फ्लेक्स-ईंधन वाहनों की आपूर्ति के तैयार है वोल्वो और वोक्सवैगन

Written By:

इथेनॉल और मेथनॉल जैसे वैकल्पिक ईंधन के उपयोग को बढ़ावा देने के लिए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि वोल्वो और वोक्सवैगन ऐसे वाहनों की आपूर्ति के लिए आगे आए हैं। गडकरी ने कहा कि हमने वोल्वो के साथ एक बात की थी। वे पुणे और मुंबई में मेथनॉल पर 50 बसों की आपूर्ति के लिए तैयार हैं।

गडकरी ने कहा कि वाहनों को एक पायलट आधार पर चलाया जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि इथेनॉल टैक्सियों को चलाने के लिए ओला के साथ बातचीत हुई थी। गडकरी ने कहा कि वोक्सवैगन 100 वाहनों के लिए फ्लेक्स इंजन की आपूर्ति के लिए तैयार है अगर इथेनॉल की आपूर्ति सुनिश्चित की जाती है।

गडकरी ने कहा कि वैकल्पिक ईंधन की बहुत बड़ी क्षमता है और कच्चे तेल पर 7 बिल तक आयात बिल काटा जा सकता है। उन्होंने यह भी कहा कि उत्तर प्रदेश और बिहार में बड़ी संख्या में इथेनॉल और मेथनॉल का उत्पादन किया जा सकता है।

मंत्री ने आगे कहा कि स्टॉकहोम में, 400 बसें इथेनॉल पर चल रही थी जो भारत में निर्मित हो सकती हैं। गुजरात राज्य उर्वरक निगम कोयला गैसीकरण से मेथनॉल का उत्पादन कर सकता है।

DriveSpark की राय

भारत सरकार परिवहन में वैकल्पिक ईंधन के इस्तेमाल को प्रोत्साहित कर रही है। कई कंपनियां पहले ही विद्युत वाहनों का परीक्षण कर रही हैं फ्लेक्स ईंधन वाहन देश में उत्सर्जन और ईंधन की खपत को कम कर सकते हैं।

Read more on #volvo
English summary
To promote the use of alternative fuels such as ethanol and methanol, Union Minister Nitin Gadkari has stated that Volvo and Volkswagen have come forward to supply such vehicles.
Story first published: Wednesday, June 28, 2017, 15:06 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos