झारखंड में दिन में भी वाहनों का लाइट जलाना हो जाएगा जरूरी

Written By:

दिनांक 1 जनवरी 2018 से सड़कों पर वाहन चलाते समय हेडलाइन आन रखना जरूरी होगा। खबरों के मुताबिक झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने बुधवार को राज्य में चलने वाले वाहनों की हेडलाइटों को जनवरी से दिन में भी ऑन रखने के निर्देश दिए है।

Vehicles Should Keep Headlights ON During Daytime

कहा जा रहा है कि इससे सड़क दुर्घटनाओं को रोका जा सकेगा। सड़क सुरक्षा परिषद की बैठक में मुख्यमंत्री ने निर्देश दिया कि दिन के समय वाहनों की हेडलाइटें ऑन होनी चाहिए. इसे गांव से लेकर शहर और हाईवे पर लागू किया जाएगा।

सीएम ने अधिकारियों से एक साल में सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए कहा है। सड़क दुर्घटनाओं को कम करने के लिए उन्होंने कई दिशा निर्देश जारी किए, जिसमें दिन के समय हेडलाइट ऑन रखना शामिल है।

Vehicles Should Keep Headlights ON During Daytime

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों से उन प्रमुख राजमार्गों पर ट्रॉमा सेंटर बनाया जाए, जहां दुर्घटनाओं की आशंका अधिक है। सड़क सुरक्षा की समीक्षा के दौरान रघुवर दास ने कहा कि सड़क दुर्घटना के तीन मुख्य कारण हैं- लोगों का हेलमेट न पहनना, शराब पीकर और तेज गति से गाड़ी चलाना आदि है।

राज्य़ में यह सुनिश्चित करने के लिए कहा कि राज्य में यातायात नियमों का सख्ती से पालन किया जाए और निर्देश दिया कि पीछे की सीट पर बैठने वालों के लिए भी हेलमेट अनिवार्य होना चाहिए। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि हाईवे पर गश्त के दौरान ब्रेथ एनालाइजर का इस्तेमाल किया जाए और बसों और ट्रकों के चालकों के बीच शराब से दूर रहने के लिए जागरूकता पैदा की जाए।

Recommended Video - Watch Now!
महिन्द्रा केयूवी 100 एनएक्सटी भारत में हुई लॉन्च | Mahindra KUV 100 NXT Launched - Hindi DriveSpark
Vehicles Should Keep Headlights ON During Daytime

Drivespark की राय

योजना कोई खराब नहीं होती है। बस उनका अनुपालन कड़ाई पूर्वक कराया जाना चाहिए। तभी वह सफल हो सकती है। हाल के दिनों में कुछ स्थानों पर दुर्घटनाओं को रोकने के लिए पेनाल्टी चार्ज बढ़ा दिया गया है। पर देखा जाए तो यह जेब लूटने के अलावा कुछ भी नहीं है।

English summary
Jharkhand Chief Minister, Raghubar Das, has directed road-users in the state to keep their headlights ON even during daytime from January 2018, so as to reduce accidents. In addition to this, he plans to set up trauma centres across highways, more prone to accidents.
Story first published: Thursday, December 7, 2017, 16:27 [IST]

Latest Photos

 

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark