अब रेलवे स्टेशनों पर चार्ज करें इलेक्ट्रिक वाहन - रेल मंत्रालय की योजना - दिल्ली से होगी शुरुआत

By Abhishek Dubey

कार्बन उत्सर्जन से पर्यावरण पर पड़ते दुष्प्रभाव और कच्चे तेल के आयत से भारतीय खजाने पर पड़ने वाले असर को कम करने के लिए भारत सरकार लगातार प्राकृतिक उर्जा और इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल को बढ़ावा दे रही है। भारत सरकार के इस मिशन को अब भारतीय रेलवे का सहारा मिला है। जल्द ही रेल मंत्रालय इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के लिए रेलवे स्टेशन के पार्किंग में इलेक्ट्रिक वेहिकल चार्जिंग स्टेशन्स बनाने की योजना ला रही है।

अब रेलवे स्टेशनों पर चार्ज किये जा सकेंगे इलेक्ट्रिक वाहन - रेल मंत्रालय की योजना - दिल्ली से होगी शुरुआत

पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर शुरुआत में इस योजना के तहत केवल दो रेलवे स्टेशनों नई दिल्ली और निजामुद्दीन रेलवे स्टेशन पर चार्जिंग स्टेशन्स बनाये जायेंगे। रेलवे मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी की माने तो चार्जिंग स्टेशन्स बनाने का काम शुरू भी हो चुका है। योजना के अनुसार हर चार्जिंग स्टेशन्स में पांच फ़ास्ट चार्जिंग DC पॉइंट्स लगाए जायेंगे जो लगभग 10 इलेक्ट्रिक वाहनों को चार्ज कर सकेंगी।

अब रेलवे स्टेशनों पर चार्ज किये जा सकेंगे इलेक्ट्रिक वाहन - रेल मंत्रालय की योजना - दिल्ली से होगी शुरुआत

आम तौर पर AC चार्जर्स एक इलेक्ट्रिक वाहन को पूरी तरह से चार्ज करने में लगभग 6 घंटा लेती हैं वंहि DC चार्जर महज कुछ घंटों में ही इलेक्ट्रिक वाहन को पूरी तरह चार्ज कर देती हैं। रेलवे स्टेशनों पर उपलब्ध फ़ास्ट चार्जिंग पॉइंट् जहां रेलवे की आमदनी बढ़ाएंगे वंहीं ये इलेक्ट्रिक वाहनों के इस्तेमाल को बढ़ावा भी देंगे।

अब रेलवे स्टेशनों पर चार्ज किये जा सकेंगे इलेक्ट्रिक वाहन - रेल मंत्रालय की योजना - दिल्ली से होगी शुरुआत

इससे एक तरफ तो देश में इलेक्ट्रिक वाहन चार्जिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित होगा वंहि दूसरी तरफ इंधनों के इस्तेमाल से होनेवाला हानिकारक कार्बन उत्सर्जन भी कम होगा। इसके अलावा यदि भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों का इस्तेमाल बढ़ता है तो भारत में विदेशों से होनेवाले कच्चे तेल का आयात भी कम हो जायेगा। इसके साथ-साथ पेरिस जलवायु समझौते के लक्ष्य को पाने में भी सहायता मिलेगी।

अब रेलवे स्टेशनों पर चार्ज किये जा सकेंगे इलेक्ट्रिक वाहन - रेल मंत्रालय की योजना - दिल्ली से होगी शुरुआत

इलेक्ट्रिक वेहिकल चार्जिंग स्टेशन्स लगाने की जिम्म्मेदारी BSES - राजधानी पावर लिमिटेड (BRPL) को दी गई है। रेल मंत्रालय के अनुसार इन चार्जिंग स्टेशन्स को बनाने का कुल खर्च 15 लाख रुपए और प्रति चार्जिंग पॉइंट 3 लाख रुपए आयेगा। इन चार्जिंग स्टेशनों को संचालित करने की जिम्मेदारी BRPL की होगी और इसकी कीमत दिल्ली इलेक्ट्रिसिटी रेगुलेटरी कमीशन (DERC) द्वारा तय की जाएगी।

Hindi
English summary
Indian Railways has come up with a plan to set up electric vehicle charging stations. The charging points will be installed in the parking lots of the train stations. Initially, the charging stations will be set up at New Delhi and Nizamuddin railway stations. Read in hindi.
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more