Subscribe to DriveSpark

इंफोसिस ने डेवलप किया स्वदेशी 'ड्रायवरलेस' गोल्फ कार्ट

Written By:

भारत की घरेलू प्रौद्योगिकी कंपनी इंफोसिस ने वाहनों के लिए स्वायत्त प्रौद्योगिकी के विकास में अपने प्रयासों का खुलासा किया है। कंपनी के सीईओ विशाल सिक्का मीडिया ब्रीफिंग में अपनी 'ड्रायवरलेस' गाड़ी के साथ पहुंचे।

दरअसल इस गाड़ी की खासियत यह है कि यह कंपनी की इंजीनियरिंग सेवा टीम द्वारा पूर्ण रूप से स्वदेशी बनाया गया है।

इंफोसिस ने डेवलप किया स्वदेशी 'ड्रायवरलेस' गोल्फ कार्ट

सिक्का द्वारा एक ट्वीट ने लिखा कि मेरे ऑटोनामस वेहिकल के लिए मैसूर में इंफोसिस इंजीनियरिंग सेवाओं के प्रवीण (सीओओ) ने शानदार कार्य कर दिखाया। कौन कहता है कि हम ट्रांसफार्मेटिव टेक्नोलॉजीज नहीं बना सकते हैं?

इंफोसिस ने डेवलप किया स्वदेशी 'ड्रायवरलेस' गोल्फ कार्ट

सिक्का ने आगे कहा कि यह ऑटोनामस वाहन अत्याधुनिक तकनीक का प्रतीक है और अन्य कर्मचारियों को इस तरह की नई प्रौद्योगिकियों पर प्रशिक्षण दिया जाएगा।यह 'ड्राइवरलेस' गाड़ी सेंसर से सजी है और पर्यावरण को अनूकुल रखने और किसी मानव हस्तक्षेप के बिना कार्य करने में सक्षम है।

इंफोसिस ने डेवलप किया स्वदेशी 'ड्रायवरलेस' गोल्फ कार्ट

इसके अलावा, यह गाड़ी उन्नत नियंत्रण प्रणाली नेविगेशन पथ की पहचान करने के साथ-साथ अवरोधों और सड़क के संकेत भी इन वाहनों का समर्थन करती हैं। इसके लिए दूसरी ओर इन्फोसिस ने भी 'ड्रायवरलेस कार्ट' का जश्न मनाया और ट्वीट किया कि हमारे प्रसिडेंट परिसर में मस्ती करने के लिए यह वजह काफी है।

इंफोसिस ने डेवलप किया स्वदेशी 'ड्रायवरलेस' गोल्फ कार्ट

उन्होंने आगे कहा कि आप हमारी इंजीनियरिंग सेवा टीम द्वारा निर्मित स्वायत्त गोल्फ कार्ट का निरीक्षण कर सकते हैं। इसके लिए सीईओ सिक्का ने अपनी टीम के असाधारण जुनून, नेतृत्व और नवीनता के लिए सबको धन्यवाद किया।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

इंफोसिस और उनकी टीम के लिए गर्व का एक क्षण है, क्योंकि उन्होंने ऑटोनामस प्रौद्योगिकी विकसित की है। वास्तव में आने वाले भविष्य में इंफोसिस की यह पहल देश के ऑटोमोबाइल जगत की दशा दिशा को तय करेगा।

English summary
India's homegrown technology giant Infosys revealed its efforts in developing autonomous technology for vehicles. CEO Vishal Sikka arrived at the company's media briefing in a 'driverless' cart, a vehicle which has been indigenously built by the company's engineering services team.
Story first published: Saturday, July 15, 2017, 12:02 [IST]
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos