पेरिस में 2030 तक बैन होंगे डीजल-पेट्रोल वाहन, क्या भारत में भी है संभव? आइए जानते हैं..

By Deepak Pandey

दुनिया भर में बेचे जाने वाले पेट्रोल और डीजल वाहनों से प्रदूषण की मात्रा में वृद्धि के साथ बदतर हो रहा है। इस स्थिति का सामना करने के लिए, पेरिस में साल 2030 तक सभी पेट्रोल और डीजल वाहनों पर प्रतिबंध और 2040 तक पूरी तरह से बिक्री पर रोक देगा।

पेरिस में 2030 तक बैन होंगे डीजल-पेट्रोल वाहन, क्या भारत में भी है संभव? आइए जानते हैं..

यही नहीं पेरिस ने इस वक्त पेट्रोल और डीजल वाहनों पर कड़े नियम लागू किए हैं ताकि प्रदूषण बढ़ने पर ब्रेक लगाया जा सके। शहर में कार मुक्त दिन जैसे नियम हैं और सड़कों पर चलने के लिए 20 साल से अधिक उम्र के कारों की अनुमति नहीं दी जाती है।

पेरिस में 2030 तक बैन होंगे डीजल-पेट्रोल वाहन, क्या भारत में भी है संभव? आइए जानते हैं..

अब, पेरिस 2030 से केवल बिजली के वाहनों का उपयोग करने के लिए एक नया आदेश पारित करेगा। लेकिन यह नया नियम मजबूत सार्वजनिक परिवहन प्रणाली के कारण पेरिस के लोगों को प्रभावित नहीं करेगा। और बहुत से लोगों के पास कार नहीं है, इसलिए पेरिस के निवासियों के लिए यह समस्या नहीं होनी चाहिए।

पेरिस में 2030 तक बैन होंगे डीजल-पेट्रोल वाहन, क्या भारत में भी है संभव? आइए जानते हैं..

पेरिस सिटी हॉल ने पेट्रोल और डीजल वाहनों पर 'प्रतिबंध' के रूप में इस कदम को कॉल करने से मना कर दिया है। इसके बजाय, यह इसे दहन इंजन के वाहनों के बाहर निकलने के लिए एक समय सीमा के रूप निरधारित करने की बात कही है।

पेरिस में 2030 तक बैन होंगे डीजल-पेट्रोल वाहन, क्या भारत में भी है संभव? आइए जानते हैं..

पेरिस 2024 ओलंपिक की मेजबानी करने की भी तैयारी कर रहा है, इसलिए हम 2024 तक प्रतिबंध पर कुछ प्रगति देख सकते हैं। इसके अलावा फ्रांस 2040 तक पेट्रोल और डीजल वाहनों की बिक्री भी समाप्त करेगा, ब्रिटेन ने भी इसी अवधि के लिए घोषणा की है दहन इंजन के वाहनों की बिक्री समाप्त। संयुक्त राज्य अमेरिका, जर्मनी और चीन जैसे देश भी बैंडविगन में शामिल होने की योजना बना रहे हैं।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

भारत सरकार 2030 तक सड़कों पर सभी-इलेक्ट्रिक वाहनों की योजना बना रही है। तो क्या भारत इसका पालन करेगा? यह सब देश में इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए आधारभूत संरचना के विकास पर निर्भर करता है। लेकिन 2030 के आरंभ में पेट्रोल और डीजल वाहनों पर प्रतिबंध लगाने के लिए यह एक चुनौतीपूर्ण काम होगा।

English summary
On the issue of pollution, diesel petrol in Paris is going to ban vehicles. Here the Government of India is also working on petrol and diesel vehicles by the year 2030.
Story first published: Monday, October 16, 2017, 17:18 [IST]
भारत का अब तक का सबसे बड़ा राजनीतिक पोल. क्या आपने भाग लिया?
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more