर से निकल रही थी पटाखे जैसी तेज आवाज

मारुति के 70 प्रतिशत पेट्रोल कारों में बीएस-6 इंजन, वातावरण को शुद्ध रखने में कर रहे है मदद

कंपनी का दावा है कि बीएस 6-पेट्रोल वाहनों से नाइट्रोजन ऑक्साइड उत्सर्जन में लगभग 25 प्रतिशत की भारी कमी आएगी। बीएस 6-पेट्रोल वाहनों बीएस-4 पेट्रोल पर भी चल सकते हैं।

Most Read:ट्रैफिक नियम तोड़ने पर देना होगा अधिक इंश्योरेंस प्रीमियम, जल्द ही होगी शुरू

मारुति के 70 प्रतिशत पेट्रोल कारों में बीएस-6 इंजन, वातावरण को शुद्ध रखने में कर रहे है मदद

ड्राइवस्पार्क के विचार

मारुती सुजुकी अपनी सभी पेट्रोल कारों को अप्रैल 2019 से पहले बीएस-6 में लाने का प्रयास कर रही है। नए उत्सर्जन मानकों के लागू होने के बाद बीएस-6 के वाहनों की मांग बढ़ेगी। कंपनी जल्द से जल्द बीएस-6 कारों को बाजार में लाना चाहती है जिससे मांग होने पर यह बाजार में उपलब्ध रहे।

Most Read Articles

Hindi
English summary
Maruti Suzuki selling 70 percent of petrol cars having BS-6 engines. Read in Hindi
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X