एनएचएआई ने लॉन्च किए दो ऐप, 1 अक्टूबर से टोल फी देना होगा सरल

Written By:

भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने इलेक्ट्रॉनिक टोल संग्रह के लिए दो मोबाइल एप्लिकेशन माई फास्टैग और फास्टैग पार्टनर को लॉन्च किया है। माई फास्टैग एक उपभोक्ता ऐप है जिसे एंड्रॉइड और आईओएस दोनों प्लेटफार्मों के लिए ऐप स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। एक उपभोक्ता FASTags खरीद या रीचार्ज कर सकता है और लेनदेन का ट्रैक भी रख सकता है।

To Follow DriveSpark On Facebook, Click The Like Button
एनएचएआई ने लॉन्च किए दो ऐप, 1 अक्टूबर से टोल फी देना होगा सरल

फास्टैग पार्टनर सामान्य सेवा केंद्र, बैंकिंग भागीदारों और वाहन डीलरों के लिए एक व्यापारी ऐप है जहां वे FASTag को बेच या नामांकित कर सकते हैं।

इस ऐप का उपयोग आरएफआईडी टैग को सक्रिय करने के लिए भी किया जा सकता है जो इस संबंध में 2013 की राजपत्र अधिसूचना के बाद देश में 74 लाख कारों के साथ निर्मित हुआ था।

एनएचएआई ने लॉन्च किए दो ऐप, 1 अक्टूबर से टोल फी देना होगा सरल

एनएचएआई के अध्यक्ष दीपक कुमार ने कहा कि फास्टैग की खरीद और रिचार्ज की बोझिल पद्धति ईटीसी परियोजना के साथ सबसे बड़ी चुनौती थी। इसे यह मोबाइल एप्लिकेशन कम कर देगा, जिससे बटन को क्लिक करने पर फास्टैग को खरीदने या रीसेट करना संभव होगा।

एनएचएआई ने लॉन्च किए दो ऐप, 1 अक्टूबर से टोल फी देना होगा सरल

दीपक कुमार ने यह भी कहा कि 1 अक्टूबर, 2017 से, देश में 371 एनएचएआई टोल प्लाजा के सभी गलियों को तेजी से सक्षम बनाया जाएगा। प्रत्येक टोल प्लाज़ा में एक लेन एक समर्पित FASTAG लेन होगी, जहां कोई अन्य भुगतान स्वीकार नहीं किया जाएगा।

एनएचएआई ने लॉन्च किए दो ऐप, 1 अक्टूबर से टोल फी देना होगा सरल

आपको बता दें कि 371 एनएचएआई टोल प्लाजा पर समर्पित फास्टैग लेन सक्रिय हो जाएंगी। एनएचएआई टॉयल प्लाजा के पास सामान्य सेवाओं केंद्र (सीएससी) के माध्यम से फास्टैग की ऑनलाइन बिक्री और ऑफ़लाइन बिक्री के साथ आया है।

एनएचएआई ने लॉन्च किए दो ऐप, 1 अक्टूबर से टोल फी देना होगा सरल

फास्टैग को जारीकर्ता बैंकों की वेबसाइटों, एनएचएआई वेबसाइट और आईएचएमसीएल वेबसाइट से ऑनलाइन खरीदा जा सकता है। 18 अगस्त 2017 से, फास्टैग को टोल प्लाजा के पास कॉमन सर्विसेज़ सेंटर (सीएससी) पॉइंट्स पर खरीदा जा सकता है।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

टोल का इलेक्ट्रॉनिक भुगतान टोल प्लाजा पर ट्रैफिक को काफी कम करेगा। लेकिन FASTags को खरीदना एक मुश्किल कार्य था। अब फास्टैग रिचार्ज और क्रय करने के लिए मोबाइल ऐप के लॉन्चिंमग के साथ, यह प्रक्रिया सरल हो गई है। उम्मीद है इससे ग्राहकों को लाभ जरूर होगा।

English summary
National Highways Authority of India has launched two mobile apps - MyFASTag and FASTag Partner for electronic toll collection.
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos