31 दिसम्बर से प्रत्येक ट्रक में जरूरी होगा एसी केबिन

Written By:

केंद्र सरकार ने एयर कंडीशन्ड ट्रक केबिन के लिए 1 अप्रैल, 2017 की समय सीमा जारी की थी। लेकिन अब इसे बढ़ाकर 31 दिसंबर 2017 तक कर दिया गया है।

31 दिसम्बर से प्रत्येक ट्रक में जरूरी होगा एसी केबिन

सड़क, परिवहन, राजमार्ग और नौवहन राज्य मंत्री ने कहा है कि सभी एन 2 (3.5 से 12 टन) और एन 3 (12 टन से अधिक) श्रेणी के ट्रक केबिन एसी से सुसज्जित किया जाना चाहिए।

31 दिसम्बर से प्रत्येक ट्रक में जरूरी होगा एसी केबिन

कहा जाता है कि सड़क दुर्घटनाओं में वृद्धि के मुख्य कारणों में से एक चालक की थकान है। वातानुकूलित केबिन ड्राइवर आराम करने और थकान को कम करने की संभावना है।

31 दिसम्बर से प्रत्येक ट्रक में जरूरी होगा एसी केबिन

गौर हो कि हर साल सड़क दुर्घटनाओं में 1.5 लाख लोग मारे जाते हैं और तीन लाख लोग घायल होते हैं। ट्रकों में एसी केबिनों के कार्यान्वयन से इन नंबरों को नीचे लाने की उम्मीद है।

Recommended Video - Watch Now!
Royal Enfield Prices After GST In Hindi - DriveSpark हिन्दी
31 दिसम्बर से प्रत्येक ट्रक में जरूरी होगा एसी केबिन

2015 के नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, सड़क दुर्घटनाओं की वजह से कुल संख्या 1,46,133 पर पहुंच गई है। कुल सड़क दुर्घटनाओं में से, ट्रक उपयोगकर्ताओं के लिए 11.4 प्रतिशत और 7.4 प्रतिशत बसों में शामिल है।

DriveSpark की राय

DriveSpark की राय

केंद्र सरकार ने ट्रकों के लिए एसी केबिन अनिवार्य कर दिया है। यह चालक थकान के कारण सड़क दुर्घटनाओं के बढ़ने से रोकने के लिहाज से एक बढ़िया कदम है। एसी केबिन पूरे देश में ट्रक चालकों के आराम स्तर में भी सुधार करेगा।

English summary
The central government had issued a deadline of April 1, 2017, for air conditioned truck cabins. But now it has been extended to December 31, 2017.
Story first published: Thursday, July 27, 2017, 11:28 [IST]
 
X

ड्राइवस्पार्क से तुंरत ऑटो अपडेट प्राप्त करें - Hindi Drivespark

We use cookies to ensure that we give you the best experience on our website. This includes cookies from third party social media websites and ad networks. Such third party cookies may track your use on Drivespark sites for better rendering. Our partners use cookies to ensure we show you advertising that is relevant to you. If you continue without changing your settings, we'll assume that you are happy to receive all cookies on Drivespark website. However, you can change your cookie settings at any time. Learn more