टाटा मोटर्स ने ईईएसएल को डिलेवर किया इलेक्ट्रिक टिगोर की पहली खेप

Written By:

देश की घरेलू वाहन निर्माता कम्पीन टाटा मोटर्स ने हाल ही में गुजरात के अपने साणंद प्लांट से टाटा टिगोर के इलेक्ट्रिक वर्जन को रोल आउट किया था और खबर आ रही है कि टाटा ने जिस उद्देश्य के लिए टिगोर के इलेक्ट्रिक वर्जन को प्रोड्यूज किया था। वह पूरा हो रहा है।

टाटा मोटर्स ने ईईएसएल को डिलेवर किया इलेक्ट्रिक टिगोर की पहली खेप

रिपोर्ट के मुताबिक टाटा ने ऊर्जा दक्षता सेवा लिमिटेड (ईईएसएल) के लिए ईवीएस की पहली खेप को डिलेवर कर दिया है। ज्ञात हो कि ईईएसएल ने 10,000 इलेक्ट्रिक व्हीकल्स की खरीददारी के लिए टाटा मोटर्स को आर्डर दिया था।

टाटा मोटर्स ने ईईएसएल को डिलेवर किया इलेक्ट्रिक टिगोर की पहली खेप

टाटा मोटर्स को पहले चरण में 250 टिगोर ईवीएस को देना था। इस अवसर पर टाटा मोटर्स के सीईओ और एमडी गेंटर बुत्शेक ने दोनों कंपनियों की वरिष्ठ प्रबंधन टीमों के साथ, ईईएसएल के प्रबंध निदेशक सौरभ कुमार को टिगोर ईवीएस की चाबी सौंपी।

टाटा मोटर्स ने ईईएसएल को डिलेवर किया इलेक्ट्रिक टिगोर की पहली खेप

Tigor EV एक प्योर इलेक्ट्रिक पॉवर वाली शून्य उत्सर्जन स्टाइल है जो कि मौजूदा इंजन मॉडल पर बनाया गया है। ईएसएसएल के लिए, टिगोर ईवी बेस, प्रीमियम और हाई और ब्लू लकर के decals के साथ 'पर्लसेंट व्हाइट' तीन मॉडल में उपलब्ध है।

टाटा मोटर्स ने ईईएसएल को डिलेवर किया इलेक्ट्रिक टिगोर की पहली खेप

Tigor EV एक-स्पीड, ऑटो ट्रांसमिशन से लैस है। इलेक्ट्रिक वाहन के लिए इलेक्ट्रिक ड्राइव सिस्टम इलेक्ट्र्रा ईवी द्वारा विकसित किया गया है। यह मोटर वाहन क्षेत्र के लिए इलेक्ट्रिक ड्राइव सिस्टम को डेवलप और आपूर्ति करने वाली एक कंपनी है।

टाटा मोटर्स ने ईईएसएल को डिलेवर किया इलेक्ट्रिक टिगोर की पहली खेप

बता दें कि टाटा मोटर्स का यह क्रांतिकारी भारत सरकार के उस महत्वाकांक्षी योजना का हिस्सा है जिसके तहत भारत सरकार देश से साल 2030 तक डीजल-पेट्रोल वाहनों को खत्म कर देना चाहती है। कम्पनी ने निविदा मिलने के बाद इस पर तेजी से कार्य किया। इस निविदा की कुछ हिस्सेदारी महिन्द्रा को भी मिला है।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

इलेक्ट्रिक वाहनों को भविष्य माना जा रहा है और भारत भी शून्य उत्सर्जन वाहनों को अपनाने की योजना बना रहा है। लेकिन केवल इतनी सी खबर से बड़ा बदलाव नहीं हो जाता है। यह तो उस योजना की राह का एक छोटा प्रयास भर है। भारत को पूरी तरह से इलेक्ट्रिक वाहनों को बनाने के पहले बुनियादी ढ़ाचा को निर्मित करना होगा।

English summary
Tata Motors recently rolled out the Tigor Electric Vehicle (EV) from its Sanand plant in Gujarat. Now, the automaker has delivered the first batch of EVs to Energy Efficiency Services Limited (EESL). As part of the government's initiative to procure 10,000 electric vehicles, EESL had called for a tender.
Story first published: Friday, December 15, 2017, 14:44 [IST]
 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more