टोयोटा और सुजुकी ने अपने इलेक्ट्रिक वेहिकल प्लान से भारत को कराया इन्ट्रोड्यूज

Written By:

भारत सरकार ने साल 2030 तक भारत में पूरी तरह से इलेक्ट्रिक वाहनों को चलाने के लिए प्रतिबद्ध है जहां अब इसी पहल के मुताबिक टोयोटा और सुजुकी ने देश में बिजली के वाहनों को पेश करने के लिए हाथ मिला लिया है।

टोयोटा और सुजुकी ने अपने इलेक्ट्रिक वेहिकल प्लान से भारत को कराया इन्ट्रोड्यूज

इस नए समझौते के तहत सुजुकी इलेक्ट्रिक वेहिकल का निर्माण करेगा और टोयोटा उसे तकनीकी सहायता प्रदान करेगी। टोयोटा और सुजुकी दोनों ही भारत में बिजली के वाहनों की स्वीकृति और उपयोग के लिए विस्तृत अध्ययन करेंगे।

टोयोटा और सुजुकी ने अपने इलेक्ट्रिक वेहिकल प्लान से भारत को कराया इन्ट्रोड्यूज

स्टडी में चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने और ईवी की बिक्री सेवा के लिए मानव संसाधन तक की बातें शामिल हैं। भारत में बिजली के वाहनों में बदलाव के लिए, सुजुकी ने पहले ही घोषणा की है कि वह गुजरात में लिथियम आयन बैटरी विनिर्माण संयंत्र स्थापित करेगी।

टोयोटा और सुजुकी ने अपने इलेक्ट्रिक वेहिकल प्लान से भारत को कराया इन्ट्रोड्यूज

इस ऑटोमेकर को उम्मीद है कि स्थानीय रूप से निर्माण और सभी घटकों का स्रोत होगा जिसमें बैटरी, इलेक्ट्रिक मोटर और अन्य आवश्यक पार्ट्स शामिल हैं। लेकिन भारत में विद्युत वाहनों के लिए प्रमुख चुनौती चार्जिंग का बुनियादी ढांचा है।

Recommended Video - Watch Now!
महिन्द्रा केयूवी 100 एनएक्सटी भारत में हुई लॉन्च | Mahindra KUV 100 NXT Launched - Hindi DriveSpark
टोयोटा और सुजुकी ने अपने इलेक्ट्रिक वेहिकल प्लान से भारत को कराया इन्ट्रोड्यूज

लेकिन इन सबके बीच भारत में ईवी की सफलता के लिए सबसे प्रमुख कारक मूल्य निर्धारण होगा। सुजुकी स्थानीय स्तर पर सभी घटकों को असेम्बल करने की कोशिश कर रही है जो कीमतों को नीचे रखने में मदद करेगी।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

भारतीय बाजार के लिए इलेक्ट्रिक वाहन विकसित करने के लिए टोयोटा और सुजुकी ने नया फर्म बनाया हैं। कंपनियां 2020 में देश में लॉन्च करेंगी। भारत 2030 तक विद्युत वाहनों में बदलाव की योजना बना रहा है और टोयोटा और सुजुकी चुनौती के लिए अच्छी तरह तैयार हैं। लेकिन विकास में अभी भी चार्जिंग इन्फ्रास्ट्रक्चर के साथ, ईवी को मुश्किल चुनौती का सामना करना पड़ सकता है।

English summary
The Government of India has an ambitious plan to shift to electric vehicles by 2030. In line with the initiative, Toyota and Suzuki have joined hands to introduce electric vehicles in the country.
Story first published: Saturday, November 18, 2017, 13:51 [IST]

Latest Photos

 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark