अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच समंझौता, डेवलप होगी इलेक्ट्रिक बसें

Written By:

एक ऐसे वक्त में जब कई कार निर्माता बिजली के वाहनों को विकसित करने का कार्य कर रहे हैं और डीजल-पेट्रोल वाहन लगातार पर्यावरण के लिए चुनौती बने हों। ऐसे इलेक्ट्रिक वाहनों के विकल्प के अलावा हमें कोई और दूसरा विकल्प देखने को नहीं मिल सकता है।

जिसके परिणाम स्वरूप अब अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी यानि सन ग्रुप के बीच इलेक्ट्रिक बसों को डेवलप करने का समझौता हुआ है।

अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच समंझौता, डेवलप होगी इलेक्ट्रिक बसें

आपको बता दें कि इस समझौते के तहत भारत की पहली इलेक्ट्रिक कार रीवा के संस्थापक चेतन मेनई के नेतृत्व में सन मोबिलिटी, सन ग्रुप के वाइस चेयरमैन उदय खेमका के साथ, अशोक लेलैंड के लिए इलेक्ट्रिक मोबिलिटी समाधान विकसित करने में मदद करेंगे।

अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच समंझौता, डेवलप होगी इलेक्ट्रिक बसें

अशोक लेलैंड पहले से ही विद्युत बसों के डेवलपमेंट को लीड कर रही है और आगे सीएनजी और डीजल के साथ हाइब्रिड व प्लग-इन प्रौद्योगिकी की आवश्यकता नहीं है। ऐसे में अशोक लेलैंड विद्युत बस का विकास करेगा और बस की गतिशीलता को जारी रखने के लिए बस डिपो में चार्जिंग स्टेशन स्थापित करने के लिए जिम्मेदार होगी।

अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच समंझौता, डेवलप होगी इलेक्ट्रिक बसें

इन स्टेशनों, पर मुख्य रूप से नवीकरणीय ऊर्जा से संचालित, कम लागत पर बिजली के वाहनों को पारंपरिक डीजल / पेट्रोल स्टेशनों की तुलना में तेजी से गति देने की योजना शामिल है। इस संदर्भ में अशोक लेलैंड के सीईओ और प्रबंध निदेशक, विनोद के दस्शी काफी खुश दिखाई पड़ रहे हैं।

अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच समंझौता, डेवलप होगी इलेक्ट्रिक बसें

अपनी योजना को लेकर बोलते हुए विनोद के दस्शी ने कहा कि हमने 'स्वैप और चार्ज' बैटरी तकनीक के साथ बिजली बसों का विकास करने के लिए एक रणनीतिक गठबंधन में प्रवेश किया है। हमें एक संयुक्त उद्यम में समझौते को मजबूत करने का फैसला करना है।

अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच समंझौता, डेवलप होगी इलेक्ट्रिक बसें

इस अवसर पर एसएन मोबिलिटी के वाइस चेयरमैन श्री चेतन मेनई ने कहा कि इस साझेदारी के साथ, सन मोबिलिटी को उम्मीद है कि अशोक लेलैंड की राज्य सरकार के साथ एक रणनीतिक गठबंधन अपने मुकाम तक पहुंचने में कामयाब रहेगी।

अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच समंझौता, डेवलप होगी इलेक्ट्रिक बसें

उन्होंने कहा कि इलेक्ट्रिक वाहनों और हमारी मालिकाना स्मार्ट बैटरी इस योजना के निर्णायक तत्व साबित होंगे। यह साझेदारी बिजली की गतिशीलता के लिए एक कुशल, प्रदूषण मुक्त और लागत प्रतिस्पर्धात्मक समाधान के माध्यम से राष्ट्र की जनता की मदद करेगी।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

भारत में इलेक्ट्रिक वाहनों में एक अभूतपूर्व विकास हुआ है, जबकि कुछ चार्जिंग स्टेशनों और बैटरी जैसे बुनियादी ढांचे पर कुछ उन्नति नहीं है। अशोक लेलैंड और सन मोबिलिटी के बीच इस गठबंधन से इन सवालों के जवाब मिलने की उम्मीद है।

English summary
Ashok Leyland announced the formation of a strategic alliance with SUN Mobility and SUN Group, to develop electric buses. Sun Mobility led by Chetan Maini, founder of Reva, India's first electric car, along with Uday Khemka, Vice Chairman of SUN Group will help develop electric mobility solutions for Ashok Leyland.
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more