टोयोटा ने दिल्‍ली में डीज़ल कार बैन को लेकर निवेश पर लगाई लगाम, अभी नहीं लॉन्‍च होगी नई फॉर्च्यूनर

Posted By:

दिल्ली में 2 हज़ार सीसी से ज़्यादा के वाहनों पर बैन ने सीधे तौर पर आॅटो निर्माताओं को नुकसान पहुंचाया है। इसका असर टोयोटा पर कुछ इस कदर पड़ा है कि इस जापानी कार निर्माता कंपनी ने किसी भी नए इंवेस्टमेंट पर रोक लगा दी है और कंपनी सरकार के फैसले के बदलने का इंतज़ार कर रही है।

टोयोटा को इतना बड़ा कदम इसलिए भी उठाना पड़ा क्योंकि नेशनल ग्रीन ट्रायब्यूनल यानी एनजीटी ने 15 साल से पुराने डीज़ल वाहनों के रजिस्ट्रेशन को रद्द करने का आॅर्डर दिया है।

इस नियम के मुताबिक़, टोयाटा अपने दो एसयूवी इनोवा और फॉर्च्‍यूनर को दिल्‍ली और केरल में नहीं बेच पाएगी। इसके साथ ही जाेे वाहन 15 साल से भी अधिक पुराने हैं उनके रजिस्‍ट्रेशन का रद्द होनाा सीधा इशारा करता है कि इन्‍हें भारत में कहीं भी नहीं बेचा जा सकेगा।

यही बात थी कि टोयाेटा को विचार करना पड़ा और उसने अपने नेक्‍स्‍ट जेनरेशन टोयोटा फॉर्च्‍यूनर एसयूवी के लॉन्‍च को टाल दिया है। कई लोगों को टोयोटा के इस नए व्‍हीकल का बेसब्री से इंतज़ार था।

दिल्‍ली एनसीआर रीजन और केरल टोयोटा के लिए बड़े और प्रमुख बाज़ारों में से एक हैं। डीज़ल गाड़ियों पर प्रतिबंध ने न सिर्फ टोयोटा को बल्कि कई अन्‍य कार निर्माता कंपनियों को भी सीधे तौर पर नुकसान पहुंचाया है।

होंडा हर रोज़ तकरीबन 400 डीज़ल इंजन बनाती है लेकिन अभी कंपनी फिलहाल 150 डीज़ल इंजन ही हर रोज़ बना रही है।

सोर्स - टाइम्‍स ऑफ इंडिया

Read more on #toyota
English summary
The ban on diesel vehicles in Delhi that are over 2000cc has only caused problems for automakers and Toyota has definitely taken a big hit. The Japanese carmaker has put fresh investments on hold till the company reviews the status of the diesel ban.
Please Wait while comments are loading...

Latest Photos