अब साल के पूरे 12 महिने लद्दाख की सड़कों पर दौड़ाइये गाड़ी

जब बात एडवेंचर और ड्राइविंग की आती है तो लेह, लद्दाख एक ऐसा नाम है जो सबके जेहन में सबसे पहले आता है। कश्मीर की उंचाईयों पर बसे लद्दाख की बर्फीली सड़कों पर हर कोई बाइक और कार दौड़ाना चाहता है। लेकिन कई बार खराब मौसम के चलते यहां पर सड़कों पर आवागमन बाधित हो जाता था जिसकी वजह से यहां पर टूरिस्टों का आना बंद हो जाता था। लेकिन अब ऐसा नहीं है अब आप पूरे साल लद्दाख की मनमौजी और रोमांचक यात्रा का मजा ले सकते हैं। इसके लिए यहां पर बाकायदा डबल लेन सड़कें बनाने की योजना बन रही है, अब तक ये सिंगल लेन की ही सड़कें थी।

अब पूरे साल लद्दाख की सड़कों पर दौड़ाईये गाड़ी

आपको बता दें कि, लद्दाख कश्मीर के प्रमुख टूरिस्ट प्लेसों में से एक है। यहां पर टूरिस्टों का आगमन हमेशा होता रहता है। लेकिन ठंड के मौसम में बर्फबारी के दौरान यहां पर सड़कों का आपसी कनेक्शन बाधित हो जाता है। जिसके चलते बॉर्डर रोड आॅर्गनाइजेशन को सड़कों पर जान माल की सुरक्षा के लिए लोगों का आवागमन रोकना पड़ता है। इससे यहां के स्थानीय निवासियों को भी कई तर​ह की मुश्किलों का सामना करना पड़ता है।

अब पूरे साल लद्दाख की सड़कों पर दौड़ाईये गाड़ी

दरअसल यहां के स्थानीय लोगों की जीविका टूरिस्टों के आगमन पर ही निर्भर है। जब मौसम खराब होता है और सड़कों का कनेक्शन टूट जाता है तो टूरिस्ट आना बंद कर देते हैं जिसका सीधा असर स्थानीय लोगों की जीविका पर भी पड़ता है। विदेशी सैलानियों के अलावा देश भर से बाइकिंग के शौकीन लद्दाख की बर्फीली सड़कों पर बाइक दौड़ाने के लिए बेताब रहते हैं। लेकिन अब उन्हें मायूस होने की जरूरत नहीं है। क्योंकि बॉर्डर रोड आॅर्गनाइजेशन ने इन सड़कों को डबल लेन करने की योजना बनाई है।

अब पूरे साल लद्दाख की सड़कों पर दौड़ाईये गाड़ी

बॉर्डर रोड आॅर्गनाइजेशन के प्रवक्ता ने बताया कि, लद्दाख को अब हिमाचल प्रदेश के मनाली से डबल लेन की सड़क से जोड़ा जायेगा। ये सड़क करगिल जिले के जंसकर को होते हुए जायेगी। इसके पहले श्रीनगर-लेह रोड़ ठंड के समय बर्फबारी के चलते बंद कर दी जाती थी। जिसके चलते कई महीनों तक यहां पर रोड़ का कनेक्शन टूट जाया करता था। जिसके चलते सैलानियों का आवागमन भी बाधित होता था।

अब पूरे साल लद्दाख की सड़कों पर दौड़ाईये गाड़ी

लेकिन अब ये नई डॅबल लेन रोड़ यहां पर बारहों महीनों तक आसानी से ड्राइविंग के लिए रोड़ मुहैया करायेगी। बॉर्डर रोड आॅर्गनाइजेशन के विजयक प्रोजेक्ट के अन्तर्गत इस रोड़ का निर्माण किया जायेगा। रास्ते के बड़े पत्थरों को अत्याधुनिक मशीनरी द्वारा काटकर चलने योग्य सड़क का निर्माण किया जायेगा। जिससे रोड़ को ज्यादा से ज्यादा चौड़ा किया जा सके। लद्दाख की कंडीशन को देखते हुए यहां पर सामान्य सड़क की कल्पना करना भी मुश्किल है। लेकिन देश की सरकार और आर्मी के चलते यहां पर बेहतरीन सड़क का इंतजाम किया जा रहा है।

अब पूरे साल लद्दाख की सड़कों पर दौड़ाईये गाड़ी

यदि यहां पर सड़कों को बेहतर न किया जाये तो ये हिस्सा लगभग कट सा जायेगा। ये नया प्रोजेक्ट करगिल जैसे संवेदनशील इलाके को आसानी से जोड़ने का काम करेगा। ताकि पाकिस्तान दोबारा से 1999 जैसे हालात पैदा न कर सके। इस सड़क के शुरूआत से न केवल ट्रांस्पोर्टेशन बेहतर होगा बल्कि देश के दूसरे हिस्से और अन्य राज्यों से यहां पर आवागमन भी बेहतर होगा। ये सड़क पूरे देश के लिए बहुत ही जरूरी है। आपको बता दें कि, ये तीसरी सड़क होगी जो कि लद्दाख को किसी अन्य राज्य से जोड़ेगी। इससे पूर्व श्रीनगर-लेह रूट और मनाली-लेह रूट ही मौजूद था।

अब पूरे साल लद्दाख की सड़कों पर दौड़ाईये गाड़ी

अब लेह, लद्दाख की सड़कों पर एडवेंचरस राइड के लिए जाने वाले युवाओं के लिए बेहतर मौका है। अब आप आसानी से बारहों महीनें लद्दाख की वादियों का मजा ले सकेंगे।

Hindi
English summary
Ladakh is one of the most popular tourist destinations in Kashmir. With more tourists visiting the area every year, Border Roads Organisation has now decided to make it accessible in all weather conditions."The cold desert region will now be accessible by a double-lane motorable road from Manali in Himachal Pradesh via Zanskar in Kargil district," a spokesman of the BRO said.
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more