पुणे के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर', जानिए क्या है ये बला?

इस समय देश भर में ट्रैफिक नियमों को लेकर शासन प्रशासन सख्त होता नजर आ रहा है। लगातार हो रहे ट्रैफिक नियमों के उलंघन और लोगों की लापरवाही के चलते अन्य लोगों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे ही मनचलों से निपटने के लिए पूणे में सड़कों पर 'टायर किलर' लगाया गया है। अब यही टायर किलर उत्तर प्रदेश के नोएडा में भी लगाये जाने की कवायद हो रही है। नोएडा में भी सड़कों पर ट्रैफिक नियमों को तोड़ने की लगातार वारदाते हो रही हैं। इसी को ध्यान में रखकर नोएडा ट्रैफिक पुलिस ने ये पहल की है और नोएडा की सड़कों को भी टायर किलर की सुरक्षा देने की योजना पर काम कर रही है।

पुणे के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर' के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर', जानिए क्या है ये बला?

क्या होता है 'टायर किलर'?

आप सोच रहे होंगे कि भला ये 'टायर किलर' क्या बला है। आपको बता दें कि ये एक मजबूत धातु का बना हुआ शंकुनुमा स्पाइक्स स्ट्रीप होता है। जिसे सड़क पर एक छोर से दूसरे छोर तक लगाया जाता है। इसका शंकु एक दिशा में होता है। जब कोई वाहन रांग वे यानि की गलत दिशा से सड़क पर आता है तो ये स्पाइक्स स्ट्रीप्स उपर उठ जाते हैं और जैसे ही वाहन इसके संपर्क में आता है य पहियों को काट देते हैं। जिसके चलते वाहन आगे चलकर रूक जाता है।

पुणे के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर' के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर', जानिए क्या है ये बला?

इस 'टायर किलर' का प्रयोग इसलिए किया जाता है कि ताकि लोग रांग साइड से ड्राइविंग न करें। या फिर यदि कोई सड़क बंद की गई है तो उस पर वाहन न चलायें। इसके अलावा ये अपराधियों को भी पकड़ने में काफी कारगर साबित होता है। कई मामलों में वाहन से भागते हुए अपराधियों को टायर किलर द्वारा आसानी से धर दबोचा गया है।

पुणे के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर' के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर', जानिए क्या है ये बला?

इस योजना के बारे में पुलिस डिपार्टमेंट ने बताया कि नोएडा में ऐसे पांच जगहों को चिन्हित किया गया है जहां पर सबसे ज्यादा रांग साइड से ड्राइविंग की वारदातें होती है। इन सभी 5 जगहों पर टायर किलर को लगाया जायेगा। इन जगहों पर आये दिन मनचले रांग साइड से ड्राइविंग करते हुए पकड़े गयें हैं। जिससे अन्य लोगों को कई तरह की असुविधा होती है। इसके अलावा सड़क दुर्घटना की संभावना भी बढ़ जाती है।

पुणे के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर' के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर', जानिए क्या है ये बला?

नोएडा में चिन्हित किये गये इन पांच जगहों में सेक्टर 76-74 इंटरसेक्शन, सेक्टर 77 नॉर्थ आई जक्शन, होशियारपुर यू टर्न, सेक्टर 61 का साईं मंदिर यू टर्न और सेक्टर 75 मेट्रो स्टेशन के पास। इन सभी जगहों पर अब टायर किलर लगाया जा रहा है। ताकि रांग साइड ड्राइविंग पर लगाम लगाई जा सके। ट्रैफिक पुलिस डिपार्टमेंट ने बीते शुक्रवार से टायर किलर को इंस्टॉल करने का काम भी शुरू कर दिया है जो कि अगले तीन दिनों में पूरा हो जायेगा। यानि कि नए साल से ट्रैफिक नियमों का उलंघन करने वालों को अब सचेत हो जाना चाहिए।

पुणे के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर' के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर', जानिए क्या है ये बला?

पुलिस का कहना है कि दिल्ली एनसीआर में नोएडा एक ऐसा शहर है जहां पर सबसे ज्यादा लोग रांग साइड से ड्राइविंग करते हैं। भले ही राइट साइड के लिए उन्हें कुछ मीटर की दूरी क्यों न तय करनी हो। विशेषकर दोपहिया चालक ज्यादातर रांग साइड से ड्राइविंग करते हुए देखे जाते हैं। वहीं पुलिस ने इस पर लगाम लगाने के लिए फाइन भी लगाना शुरू किया था। लेकिन ये उतना कारगर साबित नहीं हो पा रहा है। ऐसे वाहन चालकों से निपटने के लिए ही पुलिस ने अब टायर किलर का सहारा लिया है।

पुणे के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर' के बाद नोएडा की सड़कों पर भी लगेगा 'टायर किलर', जानिए क्या है ये बला?

इससे पहले पूणे में टायर किलर का प्रयोग किया गया है। वहां पर भी रांग साइड ड्राइविंग के बहुत से मामले सामने आ रहे थें। जिसके बाद वहां की ट्रैफिक पुलिस ने कुछ सड़कों पर टायर किलर लगाया और इसे लगाये जाने के बाद कई लोगों के वाहनों के पहियों की धज्जियां उड़ी। अब यहां पर रांग साइड ड्राइविंग के एक्का दुक्का मामले ही सामने आते हैं। वहीं कुछ बड़े व्यवसाइयों और मॉल के मालिकों ने इस बाद का विरोध भी किया था। उनका मानना है कि इस तरह से सड़क पर टायर किलर का प्रयोग करना खतरनाक भी हो सकता है।

दरअसल, टायर किलर के संपर्क में जब पहिया आता है तो इस डिवाइस में लगे हुए मजबूत शंकुकार पहियों को बुरी तरह से काट देते हैं। ऐसे में यदि वाहन तेज रफ्तार में है तो उससे दुर्घटना होने की संभावना भी बढ़ जाती है। शायद यही कारण है कि बहुतायत लोग इस डिवाइस का विरोध भी कर रहे हैं। हालांकि पुलिस इसे सकारात्मक ले रही है उनका मानना है कि इससे रांग साइड ड्राइविंग पर रोक लगेगी। इसके अलावा अपराधियों को भी पकड़ने में आसानी होगी। यदि कोई अपराधी वाहन से भाग रहा होगा तो उसका वाहन टायर किलर के संपर्क में आने पर रूक जायेगा। फिलहाल इस डिवाइस को लेकर उहापोह की स्थिति बनी हुई है और नोएडा ट्रैफिक पुलिस इसे जल्द से जल्द इंस्टॉल करने में लगी है। तो यदि आप भी उपर बताये गये रूट का इस्तेमाल करते हैं तो अब आप भी सचेत हो जायें और गलती से भी रांग साइड ड्राइविंग न करें वरना आपकी कार और बाइक के पहियों की भी धज्जियां उड़ जायेंगी। पुलिस इस डिवाइस से लोगों को आगाह करना चाहती है कि वो ट्रैफिक​ नियमों का उलंघन न करें।

Most Read Articles

Hindi
English summary
After Pune, Noida to get ‘Tyre killers’ to fight wrong-side driving: Installation before New Year. Read in Hindi.
Story first published: Monday, December 31, 2018, 19:01 [IST]
 
तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
Enable
x
Notification Settings X
Time Settings
Done
Clear Notification X
Do you want to clear all the notifications from your inbox?
Settings X