हुंडई और आॅडी बने पार्टनर, मिलकर बनायेंगे बेहतरीन कारें

जब दो दिग्गज हाथ मिलाते हैं तो एक सुनहरे भविष्य की नींव रखी जाती है, और इसी नींव पर आगे चलकर एक बुलंद इमारत भी तैयार होती है। इसी तर्ज पर दक्षिण कोरिया की वाहन निर्माता कंपनी हुंडई और जर्मनी की प्रमुख लग्जरी कार निर्माता कंपनी आॅडी एजी ने हाथ मिलाया है और एक बहुवर्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किया है। अब ये दोनों वाहन निर्माता कंपनियां एक साथ मिलकर वाहनों के निर्माण में अपनी तकनीकी दक्षता, ज्ञान और संसाधनों को साझा करेंगी।

हुंडई और आॅडी बने पार्टनर, मिलकर बनायेंगे बेहतरीन कारें

ऐसा पहली बार होगा जब हुंडई और आॅडी ने ऐसा कोई एग्रीमेंट किया हो। दोनों वाहन निर्माताओं ने संयुक्त रूप से इस बात की घोषणा की है कि, दोनों एक साथ मिलकर काम करेंगे। इसके अलावा दोनों कंपनियां इस समझौते के तहत फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक व्हीकल कंपोनेंट्स और तकनीकी के ब्रॉड रेंज को विकसित करेंगे।

हुंडई और आॅडी बने पार्टनर, मिलकर बनायेंगे बेहतरीन कारें

जानकारों का मानना है कि, इन दोनों कंपनियों का एक साथ आना आॅटोमोबाइल इंडस्ट्री को एक नई दिशा देगा। इसके अलावा फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक व्हीकल सेग्मेंट में ये दोनों कंपनियां बेहद ही शानदार काम भी करेंगी। जिससे आॅटोमोबाइल इंडस्ट्री का भविष्य और भी बेहतर होगा। इस समझौते में इस बात का जिक्र नहीं किया गया है कि, इसकी तय सीमा या फिर समय क्या होगा। ऐसा माना जा रहा है कि, ये अनिश्चितकालिन समझौता है। इसमें समय या फिर वर्ष की कोई पाबंदी नहीं है।

हुंडई और आॅडी बने पार्टनर, मिलकर बनायेंगे बेहतरीन कारें

इस समझौते से आॅडी और हुंडई दोनों को ही अपने रिसर्च और डेवलेप्मेंट प्लान में फायदा मिलेगा। इसके अलावा दोनों कंपनियां परस्पर एक दूसरे से अपने फ्यूल सेल कंपोनेंट्स को भी साझा करेंगे। आपको बता दें कि, हुंडई पहले से ही फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक व्हीकल तकनीकी का इस्तेमाल अपनी बेहतरीन कार ix35 क्रॉसओवर में कर रही है। इस क्रॉसओवर को कंपनी ने सन 2013 में पेश किया था और ये दुनिया भर के तकरीबन 18 मुल्कों में सफलता पूर्वक बेची जा रही है।

हुंडई और आॅडी बने पार्टनर, मिलकर बनायेंगे बेहतरीन कारें

अब सबसे पहले ये देखना दिलचस्प होगा कि, हुंडई अपनी इस क्रॉसओवर की फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक व्हीकल तकनीकी को आॅडी से कैसे साझा करती है और आॅडी इस तकनीकी ज्ञान और रिसर्च का किस प्रकार प्रयोग करती है। इस एग्रीमेंट के अनुसार आॅडी सबसे पहले एक फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक व्हीकल तकनीकी को डेवलेप करेगी। इसके बाद आगामी 2020 तक कंपनी एक फ्यूल सेल इलेक्ट्रिक व्हीकल को लॉन्च करने की योजना पर काम कर रही है। आपको बता दें कि, ये आॅडी की तरफ से पहली कार होगी जिसमें इस तकनीकी का प्रयोग किया जायेगा।

हुंडई और आॅडी बने पार्टनर, मिलकर बनायेंगे बेहतरीन कारें

इस समझौते के बारे में हुंडई मोटर कंपनी के वाइस चेयरमैन एयूसुन चुंग ने कहा, "यह समझौता हाइड्रोजन संचालित वाहनों के साथ उपभोक्ताओं के जीवन को बढ़ाने के दौरान एक स्थायी टिकाऊ भविष्य बनाने के लिए कंपनी की तरफ से उठाये गये एक मजबूत कदम का उदाहरण है, "हमें विश्वास है कि हुंडई मोटर समूह-ऑडी साझेदारी सफलतापूर्वक वैश्विक समाज को एफसीईवी के दृष्टिकोण और लाभ का प्रदर्शन करेगी।"

Hindi
English summary
Hyundai Motors and Audi AG have announced a multi-year agreement between them. This partnership will see the two companies working together to develop fuel cell technology. The companies will also share patents and other resources as part of their agreement. Combined, they will develop a broad range of FCEV (Fuel Cell Electric Vehicle) components and technologies.
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more