बीएमडब्ल्यू ने 14 लाख यूनिट्स को किया रिकॉल, ये खतरा बना वजह

By Deepak Pandey

जर्मनी की लग्जरी कार निर्माता कंपनी बीएमडब्ल्यू ने करीब 14 लाख वाहनों को रिकाल किया है। कम्पनी को डर है कि अगर कार के अगले हिस्से में आग लग सकता है। इसीलिए कम्पनी ने इसल खतर से निपटने के लिए अमेरिका में दो बार में 14 लाख कारें और एसयूवी वापस मंगाई है।

बीएमडब्ल्यू ने 14 लाख यूनिट्स को किया रिकॉल, ये खतरा बना वजह

जानकारी के मुताबिक अमेरिका के राष्ट्रीय राजमार्ग यातायात सुरक्षा प्रशासन द्वारा डाले गए दस्तावेजों में कहा गया है कि क्रैंककेस वेंटिलेशन वाल्व के लिए लगा हीटर ज्यादा गरम हो सकता है, जिस वजह से वाल्व पिघल सकता है।

बीएमडब्ल्यू ने 14 लाख यूनिट्स को किया रिकॉल, ये खतरा बना वजह

बताया जा रहा है कि इससे आग का खतरा बढ़ता है, तब भी जब वाहन उपयोग में नहीं है। इसमें किसी के घायल होने की सूचना नहीं है। डीलर हीटर को बदलेंगे। सबसे बड़ी रिकॉल प्रक्रिया में 740,000 कारें शामिल है।

बीएमडब्ल्यू ने 14 लाख यूनिट्स को किया रिकॉल, ये खतरा बना वजह

बता दें कि इसमें 2007 से 2011 के बीच के कई मॉडल और 2008 से 2011 के बीच का एक मॉडल है। जबकि दूसरी बार में करीब 673000 कारों को वापस मंगाया गया है। फिलहाल भारत को लेकर ऐसी कोई खबर नहीं हैं।

Recommended Video - Watch Now!
BMW 330i Gran Turismo Launched In India - DriveSpark
DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

बीएमडब्ल्यू की ओर से आ रही यह खबर वास्तव में हैरान करने वाली है। अगर वास्तव में ऐसा कुछ पाया गया तो कम्पनी के ब्रांड को इससे धक्का पहुंचेगा। हालांकि कम्पनी अब अपनी गलती को सुदारने का प्रयास कर रहा है।

Hindi
English summary
Luxury car maker BMW has stacked nearly 14 lakh vehicles. There is a danger of being caught in the fire.
Story first published: Saturday, November 4, 2017, 11:44 [IST]
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more