सेस के बाद इसुजु ने भी बढ़ाई अपनी कीमतें, इन मॉडल्स पर पड़ा प्रभाव

Written By:

भारत सरकार ने 1 जुलाई, 2017 से सामान और सेवा कर (जीएसटी) को लागू किया, और ऑटोमोबाइल को सबसे ज़्यादा जीएसटी स्लैब में वर्गीकृत किया गया क्योंकि वे लक्जरी उत्पाद के तहत आते थे।

हालांकि, इस बीच जीएसटी सेस में कुछ खामियां थीं, जिसके कारण कई बाइक्स, मिड और लक्जरी कारों और एसयूवी की कीमतों में कमी आई।

सेस के बाद इसुजु ने भी बढ़ाई अपनी कीमतें, इन मॉडल्स पर पड़ा प्रभाव

लेकिन इस खामी को दूर करने के लिए जीएसटी परिषद ने जीएसटी सेस को संशोधित किया है और वाहन की बनावट के आधार पर 2 से 7 प्रतिशत तक की बढ़ोत्तरी तय कर दी। जिसके बाद अब इसुजु मोटर्स इंडिया ने एमयू-एक्स एसयूवी और डी-मैक्स वी-क्रॉस पिकअप ट्रक के बाद अपने वाहन के जीएसटी मूल्य निर्धारण की घोषणा की है।

सेस के बाद इसुजु ने भी बढ़ाई अपनी कीमतें, इन मॉडल्स पर पड़ा प्रभाव

खबरों के मुताबिक इसुजू एमयू-एक्स की कीमत को 23.47 लाख (4x2 संस्करण) के रूप में संशोधित किया है, जबकि 4x4 संस्करण की कीमत में 25.43 लाख एक्स-शोरूम (चेन्नई) को संशोधित किया है।

भारत के इस पहले टूरर वेहिकतल निर्माता ने डी-मैक्स वी-क्रॉस की कीमत 13.11 लाख एक्स-शोरूम (चेन्नई) को संशोधित किया गया है।

सेस के बाद इसुजु ने भी बढ़ाई अपनी कीमतें, इन मॉडल्स पर पड़ा प्रभाव

हालांकि इसुजू कारों की कीमतों में पूरे भारत में वृद्धि हुई है, लेकिन आंध्र प्रदेश में कीमतों में कमी देखी गई है। इसुजू ने पहले घोषणा की थी कि आंध्र प्रदेश में खरीदे गए और खरीदे गए वाहनों को मोटर वाहन कर से 31 मार्च, 2021 तक छूट दी गई है।

सेस के बाद इसुजु ने भी बढ़ाई अपनी कीमतें, इन मॉडल्स पर पड़ा प्रभाव

इसुजु के यात्री वाहनों के लिए चुनने वाले ग्राहकों को इंश्योरेंस मान के 14 प्रतिशत से एक बार लाइफ टैक्स के रूप में छूट दी जाएगी। वाहनों के जीवन के दौरान भुगतान किए जाने वाले इसूज़ू के वाणिज्यिक वाहनों के लिए, क्वार्टरली रोड टैक्स (रु .800 / - प्रति तिमाही या प्रासंगिक) खरीदारों के लिए छूट दी जाती है।

सेस के बाद इसुजु ने भी बढ़ाई अपनी कीमतें, इन मॉडल्स पर पड़ा प्रभाव

आपको बता दें कि आंध्र प्रदेश में इसुजू श्रीसिटी 107 एकड़ में फैली हुई है और वर्तमान में 50,000 इकाइयों का उत्पादन कर रहा है। कम्पनी इसे 120,000 इकाइयों तक बढ़ा सकती है।

इसुज़ू मोटर इंडिया के उत्पाद लाइनअप में एमयू-एक्स एसयूवी, डी-मैक्स वी-क्रॉस एयूयू (यात्री वाहन) और वाणिज्यिक खंड के तहत कंपनी डी-मैक्स एस-कैब और डी-मैक्स आदि है।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

माना जा रहा है कि इसुजू ने अपनी कारों के दामों में यह बढ़ोत्तरी बहुत सोच-समझकर की है। अब आगे यह देखना दिलचस्प होगा कि इस बढ़ोत्तरी का कम्पनी की बिक्री पर क्या असर पड़ता है।

Read more on #इसुजु #isuzu
English summary
The Government of India implemented the Goods and Service Tax (GST) from July 1, 2017, and automobiles were categorized with the highest GST slab as they fell under the luxury product.
Story first published: Thursday, September 14, 2017, 15:52 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos